दैनिक भास्कर हिंदी: रेलवे ट्रैक पर मिला महिला का शव, पति ने सल्फास खिलाकर उतारा था मौत के घाट

July 8th, 2019

डिजिटल डेस्क, छिंदवाड़ा/पांढुर्ना। पांढुर्ना शहर के संत रविदास वार्ड से बीते एक महीने से लापता सीमा पति किसना कामड़े का 3 जुलाई को बैतूल के शाहपुरा क्षेत्र के रेलवे ट्रैक के किनारे शव मिलने से सनसनी फैल गई थी। शव की हालत देख साफ लग रहा था कि महिला की हत्या की गई। जांच के बाद पुलिस ने खुलासा किया कि महिला की हत्या किसी और ने नहीं बल्कि उसके पति ने सल्फास खिलाकर की है। हत्या को आत्म हत्या का रूप देने के लिये पत्नी के शव को रेलवे ट्रेक पर फेंक दिया था।

ऐसे हुआ खुलासा

शव की संदिग्ध हालत को देखते हुए बैतूल पुलिस ने हत्या की आशंका जताते हुए इस मामले में सीमा के पति किसना सहित दो अन्य लोगों से पूछताछ की थी। पूछताछ के बाद किसना ने पत्नी सीमा को जबरन सल्फास की गोली खिलाकर हत्या करने की बात कबूल लीं। वहीं सघन पूछताछ के बाद हत्या से लेकर शव को ठिकाने लगाने तक का पूरा घटनाक्रम भी पुलिस को बताया। पुलिस ने पति किसना के खिलाफ धारा 302 आईपीसी और हत्या के साक्ष्य छिपाने के लिए पति किसना, उसके देवर संजय के खिलाफ धारा 201, 34 आईपीसी का मामला पंजीबद्ध किया है।
 

मोबाइल नंबरों से परिजनों तक पहुंची पुलिस

पति किसना ने सीमा को जबरन सल्फास की गोलियां खिलाकर मौत के घाट उतारा था। यह मौत आत्महत्या लगे इसलिए उसने सल्फास खिलाकर मौत को अंजाम दिया। मौत के बाद देर रात को ही अपने भाई संजय के साथ अपने दोस्त चुन्नीलाल के वाहन क्रमांक एमएच 31 सीआर 3343 से शव को शाहपुरा थानांतर्गत भौरा गांव के समीप गरदारेती के पुल से नीचे रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया।  मौत को आत्महत्या दिखाने के लिए ऊपर से सल्फास की गोलियां भी फेंक दी, पर पूरे घटनाक्रम में वह सीमा के हथेली पर लिखे दो मोबाइल नंबरों को मिटा नही पाया। पीएम रिपोर्ट के दौरान हथेली पर पेन से लिखे मिले दोनों मोबाइल नंबरों के आधार पर पुलिस ने जांच शुरू की। मोबाइल नंबरों के आधार पर पुलिस परिजनों तक पहुंच गई, जिसके बाद पति किसना ने शाहपुरा थाने पहुंचकर सीमा की शव की शिनाख्त भी की। हत्या के शक में जब पुलिस ने कड़ी पूछताछ की, तो मामला कुछ और निकला। शव के शिनाख्त के बाद पुलिस ने किसना को छोड़ दिया, बाद में शक के आधार पर पूछताछ के लिए गिरफ्तार किया था।

मोबाइल लोकेशन के आधार पर खोला राज

इस संबंध में पुलिस ने बताया कि पहले तो किसना ने शाहपुरा थाने पहुंचकर शव की शिनाख्त अपनी पत्नी सीमा के रूप में कर लीं। इसके बाद पुलिस ने शक जताते हुए किसना के मोबाइल लोकेशन को ट्रेस करना शुरू कर दिया। जिससे यह बात सामने आई कि सीमा के गायब होने और सुबह लाश मिलने के दौरान किसना का मोबाइल पांढुर्ना से शाहपुरा के बीच घूमता रहा। इसके आधार पर पुलिस ने रविवार को किसना और उसके अन्य दो साथियों को जांच के लिए गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के बाद धीरे-धीरे किसना ने मौत के सारे राज खोले और पूरा घटनाक्रम भी बता दिया। हत्या का राज छिपाने किसना ने पांढुर्ना पुलिस थाने में अपनी पत्नी सीमा के गुमशुदगी की झूठी रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी। जिसमें बताया था कि सीमा बीते 20 जून से लापता है और फोन लगाने पर कॉल नही उठाती। जबकि सीमा ने 2 जुलाई को ही पुलिस थाने पहुंचकर बताया था कि पति किसना के शराब पीकर आने और मारपीट करने के चलते वह नागपुर में रहकर काम रही है। इससे नाराज होकर किसना ने सीमा की हत्या का खेल रचा।