दैनिक भास्कर हिंदी: चीतल का शिकार, आरोपी गिरफ्तार, खाल निकालते रंगे हाथ पकड़ा

July 2nd, 2018

डिजिटल डेस्क, सीधी। जिले के वन परिक्षेत्र चुरहट अंतर्गत ग्राम खैरा के जंगल में एक चीतल का शिकार कर उसकी खाल निकाल रहे आरोपी को वन अमले द्वारा गिरफ्तार किया गया है। वनकर्मियों की धरपकड़ के दौरान चार आरोपी फरार हो गए हैं। विभाग द्वारा चीतल के शव को जब्त कर आरोपियों के विरूद्ध मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

मिली जानकारी के अनुसार वन परिक्षेत्र चुरहट के कठौतहा बृत्त अंतर्गत हनुमानगढ़ बीट के खैरा गांव में सरजू कोल पिता शिवलाल कोल निवासी खैरा अपने साथी रामप्यारे केवट पिता रामबहोरे केवट, बजरंग कोल पिता पंगुल कोल एवं शंकर सिंह पिता चिंतामणि सिंह बरगाही व बिलुआ कोल पिता विश्वनाथ कोल सभी निवासी खैरा साथ मिलकर  जंगल गए जहां जंगल में बिचरण कर रहे हिरण को मारने के लिये घेरा। चीतल भागकर सोन नदी तट पर पहुंच गया और पानी में गिर गया। जहां आरोपियों ने उसे पानी में घेरकर मार गिराया। इसके बाद जंगल में स्थित कठेही नाला के समीप मृत चीतल की खाल निकालने लगे। जिसकी जानकारी गांव के किसी व्यक्ति को हुई तो उसने घटना की सूचना वन विभाग को दी।

सूचना मिलते ही वन अमला ने जंगल पहुंचकर सरजू कोल को रंगे हाथ चीतल की खाल निकालते पकड़ लिया है उसकी निशान देही पर शिकार के औजार के साथ मांस व खाल जब्त किया गया है। वनकर्मियों द्वारा धरपकड़ किए जाने के दौरान चार आरोपी फरार हो गए हैं। बताया गया है कि गिरफ्तार आरोपी से विभाग के अधिकारियों द्वारा जब पूछतांछ की गई तो उसके बयान के अनुसार चीतल का शिकार गांव के सरपंच के पिता के कहने पर किया गया है।

पानी में लाठियों से पीटकर मारा
बताया गया है कि जंगल से जान बचाकर भाग रहा चीतल सोन नदी के तट पर पहुंच गया जहां शिकारियों द्वारा घेरने पर चीतल पानी में घुस गया। जिस पर शिकारियों ने लाठियों से पीटकर उसे मार दिया। मारने के बाद आरोपी उसे उठाकर नदी से 150 मीटर दूर कठेली नाला के पास बीहड़ में ले गए जहां उसकी खाल निकाल रहे थे तभी वन अमले की टीम पहुंच गई। वनकर्मियों को देख चार आरोपी मौके से भाग निकले। जबकि एक आरोपी पकड़ में आ गया।

इनका कहना है 
आरोपी के कब्जे से चीतल की मांस व खाल भी जब्त कर ली गई है। आरोपी के विरूद्ध मामला दर्ज कर उससे पूछतांछ के आधार पर अन्य आरोपी भी पकड़े जायेगें।
बृजेन्द्र झा, डीएफओ, सीधी।