• Dainik Bhaskar Hindi
  • State
  • Confusion and fear can be removed and the service performed by doctors and staff can never be forgotten (Tales of Happiness) by visiting the Covid Care Center!

दैनिक भास्कर हिंदी: भ्रम और भय दूर हुआ कोविड केयर सेंटर आकर डॉक्टर और स्टॉफ द्वारा की गई सेवा को कभी भुलाया नहीं जा सकता (खुशियों की दास्तां)

May 1st, 2021

डिजिटल डेस्क | सीहोर जिले के बुधनी स्थित कोविड केयर सेंटर से आज अशुतोष सेन और कृष्ण कुमार मालवीय को छुट्टी मिल गई। दोनो ही खुश हैं कि स्वस्थ्य होकर वापस अपने घर जा रहे हैं। कोविड केयर आते समय मन में ढेर सारी आशंकाएं और भय था लेकिन जाते समय दोंनो ने कोविड केयर सेंटर के डॉक्टर और पूरे स्टाफ को हृदय से धन्यवाद दिया। श्री सेन और श्री मालवीय ने बताया कि वर्तमान में दिनरात कोरोना का कहर जैसी रही खबरों को सुनकर और पढ़कर कोरोना वायरस को लेकर मन कई आशंकाएं और भय था।

इन दोनों ने बताया कि जब उन्हें पता चला कि वे करोना पॉजीटिव हैं, तो डर गये थे। कुछ समय के लिए ऐसे लगा कि मानो पैरों तले से जमीन खिसक गई हो। लेकिन कोविड केयर सेंटर में आकर सभी भ्रम और भय दूर हो गया। यहां आकर पता चला कि समय रहते अस्पताल पहुंच जाएं तो कोरोना भी कुछ नहीं कर सकता। उन्होंने बुधनी कोविड केयर सेंटर के डॉक्टर और स्टॉफ की प्रशंसा करते हुए बताया कि इलाज से लेकर भोजन और देखभाल बहुत अच्छे ढंग से की जाती है। यहां हमें किसी तरह कोई कमी या शिकायत नहीं हुई।

समय पर चैकअप, समय पर दवाएं और समय पर भोजन एवं नास्ता। यहां सफाई का बहुत ध्यान रखा जाता है। रोज परिसर को सैनेटाइज किया जाता है।

इन सबसे महत्वपूर्ण यह है कि कोविड केयर सेंटर के डॉक्टर और स्टॉफ का व्यवहार बहुत अच्छा है। ये यहां भर्ती मरीजों का बहुत ध्यान रखते हैं। जरूरत के समय बुलाने पर ड़यूटी स्टॉफ तुरंत आ जाता है।

हमें यहां के डॉक्टर और स्टॉफ हमेशा याद रहेंगे। उनके द्वारा की गई सेवा को कभी भुलाया नहीं जा सकता।