दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर के ताजुद्दीन बाबा दरगाह के लिए 50 और भीमाशंकर मंदिर के लिए 148.37 करोड़ मंजूर 

June 6th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। नागपुर के बड़ा ताजबाग स्थित ताजुद्दीन बाबा दरगाह के विकास काम के लिए 50 करोड़ रुपए की निधि मंजूर की गई है। प्रदेश के वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने यह जानकारी दी। मुनगंटीवार ने कहा कि दरगाह के विकास के लिए मंजूर प्रारूप के तहत शुरू काम को पूरा करने के लिए यह राशि मंजूर की गई है। गुरुवार को राज्य अतिथिगृह सह्याद्री में इस संबंध में समीक्षा बैठक हुई। मुनगंटीवार ने कहा कि दरगाह के विकास और सौंदर्यीकरण के लिए 132.49 करोड़ रुपए के प्रारूप को पहले ही मंजूर किया गया है। इसमें से 82.39 करोड़ रुपए की निधि वितरित की गई है। इसमें से 67.58 करोड़ रुपए विकास कामों पर खर्च हुए हैं। 17.71 करोड़ रुपए की निधि उपलब्ध कराई गई है। प्रारूप के तहत शुरू किए गए बाकी के कामों के लिए 50 करोड़ रुपए की जरूरत थी। इसको बैठक में मंजूरी दे दी गई। दरगाह में कम्पाउंड वॉल, सड़कों के विकास, दरगाह परिसर की दुकानों का शॉपिंग कॉम्पलेक्स में पुनर्वसन, शौचालय की व्यवस्था और कचरा प्रबंधन जैसे कार्य किए जाने हैं। 

वेरूल घृष्णेश्वर मंदिर के वैभव बढ़ाने के लिए काम करें 

वित्तमंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि बारह ज्योतिर्लिंग में से एक औरंगाबाद के वेरूल घृष्णेश्वर मंदिर के विकास प्रारूप के तहत ऐसा काम करें जिससे मंदिर के वास्तु शिल्प के वैभव की रौनक और बढ़ सके। गुरुवार को राज्य अतिथिगृह में सह्याद्री में घृष्णेश्वर विकास प्रारूप के कामों के बारे में समीक्षा बैठक हुई। मुनगंटीवार ने कहा कि घृष्णेश्वर मंदिर व परिसर विकास के लिए 112.41 करोड़ रुपए का विकास प्रारूप मंजूर किया गया है। साल भर में काफी श्रद्धालु व पर्यटक वेरूल लेणी और ज्योतिर्लिंग मंदिर में आते हैं। इसको ध्यान में रखते हुए विकास प्रारूप तय किया गया है। विकास प्रारूप में स्वागत द्वार, पार्किंग का प्रबंध, कम्पाउंड वॉल, बेल-फुलों की दुकान, डिजिटल लॉकर रूम, बारह ज्योतिर्लिंग की प्रतिकृति, होम कुंड, त्रिशूल डमरू की प्रतिकृति, सुंदर दीपमाल, भव्य नंदी, बेल फुलों से खाद बनाने की परियोजना को प्रारूप में शामिल किया गया है। इसके अलावा दर्शन लाइन में ओम नमः शिवाय का जप सुनाई देने के लिए व्यवस्था की जाएगी। वित्त मंत्री ने कहा कि प्रारूप के तहत जो काम पूरे होने वाले हैं उसको श्रावण महीने के पहले पूरा कर लिया जाए। 

भीमाशंकर मंदिर के लिए 148.37 करोड़ रुपए की मंजूरी 

क्षेत्र भीमाशंकर मंदिर और परिसर के विकास के लिए 148.37 करोड़ रुपए के प्रारूप को मंजूर किया गया है। राज्य के वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने यह जानकारी दी। मुनगंटीवार ने कहा कि विकास प्रारूप के कामों को दर्जेदार तरीके और गति से पूरा किया जाए।