comScore

पन्ना टाईगर रिजर्व में हथिनी मोहनकली ने दिया 90 किलोग्राम के मादा बच्चे को जन्म   

पन्ना टाईगर रिजर्व में हथिनी मोहनकली ने दिया 90 किलोग्राम के मादा बच्चे को जन्म   

 डिजिटल डेस्क   पन्ना। पन्ना टाईगर रिजर्व की हथिनी मोहनकली ने एक स्वास्थ्य मादा बच्चे को जन्म दिया है, इसके पूर्व इस हथिनी ने पन्ना टाईगर रिजर्व मे वन्या नाम के मादा बच्चे को जन्म दिया था जो अब पांच वर्ष की है। टाईगर रिजर्व मे बाघो के कुनबे के साथ हाथियों की भी कुनुबा बढ रहा है। इस मादा बच्चे के जन्म होने के बाद हाथियों की संख्या 15 हो गई है जो पन्ना टाईगर रिजर्व के लिये बेहद खुशी की बात है पन्ना टाईगर रिजर्व के वन्यप्राणी चिकित्सक डॉ.संजीव कुमार गुप्ता ने जानकारी देते हुये बताया है कि हथिनी मोहनकली ने 27 अप्रेल को मध्यरात्रि टाईगर रिजर्व के परिक्षेत्र हिनौता स्थित हाथी कैम्प मे मादा शिशु को जन्म दिया। जन्म हुये इस मादा शिशु का वजन 90 किलोग्राम था तथा हथिनी व बच्चा दोनो पूर्ण रूप से स्वास्थ्य है। मादा शिशु अपनी मां का दूध पीने के  साथसाथ कुनबे मे मौजूद नन्हे सदस्यो के अठखेलियां भी करने लगी है। गौरतलब है कि हथिनी मोहनकली जब 4-5 माह की थी उस समय अपनी मां गंगावती के साथ सीधी से पन्ना माह सिंतबर 2001 मे आई थी। हथिनी गंगावती के साथ हाथी रामबहादुर को भी यहां लाया गया था। तभी से टाईगर रिर्जव के हाथियों के कुनबे मे लगातार वृद्धि हो रही है। 
हथिनी मोहनकली की हो रही खातिरदारी
मादा शिशु को जन्म देने वाली मोहनकली की इन दिनो जमकर खातिरदारी हो रही है। टाईगर रिर्जव के कर्मचारी हथिनी को गुड़, दलिया, गन्ना, शुद्ध घी से निर्मित लड्डु खिलाई जा रहे है। 
सोमवार को पैदा हुई इसलिये सोमवती होगा नाम 
टाईगर रिजर्व की हथनी मोहनकली ने नवजात शिशु का नामकरण भी हो चुका है। फील्ड डायरेक्टर के.एस.भदौरिया ने बताया कि उसका जन्म सोमवार को हुआ इसलिये उसका नाम सोमवती रखा गया है। 
इनका कहना है- 
पन्ना टाईगर रिजर्व के लिये यह बहुत बड़ी उपलब्धी है। इसका पूरा श्रेय हम पन्नावासियों को देते है। कोरोना वायरस के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुये टाईगर रिजर्व मे पर्यटको का प्रवेश पूर्ण रूप से बंद है। हथिनी व उसके शिशु की सतत देखरेख व निगरानी के लिये स्टाफ की तैनाती की गई है। 
के.एस.भदौरिया
फील्ड डायरेक्टर पन्ना टाईगर रिजर्व


 

कमेंट करें
tBQ2a