comScore

CM के गृह जिले में सड़कों का हाल बेहाल, सड़क के गड्ढों में विधायक चला रहे हैं नाव

July 28th, 2018 19:17 IST

डिजिटल डेस्क, सीहोर/इछावर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का गृह जिला, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का संसदीय क्षेत्र और PWD प्रभारी मंत्री रामपाल सिंह के प्रभार का जिला होने के बावजूद इछावर विधानसभा की सड़कों का हाल बेहाल है। जिम्मेदारों की नजरंदाजी का आलम यह है की मानसून की दस्तक भर से ही सड़कें तालाब में तब्दील हो चुकी हैं।  स्थानीय विधायक शैलेन्द्र पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा किए जा रहे विकास के तमाम दावे झूठे नजर आ रहे हैं। एक तरफ तो प्रदेश के मुखिया अमेरिका में मध्यप्रदेश की सड़कों को लेकर बड़ी बड़ी बातें कर रहे हैं, लेकिन दूसरी तरफ उनके गृह जिले इछावर विधानसभा में अमलाहा से भाऊखेड़ी आने-जाने वाला पूरा मार्ग बारिश के दिनों में बदहाली की अलग ही कहानी बयां कर रहा है। 

गड्ढों और तालाब का रूप ले चुकी इस 17 किमी लम्बी सड़क से तंग आकर इछावर विधायक शैलेन्द्र पटेल ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और लोक निर्माण मंत्री को संबोधित पत्र जिला प्रशासन को सौंपकर नाव चलाने की अनुमति मांगी है। अमलाहा से भाऊखेड़ी जाने वाली यह सड़क पूरी जगह-जगह से खस्ताहाल है, इसको लेकर इछावर विधायक शैलेन्द्र पटेल ने दो साल पहले ध्यानाकर्षण के दौरान उक्त सड़क के निर्माण को लेकर अपनी बात विधानसभा में रखी। साथ ही याचिका भी दायर की, लेकिन प्रदेश सरकार ने इस ओर ध्यान नहीं दिया, जबकि उक्त सड़क विधानसभा की लाइफ लाइन है। मुख्य सड़क होने के कारण हजारों की संख्या में वाहनों की आवाजाही इस मार्ग से होती है, लेकिन मार्ग पूरी तरह से खस्ताहाल होने के कारण वाहन चालकों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। 

विधायक शैलेन्द्र पटेल ने चलाई नाव
अमलाहा से भाऊखेड़ी जाने वाली करीब 17 किलोमीटर की सड़क पिछले दिनों बारिश के बाद तालाब जैसी दिखने लगी है। यहां कई जगहों पर घुटनों-घुटनों पानी भरा है। लोग परेशान हैं। ऐसे में कोई वाहन चालक गड्ढे में आ गया तो बड़ा हादसा हो सकता है। क्षेत्र की जनता के लिए संघर्ष करने वाले विधायक शैलेन्द्र पटेल ने सड़क निर्माण की मांग को लेकर नाव चलाकर प्रदर्शन किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में कांग्रेसजन शामिल थे। वहीं शनिवार को भी विधायक शैलेन्द्र पटेल के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कांग्रेसजन और क्षेत्रवासी सड़क पर बारिश के पानी के कारण तालाब में नाव चलाने जाने की इजाजत मांगने के लिए कलेक्ट्रेट पहुंचे और ज्ञापन सौंपा।

पिछले कई सालों से जारी प्रदर्शन
इस बात को लेकर विधायक शैलेन्द्र पटेल ने अमलाहा से भाऊखेड़ी जाने वाली करीब 17 किलोमीटर की सड़क  के निर्माण को लेकर जनहित में कई बार प्रदर्शन किए, पदयात्रा निकाली और विधानसभा में याचिका दायर की, लेकिन छह सालों से अंधी सरकार ने इस ओर ध्यान नहीं दिया है। 

कमेंट करें
RfLWs