क्लोजिंग बेल: सेंसेक्स 652 अंक, निफ्टी 17,800 के नीचे बंद हुआ

August 19th, 2022

हाईलाइट

  • सेंसेक्स 651.85 अंक गिरकर 59,646.15 के स्तर पर बंद हुआ
  • निफ्टी 198.05 अंक की गिरावट के साथ 17,758.45 पर बंद हुआ

डिजिटल डेस्क, मुंबई। देश का शेयर बाजार कारोबारी सप्ताह के पांचवे और आखिरी दिन (19 अगस्त 2022, शुक्रवार) गिरावट के साथ बंद हुआ। इस दौरान सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ही लाल निशान पर रहे। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (BSE) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 651.85 अंक यानी कि 1.08% गिरकर 59,646.15 के स्तर पर बंद हुआ।

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी ने लगातार आठ सत्रों में बढ़त के पश्चात ऊंचे स्तरों से लाभ ले लेने की प्रवृति दिखाई। निफ्टी तेजी के साथ खुला एवं 17992.20 का उच्चतम स्तर छुआ परंतु यह बढ़त बनी नहीं  रह पायी, इसने दिन के मध्य 17710.25 का निचला स्तर बना बनाया तथा अंत में 198.05 अंक यानी कि 1.10% की गिरावट के साथ 17,758.45 के स्तर पर बंद हुआ।

जबकि बैंक निफ्टी 720 अंकों की गिरावट के साथ 38985.95 पर रहा। अगस्त का निफ्टी पुट कॉल रेश्यो 0.71 आ गया जो मंदड़ियों के आक्रमण तथा सक्रियता को दर्शाता है। क्षेत्र विशेष में निफ्टी आईटी को छोड़कर शेष सभी सूचकांक लाल रंग में रहे जिनमें निफ्टी ऑटो, मेटल, बैंकिंग में सबसे अधिक गिरावट रही। 

निफ्टी के शेयरों में सर्वाधिक बढ़त अदानी पोर्ट, एलटी, इंफी तथा आयशर मोटर में रही जबकि इंडसइंड बैंक, बजाजफिनसर्व, टाटा कंज्यूम एवं अपोलो हॉस्पिटल में सबसे अधिक गिरावट रही। तकनीकी आधार पर निफ्टी ने दैनिक टॉप प्रारूप पर एक बेयरिश इंगल्फिंग कैंडल बनाया है जो मंदी का संकेत है। निफ्टी ने 21 एचएमए के नीचे बंदी दी है परंतु 50 एचएमए पर सपोर्ट लिया है, इस स्तर को तोड़ने पर मंदी गहरा सकती है।

निफ्टी 18000 के मनोविज्ञानिक स्तर पर अवरोध का सामना कर रहा है तथा ऊंचे स्तरों पर बिकवाली दिखा रहा है। निफ्टी के ओपन इंटरेस्ट डाटा में, कॉल में सर्वाधिक ओपन इंटरेस्ट 18000 पर है जबकि पुट में 17500 ,फिर 17400 पर है। मोमेंटम इंडिकेटर एमएसीडी तथा स्टोकिस्टिक आवरली समयावधि में नकारात्मक क्रॉसओवर के साथ ट्रेड कर रहें हैं जो मंदी का सूचक है। निफ्टी का सपोर्ट 17600 पर स्थांतरित हो गया है,18000 एक तात्कालिक अवरोध है।

बैंक निफ्टी का सपोर्ट 38500 तथा अवरोध 40000 पर है। कुलमिला कर निफ्टी ने एक बड़ा लाल कैंडल बनाया है जो आने वाले सत्रों में लाभ ले लेने की प्रवृति बनी रहने का संकेत है। 17600 निफ्टी टूटने के पश्चात 17300 का स्तर आ सकता है। मार्केट में आज अचानक बड़ी बिकवाली दिखी है तथा बुल इस मंदी का प्रतिकार करने में सफल नही रहे जो चिंता का विषय है। काफी बढ़ चुके  शेयरों में आंशिक लाभ ले लेना चाहिए। ट्रेलिंग स्टॉप लॉस अवश्य रखें।

पलक कोठारी
सीनियर टेक्निकल एनालिस्ट
चॉइस ब्रोकिंग

Source: Choice India