• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Mandsaur: Out of 3 thousand 430 unemployed youth in employment fair, 1 thousand 468 youth got employment

दैनिक भास्कर हिंदी: मन्दसौर: रोजगार मेले में 3 हजार 430 बेरोजगार युवाओं में से 1 हजार 468 युवाओं को को मिला रोजगार

January 21st, 2021

डिजिटल डेस्क, मन्दसौर। मन्दसौर आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश योजना अंतर्गत संजय गांधी उद्यान मंदसौर में आयोजित जिला स्तरीय रोजगार मेला का शुभारंभ नवीन एवं नवकरणीय, पर्यावरण विभाग मध्यप्रदेश शासन के मंत्री श्री हरदीपसिंह डंग ने कन्‍याओं का पूजन कर किया। कार्यक्रम के दौरान जिन बेरोजगारों को रोजगार मेले में रोजगार प्राप्त हुआ। उन्हें रोजगार प्रमाण पत्र भी प्रदान किया गया। साथ ही लाडली लक्ष्मी योजना के प्रमाण पत्र भी लाड़लियों को प्रदान किए गए। रोजगार मेले में युवाओं को रोजगार के ऑफर लेटर कंपनियों द्वारा प्रदान किए गए। साथ ही लाइव राज्यस्तरीय कार्यक्रम से मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के उद्बोधन को देखा व सुना गया। कार्यक्रम के दौरान जिला पंचायत अध्यक्षा श्रीमती प्रियंका मुकेश गिरी गोस्वामी, मंदसौर विधायक श्री यशपाल सिंह सिसोदिया, जनपद पंचायत अध्यक्ष श्री शांतिलाल मालवीय, कलेक्टर श्री मनोज पुष्प, सीईओ जिला पंचायत श्री गुप्ता, एडिशनल एसपी श्री वर्मा, श्री नानालाल अटोलिया सहित सभी जनप्रतिनिधि, बड़ी संख्या में युवा, पत्रकार मौजूद थे।

रोजगार मेले में 3 हजार 430 बेरोजगार युवाओं के द्वारा पंजीयन कराया गया था। इन सभी बेरोजगार युवाओं में से 1 हजार 468 युवाओं को रोजगार मिला है। रोजगार देने के लिए मेले में 23 कंपनियां बाहर से आई थी। जिन को रोजगार नहीं मिला है, उनको आगामी रोजगार मेले में रोजगार प्रदान किया जाएगा। इस अवसर पर मंत्री श्री डंग द्वारा कहा गया कि संघर्ष से उपलब्धियां मिलती है। हर व्यक्ति को हमेशा संघर्ष करते रहना चाहिए। जिला स्तरीय रोजगार मेले के संबंध में उन्होंने कहा कि इस तरह का मेला जीवन में पहली बार देखा। यह मेला वास्तविक मेला है। बड़ी संख्या में युवा बच्चे इसमें शामिल हुए हैं। अधिक से अधिक बच्चों को इसमें रोजगार मिलेगा। जिस भी बच्चों को इसमें रोजगार मिले, वह ठीक से काम करें, नौकरी छोड़ के ना आए। जितना अनुभव प्राप्त करोगे उतना ही आगे बड़ोगे। इसलिए अधिक से अधिक समय देखकर अनुभव प्राप्त करें। कार्य करने से आगामी 5 से 10 वर्षों में और अच्छी स्थिति प्राप्त होगी। बड़े-बड़े उद्योगपतियों को भी देखा जाए तो उनकी शुरुआत बहुत नीचे से हुई है और आज बड़े मुकाम पर पहुंचे हैं। सरकार हमेशा युवाओं के बारे में सोचती है। उसी को ध्यान में रखते हुए हर जिले में यह रोजगार मेले लगाए गए हैं। अच्छे कार्य के लिए हमेशा हिम्मत रखना बहुत जरूरी है। अगर हिम्मत रखोगे तो एक अच्छी मंजिल मिलेगी। उन्होंने कहा कि अपने माता-पिता का आशीर्वाद हमेशा लेवे। अगर उनका आशीर्वाद मिलेगा, तो उसके बाद अन्य किसी आशीर्वाद की आवश्यकता नहीं होगी। कोरोना काल के पश्चात अगर सबसे अधिक रोजगार देने का काम किया गया, तो वह रोजगार मेलों के माध्यम से किया गया। उक्त वक्तव्य जिला पंचायत अध्यक्षा श्रीमती प्रियंका मुकेश गोस्वामी द्वारा कही गई। उन्होंने कहा कि यह सरकार की बहुत अच्छी पहल है। इस मेले में 23 कंपनियां आई हैं। जो युवाओं को हाथों-हाथ रोजगार प्रदान करेगी। सभी बच्चे अपनी पसंद की कंपनी में रोजगार के लिए अप्लाई करेंगे। जिन को रोजगार नहीं मिलेगा। वे अगले रोजगार मेले में रोजगार प्राप्त करेंगे। विधायक श्री सिसोदिया द्वारा कहा गया कि सुबह जो बेरोजगार थे। वह इस रोजगार मेले के माध्यम से उनके ऊपर रोजगार का थप्पा लग चुका है।

रोजगार जीवन में दीर्घकालिक परिवर्तन लाता है और यह परिवर्तन सरकार के प्रयास के माध्यम से किया जा रहा है। देश के साथ-साथ प्रदेश में भी आत्मनिर्भर बनने पर विशेष कार्य किए जा रहे हैं। यह एक ऐसा मेला है जिसमें बड़ी संख्या में बाहर से कम्पनियां आई है, जो जिले के बच्चों को रोजगार देगी। मंत्री डंग द्वारा सभी को महिला जागरूकता सम्मान की शपथ दिलाई गयी हम शपथ लेते हैं कि हम अपने आस-पास ऐसा वातावरण बनाएंगे। जिसमें नारी अपने आप को सुरक्षित महसूस करे तथा उन्हें समान अवसर प्राप्त हों।