दैनिक भास्कर हिंदी: सागर: एसडीएम दफ्तर के बाहर कुख्यात बदमाश को गोलियों से भूना

August 6th, 2019

डिजिटल डेस्क, सागर। संभागीय मुख्यालय सागर के एसडीएम दफ्तर के सामने कुख्यात बदमाश की सोमवार की शाम कुछ समय दो-तीन अज्ञात बदमाशों ने सरेआम तड़ातड़ गोलियां चलाकर हत्या कर दी। यह वारदात उस समय हुई जब कुख्यात बदमाश एसडीएम दफ्तर में हाजिरी लगाने के बाद दरवाजे से निकल रहा था। इस घटना से तहसीली परिसर में सनसनी फैल गई और भारी भीड़ जमा हो गई।
 

कई संगीन मामले हैं थे मृतक पर दर्ज
हत्या सहित 2 दर्जन अपराधों में आरोपी गोलू उर्फ संदीप दबाड़े सोमवार की शाम करीब 5 बजे एसडीएम कार्यालय से हाजरी कर लौट रहा था तभी दो-तीन आरोपियों ने दनादन गोलियां दाग दीं। गोली मारने के बाद आरोपी लोगों में दहशत फैलाने हवा में गोलियां दागते हुये फरार हो गये। खून से लथ-पथ गोलू की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। एसडीएम और तहसील कार्यालय जैसी सार्वजनिक क्षेत्र व भीड़भाड़ वाली जगह पर हत्या होने पर शहर की सुरक्षा के दावों पर सवालियां निशान लगना लाजमी है। गोलू वर्ष 2018 मे चर्चित रत्तू यादव हत्याकांड़ में यह शामिल था। लंबे आपराधिक रिकार्डधारी गोलू की हत्या के पीछे कोई पुरानी रंजिश या वर्चश्व की लड़ाई को अहम वजह माना जा रहा है। पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर मुआयना किया और शव को पोस्टमार्टम के लिये भेजा गया है।
 

यह बताया जा रहा मामला

इस फायरिंग से तहसीली परिसर में अफरा-तफरी जैसा माहौल निर्मित हो गया। जब अचानक गोलियों के चलने की आवाज लोगों ने सुनी। थोड़ी देर बाद आरोपी हवा में गोलियां चलाते हुये लोगों के बीच से भाग खड़े हुये।  कुख्यात बदमाश गोलू जिला बदर की कार्यवाही के बाद एसडीएम दफ्तर में हाजरी देने पहुंचा था। रजिस्टर में हाजरी देने के बाद लौट रहे गोलू पर एक के बाद एक 3-4 गोलियां दाग दी गई। इससे पहले की लोग कुछ समझ पाते एसडीएम कक्ष के बाहर सीढिय़ों के पास संदीप दबाड़े जमीन पर आ गिरा। जहां पर उसकी मौत हो गई। बताया जाता है कि संदीप दबाड़े के ऊपर तकरीबन हत्या सहित 2 दर्जन मामले दर्ज थे। वर्ष 2018 में विश्वविद्यालय की घाटी में वर्चश्व की लड़ाई को लेकर रत्तू यादव की हत्या कर दी गई थी। इस मामले में सदर क्षेत्र का निवासी गोलू उर्फ संदीप दबाड़े की भूमिका के चलते आरोपी बनाया गया था। गोलू की हत्या के बाद लोग अनुमान लगा रहे है कि या तो लंबे आपराधिक रिकार्ड के कारण कोई रंजिश की घटना हो सकती है या वर्चश्व की लड़ाई के चलते गैंगवार जैसी कोई घटना हो सकती है। वहीं लोगों में चर्चा है कि गोलू की हत्या में बाहर से बुलाये गये शॉर्प शूटर शामिल हो सकते है।  हालांकि पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति का मुआयना किया। सागर जिला पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने भी मौके पर पहुंचकर घटना को गंभीरता से लिया। पुलिस द्वारा घटनास्थल पर कार्यवाही के बाद शव को पोस्र्टमार्टम के लिये पीएम हाऊस भेज दिया।
 

लग्जरी कार से आया था हाजिरी लगाने

कुख्यात बदमाश गोलू दबाड़े सोमवार को एसडीएम दफ्तर में हाजिरी लगाने के लिए अपने साथियों के साथ काले रंग की लग्जरी कार में आया था। गोलीबारी घटना के बाद कार को पुलिस ने अपनी अभिरक्षा में ले लिया है।
 

इनका कहना है

जिला बदर की कार्यवाही को लेकर हाजरी देने एसडीएम कार्यालय आया था।  गोलू उर्फ संदीप दबाड़े रजिस्टर में साइन कर बाहर निकला दो बदमाशों ने इसकी गोली मारकर हत्या कर दी। यहां पर एसडीएम कार्यालय के बाहर व अन्य स्थानों पर सीसीटीव्ही कैमरा लगे है। हमें घटना स्थल पर चार खोखे मिले है और तलाश है चार गोलियाँ इसको लगी होगीं। पीएम में सारी बात सामने आएगी। बहुत जल्द ही यह मामला क्लियर हो जायेगा। घटना के समय एसडीएम साहब ऑफिस में नहीं थे। अमित सांघी पुलिस अधीक्षक सागर।