दैनिक भास्कर हिंदी: कोरोना की मार SpiceJet पर, अपने 92 प्रतिशत कर्मचारियों को अप्रैल का 'आंशिक' वेतन देगी एयरलाइन

May 1st, 2020

हाईलाइट

  • स्पाइसजेट अपने 92 प्रतिशत कर्मचारियों को अप्रैल महीने में आंशिक वेतन देगी
  • स्पाइसजेट ने कहा कि किसी कर्मचारी को नौकरी से नहीं निकाला जाएगा
  • कर्मचारियों के काम के घंटों के हिसाब से उन्हें भुगतान किया जाएगा

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। लॉकडाउन की वजह से स्पाइसजेट अपने 92 प्रतिशत कर्मचारियों को अप्रैल महीने में आंशिक वेतन देगी। एयरलाइन ने कहा कि कंपनी पिछले एक महीने से अधिक समय से उड़ानों का परिचालन नहीं कर पा रही है। ऐसे में उसकी आमदनी बंद है। इसलिए वह कर्मचारियों को अप्रैल माह का आंशिक वेतन देगी। स्पाइसजेट ने कहा कि किसी कर्मचारी को नौकरी से नहीं निकाला जाएगा। 

स्पाइसजेट ने बयान में कहा कि कंपनी ने जो रूपरेखा तय की है। इसके तहत कर्मचारियों के काम के घंटों के हिसाब से उन्हें भुगतान किया जाएगा। इसके लिए एक निश्चित सीमा तय की गई है।'

एयरलाइन ने बुधवार को अपने पायलटों से कहा था कि उन्हें अप्रैल और मई का वेतन नहीं दिया जाएगा। वहीं कार्गो उड़ानों का परिचालन करने वाले पायलटों को उड़ान के घंटों के हिसाब से भुगतान किया जाएगा। 

गौरतलब है कि कोरोना वायरस की वजह से भारत में 25 मार्च से लॉकडाउन लागू है। इस दौरान सभी कमर्शियल फ्लाइट बंद हैं। हालांकि, कार्गो उड़ान, चिकित्सा आपूर्ति और अन्य जरूरतों से संबंधित उड़ानों तथा विशेष उड़ानों के परिचालन की अनुमति है। 

उधर, सार्वजनिक क्षेत्र की विमानन कंपनी एयर इंडिया ने अपने कर्मचारियों के वेतन में 10 प्रतिशत की कटौती की है। एयरएशिया ने अपने वरिष्ठ कर्मचारियों के वेतन में 20 प्रतिशत की कटौती की है। गोएयर ने अपने अधिकांश कर्मचारियों को बिना वेतन अवकाश पर भेज दिया है। विस्तार ने अप्रैल में अपने वरिष्ठ कर्मचारियों को छह दिन के लिए बिना वेतन अवकाश पर भेजा है।

खबरें और भी हैं...