दैनिक भास्कर हिंदी: एकतरफा प्यार में पागल आशिक ने की प्रेमिका की मां की हत्या, गिरफ्तार

October 22nd, 2017

डिजिटल डेस्क, कोतमा।  बिजुरी थाना के नंदगांव में दीपावली की रात पटाखों के शोर के बीच सिरफिरे प्रेमी ने प्रेमिका की मां की कुल्हाड़ी से हत्या कर दी थी। दीपावली की रात स्वास्थ्य कार्यकर्ता की हत्या से बिजुरी नगर में सनसनी फैल गई थी। मृतिका की पुत्री ने बिजुरी थाने में आरोपी के खिलाफ शिकायत की। हत्या के बाद से ही आरोपी शालू उर्फ गुलाम कादिर फरार हो गया था। इस घटना के बाद से ही एसपी सुनील कुमार जैन ने कोतमा एसडीओपी विजय प्रताप सिंह और बिजुरी थाना प्रभारी महेन्द्र सिंह चौहान को आवश्यक दिशा निर्देश देने के साथ ही आरोपी की गिरफ्तारी के लिए निर्देशित भी किया। एसडीओपी और टीआई की टीम घटना वाली रात आरोपी की गिरफ्तारी के लिए लगातार दबिश देते रहे और 12 घंटे के अंदर ही शहडोल जिले के कोतवाली अंतर्गत मझौली ग्राम से आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। 

बदला लेने कर दी हत्या 

आरोपी गुलाम कादिर मृतिका की नाबालिग पुत्री से एकतरफा प्रेम करता था। जून 2017 में जब वह मृतिका की पुत्री को परेशान करने लगा और छेडख़ानी की जाने लगी तब पुलिस में आरोपी के विरूद्ध शिकायत की गई। मृतिका की पुत्री की शिकायत के आधार पर धारा 354, एससी एसटी एक्ट के साथ लैंगिग क्राइम से बालकों के संरक्षण की धाराओं के तहत मामला दर्ज करते हुए आरोपी को जेल भेज दिया गया था। 15 अक्टूबर को जमानत पर छूट कर आए गुलाम कादिर ने बदला लेने की नीयत से एएनएम पुष्पा केरकेट्टा की हत्या कर दी थी। 

बेटी थी निशाना, मां को बनाया शिकार 

19 अक्टूबर की शाम गुलाम कादिर मृतिका की पुत्री की हत्या की नीयत से  उसके घर पहुंचा था। जहां वह नाबालिग पुत्री को धमकी और अपशब्दों के साथ ही हाथापाई भी कर रहा था। तभी मृतिका पुष्पा केरकेट्टा ने बीच-बचाव किया, मौका देखकर नाबालिग पुत्री पड़ोसियों से मदद मांगने के लिए भाग खड़ी हुई। तभी कमरे में रखे कुल्हाड़ी से गुलाम कादिर ने मृतिका के शरीर पर ताबड़तोड़ 9 प्रहार किए, जिसमें उसकी मौके पर ही मौत हो गई। 

मोबाइल पर दी धमकी 

घटना के बाद गुलाम कादिर मृतिका का मोबाइल भी अपने साथ ले गया था । घटना के ठीक 15 मिनट बाद ही मृतिका के मोबाइल से उसकी पुत्री को फोन कर धमकी दी कि यदि मेरे विरूद्ध शिकायत की तो तुम्हारी मां के बाद  तुम्हारा भी नंबर आएगा।  पुलिस ने 20 अक्टूबर को आरोपी गुलाम कादिर को गिरफ्तार कर लिया तथा हत्या में प्रयोग की गई कुल्हाड़ी को भी रक्तरंजित  अवस्था में जब्त कर लिया गया। पुलिस ने धारा 302, 452, 380 तथा एससीएसटी एक्ट के तहत न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भ्ेाज दिया गया।