• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Koriya: Jhumka will have various programs for Christmas and New Year from December 25 to January 3

दैनिक भास्कर हिंदी: कोरिया : झुमका में क्रिसमस व नववर्ष के लिए 25 दिसम्बर से 3 जनवरी तक होंगे विविध कार्यक्रम

December 25th, 2020

डिजिटल डेस्क, कोरिया। जिले के झुमका बोट क्लब परिसर, बैकुण्ठपुर में देशभक्ति महिला संकुल स्तरीय संगठन के द्वारा क्रिसमस एण्ड न्यू इयर वीक सेलिब्रेशन 2021 का आयोजन किया जा रहा है। इसके तहत झुमका में 25 दिसम्बर 2020 से 03 जनवरी 2021 तक कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए विविध कार्यक्रम होंगे। इसमें झुमका बोट क्लब में आने वाले सैलानी एवं पर्यटक प्रतिभागी के रूप में शामिल हो सकेंगे। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान के जिला मिशन प्रबंधक ने बताया कि झुमका बोट क्लब ओड़गी में क्रिसमस एण्ड न्यू इयर वीक सेलिब्रेशन 2021 में आजीविका गतिविधियाँ, प्रदर्शनी सह विक्रय, मनोरंजक गतिविधियाँ एवं अन्य प्रतियोगिताएँ होंगी। जिसमें बिहान स्टॉल में फूड स्टॉल में समूह द्वारा निर्मित विभिन्न छत्तीसगढ़ी व्यंजन, विभिन्न राज्यों के फूड आयटम्स, चौपाटी इत्यादि, बिहान समूह प्रोडक्ट प्रदर्शनी सह विक्रय में हर्बल साबुन, हर्बल अगरबत्ती, ऑर्गेनिक चावल, मास्क, दोना, पत्तल इत्यादि, क्रिसमस एण्ड न्यू इयर संबंधित स्टॉल में डेकोरेटिव आयटम, ग्रीटिंग कार्ड, एल.इ.डी. कैण्डल्स, केक, चॉकलेट्स आदि, करोके सिंगिंग एंड म्यूजिक इवेन्ट में मनोरंजन, कला प्रदर्शन एवं आजीविका संवर्धन की दृष्टि से शुल्क सहित, किड्स टॉय बाईक कार ट्रेम्पोलिन संचालन में समूह द्वारा बच्चों के मनोरंजन एवं समूह आजीविका संवर्धन को देखते हुए शुल्क सहित, सेल्फी विथ सेंटा में मनोरंजन, आजीविका संवर्धन एवं आने वाले सैलानियों के पर्यटन क्षणों झुमका प्राकृतिक सौंदर्य के साथ यादगार बनाने हेतु शुल्क सहित तथा विभिन्न प्रतियोगिताएँ जैसे म्यूजिकल चेयर रेस एवं अन्य न्यूनतम शुल्क सहित आयोजित की जायेंगी। इससे पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। साथ ही समूह आजीविका संवर्धन, मनोरंजन, महिला सशक्तिकरण करते हुए पर्यटन में महिलाओं के सहभागिता को बढ़ावा देते हुए तथा झुमका बोट क्लब के प्रचार-प्रसार को बढ़ावा देते हुए सैलानियों को आकर्षित किया जायेगा। इस आयोजन के द्वारा समूह, ग्राम संगठन, संकुल स्तरीय संगठन में महिलाओं द्वारा लिये जाने वाले छोटे-छोटे निर्णयों को क्रियान्वित करने का अवसर प्रदान करते हुए उनके महिला सशक्तिकरण, आजीविका संवर्धन, पर्यटन जैसी आर्थिक गतिविधियों में भी महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका, स्थानीय आजीविका स्त्रोतों को बढ़ावा देने सहित सामाजिक सहभागिता को बढ़ाया जा सकेगा।