दैनिक भास्कर हिंदी: यात्री बस में सीट के विवाद में युवक की हत्या, नाराज परिजनों ने अस्पताल चौराहे पर लगाया जाम

June 27th, 2018

डिजिटल डेस्क, सीधी। रीवा से सीधी आ रही यात्री बस में सीट केा लेकर हुए विवाद में एक युवक की हत्या कर दी गई है। घटना से नाराज मृतक के परिजन अस्पताल चौराहे में जाम लगाकर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़ गए। पुलिस की समझाइश के घंटे भर बाद नाराज परिजनों के मानने के बाद शव का परीक्षण हुआ। घटना में पुलिस दो संदेहियों को पकड़कर पूछताछ कर रही है। 

मिली जानकारी के अनुसार कोतवाली अंतर्गत ग्राम बमुरी निवासी अनुज उर्फ अंशू साहू पिता राजकरण साहू उम्र 27 वर्ष जो मुंबई में किसी कंपनी में मजदूरी करता था। बीती  रात्रि 11 बजे रीवा से सीधी आ रही पुष्पराज बस सर्विस में सीट आरक्षित कर अपने भाई मुन्ना साहू के साथ गांव जा रहा था। बताया गया है कि मृतक युवक अपने भाई के साथ जब बस में आरक्षित सीट पर बैठने के लिए गया तो वहां पहले से एक युवक बैठा हुआ था। जिससे सीट को लेकर कहासुनी व विवाद होने पर युवक द्वारा अपने साथियों को मोबाइल फोन लगाकर विवाद की जानकारी देते हुए जमोड़ी में मिलने के लिए कहा।

निर्धारित समय पर बस जब जमोड़ी स्थित तोरणद्वार पर पहुंची तो वहां पहले से मौजूद युवक के साथियों ने बस को रूकवा लिया। बस के रूकते ही चार युवक बस के अंदर पहुंचकर अंशू साहू को गालियां देते हुए मारपीट करने लगे। हल्ला गुहार होने पर बस में बैठे अन्य यात्री व चालक परिचालक द्वारा बीच बचाव करने पर आरोपी युवक बस से उतरकर भाग गए। मारपीट से पीड़ित युवक के सीने व पेट में गंभीर चोट आने से उसे रात में ही निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया है। जहां हालत में सुधार न होने की स्थिति में मंगलवार की सुबह 10 बजे पीड़ित युवक को नर्सिंग होम से जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। जिस पर उसके परिजनों ने उसे जिला अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया, जहां उपचार के दौरान पीड़ित युवक अनुज उर्फ अंशू साहू की दोपहर करीब 1.45 बजे मौत हो गई।

सड़क पर शव रखकर लगाया जाम
घायल युवक की उपचार के दौरान हुई मौत से उसके परिजन खासे नाराज हो गए और शव को अस्पताल के सामने चौराहे में सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। नाराज परिजन आरोपी युवकों की तत्काल गिरफ्तारी  की मांग करने लगे। घटना की सूचना मिलते ही कोतवाली टीआई, जमोड़ी चौकी प्रभारी सहित पुलिस का अमला मौके से पहुंच गया। नाराज परिजनों को समझाने का प्रयास किया गया, लेकिन वह मानने के लिए तैयार नहीं हो रहे थे। काफी समझाइश के बाद उनके मानने पर पुलिस द्वारा शव को पीएम के लिए मर्चुरी भवन भेजा गया। जहां शव परीक्षण के बाद लाश परिजनों को सौंप दी गई। इस दौरान मृतक युवक के परिजनों समेत लोगों की काफी भीड़ जमा रही।

दो युवकों को पुलिस ने पकड़ा
घटना के बाद परिजनों के चक्काजाम से हरकत में आई पुलिस द्वारा दो युवकों को पुलिस ने पकड़कर उनसे पूछताछ कर रही है। मारपीट की घटना में चार युवकों के शामिल होने का कथन बयान मृतक युवक जिला अस्पताल में भर्ती होने के दौरान पुलिस को दिया है, लेकिन आरोपी युवकों का नाम वह नहीं जानता था। चार में दो को पुलिस गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है। घटना में आरोपी युवकों के विरूद्ध पहले पुलिस द्वारा धारा 294, 323, 506, 34 के तहत मामला दर्ज किया था जिसमें अब 302 की धारा बढ़ा दी गई है। बहरहाल पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पूरी तरह से सक्रिय हो चुकी है।