comScore

झाबुआ: अंतर्राष्ट्रीय मित्रता दिवस का आयोजन 30 जुलाई को

July 25th, 2020 15:13 IST
झाबुआ: अंतर्राष्ट्रीय मित्रता दिवस का आयोजन 30 जुलाई को

डिजिटल डेस्क, झाबुआ। झाबुआ संयुक्त राष्ट्र के आह्वान पर 30 जुलाई को एवं कहीं कहीं अगस्त के प्रथम रविवार को अंतर्राष्ट्रीय मित्रता दिवस मनाया जाता है। इसका उद्देश्य व्यक्तियों, देशों और संस्कृतियों के बीच मित्रता एवं शांति प्रयासों को प्रेरित करना और समुदायों के बीच पुलों का निर्माण करना है। मध्य प्रदेश में राज्य आनंद संस्थान, अध्यात्म विभाग भी अंतर्राष्ट्रीय मित्रता दिवस के उद्देश्यों के महत्व एवं आवश्यकता को समर्थन देते हुए एवं अपने स्तर पर जन जागरूकता फैलाने के लिए प्रतिबद्ध है, इस को दृष्टिगत रखते हुए 30 जुलाई से 2 अगस्त 2020 तक किसी भी दिन संस्थान उत्प्रेरक के रूप में अपने आनंदकों का कोविड 19 से सम्बंधित सावधानियों का पूर्णतः पालन करते हुए स्वैच्छिक प्रयासों द्वारा जागरूकता फैलाने के लिये आह्वान करता है। भारतीय परिप्रेक्ष्य में मित्रता- जियें समस्त प्राणियों, प्रकृति और सृष्टि के लिए, अपने व्यवहार में शामिल करें, संवेदना, समानुभूति, ईमानदारी,परोपकारिता, करूणा, क्षमा, पारस्परिक समझ, भरोसा, सुखद साथ, एकत्व क्षमता, गलती करने में मित्र के समक्ष स्वीकारोक्ति की निर्भयता आदि, अंतर्राष्ट्रीय मित्रता दिवस को कोविड 19 के दौर में कैसे मनाएं, यद्यपि सभी आनंदक अपनी स्थानीय परिस्थितियों के आधार पर योजना बना सकते हैं फिर भी संस्थान द्वारा कुछ सुझाव दिए जा रहे हैं, मित्रों को फोन करें, वीडियों कॉल करें, ऐसे मित्र से जरूर बात करें जिससे आपने बहुत समय से बात नहीं की हो, ऑनलाईन एलयूमिनाई मीट आयोजित करें, आपस में विचार व अनुभव साझा करें, स्कूल, कॉलेज के फोटोज साझा करें, एक सूची बनाएं कि किस मित्र की कौन सी विशेषता आपको प्रभावित करती है और उन्हें बताएं, यदि ऑनलाइन क्लासरूम गतिविधियों के लिए विद्यार्थी उपलब्ध हैं तो उनके मध्य मित्रता विषय पर अनेकानेक गतिविधियां एवं प्रतियोगिताएं आयोजित कराई जा सकती, वृक्षों से, पक्षियों से, रंगों से, लेखनी से, पुस्तकों से, ईश्वर से, जीवन मूल्यों से, माता-पिता से, गुरू से, अपनी संस्कृति, कला और हुनर से, राष्ट्र से और स्वयं से मित्रता के संदेश वाले स्लोगन बनवाएं और प्रदर्शित कराएं, इस प्रकार की गतिविधियां एसएमएस, फेसबुक, ट्विटर, ई-मेल के माध्यम से आयोजित करके लोगों को मित्रता दिवस के व्यापक उद्देश्यों के प्रति जागरूक किया जा सकता है, ऑनलाईन आयोजन- इसके अतिरिक्त यू-टयूब एवं सोशल मीडिया के अन्य माध्यमों पर परिचर्चा, संवाद एवं व्याख्यान इत्यादि का आयोजन किया जा सकता है। सहभागिता - आनन्द संस्थान के डिप्लॉएड,मास्टर, टेªनर, आनंदम सहयोगी एवं आनन्दकों द्वारा कार्यक्रम के स्वरूप के आधार पर इनमे विद्यार्थी, स्वैच्छिक संस्थाएं, युवा वर्ग, काउंसलर, समाजसेवी, मोटिवेशनल स्पीकर्स, शिक्षाविद, विचारक, बुद्धिजीवी वर्ग को ऑनलाइन सहभागिता के लिए प्रेरित किया जा सकता है। कार्यक्रम का प्रचार प्रसार-अंतर्राष्ट्रीय मित्रता दिवस के उद्देश्यों के प्रति जागरूकता अभियान एवं उनके प्रचार-प्रसार के लिए ऑनलाइन पोस्टर, बैनर, स्लाइड, पर्चे इत्यादि का उपयोग किया जा सकता है।

कमेंट करें
Kpfwg