नागपुर: गणतंत्र दिवस पर नागपुर जेल से छूटेंगे 33 कैदी

January 24th, 2023

डिजिटल डेस्क, नागपुर. भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर मनाए जा रहे ‘आजादी का अमृत महोत्सव' के तहत गणतंत्र दिवस पर 26 जनवरी को नागपुर की सेंट्रल जेल से 33 कैदियों को छोड़ा जाएगा। इन्हें विशेष छूट के तहत जेल से छोड़ा जाएगा। जेल अधीक्षक अनूप कुमरे ने इसकी पुष्टि की। सूत्रों के अनुसार नागपुर की सेट्रल जेल से 35 कैदियों को गणतंत्र दिवस के दिन रिहाई मिलने वाली थी, लेकिन दो कैदियों को जेल निकासी के तहत पहले ही रिहाई मिल गई। अब गणतंत्र दिवस के दिन जेल से 33 कैदियों की रिहाई होगी। कैदियों की रिहाई से पहले जेल उनके और उनके परिजनों के लिए समाज में उनके पुनर्वास की सुविधा के लिए परामर्श सत्र आयोजित करेगा।

यह है उद्देश्य

केंद्र सरकार ने कैदियों की कुछ श्रेणियों को विशेष छूट देने और उन्हें तीन चरणों में रिहा करने का फैसला किया है, जिसमें 15 अगस्त 2022 (स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ), 26 जनवरी, 2023 (गणतंत्र दिवस) और 15 अगस्त को 2023 के तहत ‘आजादी का अमृत महोत्सव' का समावेश है। जेल अधिकारियों के अनुसार, "छूट योजना का उद्देश्य जेल अनुशासन और कैदियों के अच्छे आचरण को सुनिश्चित करना और प्रोत्साहन के रूप में जेल से जल्दी रिहाई की संभावना के साथ सीखने और बेहतर कार्य संस्कृति को प्रोत्साहित करना है। सेंट्रल जेल में इस समय करीब 3150 कैदी बंद हैं, जिसमें लगभग 115 महिलाएं हैं और बाकी पुरुष कैदी हैं। जिन कैदियों को मौत या आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है या दुष्कर्म, आतंक के आरोप, हत्या और मनी लॉन्ड्रिंग के मामलों में दोषी इस छूट के पात्र नहीं होंगे। विस्फोटक अधिनियम, राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम, आधिकारिक गोपनीयता अधिनियम, अपहरण-रोधी अधिनियम के साथ-साथ मानव तस्करी के लिए दोषी ठहराए गए लोगों पर भी छूट के लिए विचार नहीं किया जाएगा।