मिल सकेगा अधिक पानी: निम्न पैनगंगा बांध से नांदेड, यवतमाल, हिंगोली को अतिरिक्त जल के इस्तेमाल की इजाजत

November 12th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। नांदेड़-यवतमाल सीमा पर स्थित निम्न पैनगंगा बांध तक 44.54 टीएमसी अतिरिक्त पानी के इस्तेमाल के लिए मंजूरी दी गई है। शुक्रवार को प्रदेश के जलसंसाधन मंत्री जयंत पाटील ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस फैसले से यवतमाल, हिंगोली और नांदेड़ जिले के कुछ इलाकों को अधिक पानी उपलब्ध हो सकेगा। यह मराठवाड़ा की दृष्टि से राहत देने वाला फैसला साबित होगा। पाटील ने कहा कि इस फैसले के तहत मंजूर अतिरिक्त पानी का इस्तेमाल और नियोजन पूस, अरूणावती व उर्ध्वपैनगंगा परियोजना के निचले इलाकों में किया जाएगा। इस मंजूरी से उर्ध्व पैनगंगा से निम्न पैनगंगा के बीच के क्षेत्र में लगभग 44.54 टीएमसी पानी उपलब्ध हो सकेगा। पाटील ने कहा कि गोदावरी पानी विवाद मध्यस्थता (लवादा) में निम्न पैनगंगा बांध तक पानी के इस्तेमाल की छूट है। इसके पहले की बैठकों में आंध्रप्रदेश सरकार के साथ पैनगंगा नदी में 117.87 टीएमसी पानी उपलब्ध होने की बात मानकर चर्चा की जाती थी। हाल के मराठवाड़ा के विभिन्न इलाकों के दौरे के समय नागरिकों ने मुझसे पानी की समस्या बताई थी। जल विज्ञान कार्यालय के मुख्य अभियंता के अध्ययन के अनुसार निम्न पैनगंगा बांध तक 117.87 के बजाय 167.46 टीएमसी पाणी उपलब्ध है। इस पानी का इस्तेमाल पैनगंगा की उपघाटी के उर्ध्व पैनगंगा परियोजना की प्रत्यक्ष कमी को दूर करने और शेष पानी का उपयोग उर्ध्व पैनगंगा परियोजना के निचले इलाकों में किया जा सकेगा।