दैनिक भास्कर हिंदी: रायगढ़ : स्वास्थ्य सेवाओं में कमी नहीं आनी चाहिये - कलेक्टर भीम सिंह

January 22nd, 2021

डिजिटल डेस्क, रायगढ़। जिला स्वास्थ्य समिति की समीक्षा बैठक संपन्न, कलेक्टर श्री भीम सिंह की अध्यक्षता में कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में जिला स्वास्थ्य समिति की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। कलेक्टर श्री सिंह ने जिले के वरिष्ठ डॉक्टरों तथा सभी बीएमओ को संबोधित करते हुये कहा कि शासन द्वारा स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार हेतु बहुत बड़ी राशि प्रदान की जा रही है। इन सुविधाओं का लाभ सभी लोगों को मिलना चाहिये। जिले में सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों तथा प्रायमरी स्वास्थ्य केन्द्रों के भवन निर्माण तथा उन्नयन हेतु राशि उपलब्ध करायी गई है। अत: इन स्वास्थ्य केन्द्रों में आने वाले मरीजों तथा उनके परिजनों को सुखद अहसास होना चाहिये।

चाहे साफ-सफाई का विषय हो अथवा पेयजल उपलब्धता सभी आकर्षक और व्यवस्थित होना चाहिये। कलेक्टर श्री सिंह ने जिले के बिरहोर तथा पहाड़ी कोरवा वाले क्षेत्रों मेें हेल्थ कैम्प आयोजित करने और विशेषज्ञ डॉक्टरों की सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। उन्होंने सुदूर और पहुंच विहीन क्षेत्रों में भी स्वास्थ्य सुविधायें उपलब्ध कराने और बीमार व्यक्तियों को समुचित ढंग से इलाज करने के निर्देश दिये।

कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में सबसे महत्वपूर्ण कार्य डिलवरी और टीकाकरण है। इस पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र की गर्भवती महिला की डिलवरी भले ही अन्य राज्य, अन्य जिले अथवा शहरी क्षेत्रों में हो परंतु इसकी जानकारी स्वास्थ्य विभाग को होना आवश्यक है और इसके वास्तविक आंकड़ों का मिलान महिला एवं बाल विकास विभाग तथा स्वास्थ्य विभाग संयुक्त रूप से तैयार करेंगे। ताकि आंकड़ों में भिन्नता न रहे।

कलेक्टर श्री सिंह ने प्रदेश में लागू डॉ.खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना का लाभ प्रत्येक पात्र व्यक्ति को दिलाने के निर्देश दिये। उन्होंने इलाज कराने जाने वाले प्रत्येक व्यक्ति के पास उसका आधार कार्ड और राशन कार्ड की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिये और इसकी जानकारी आम नागरिकों तक पहुंचाने के लिये विभिन्न प्रचार माध्यमों तथा दीवार लेखन के माध्यम से कराये जाने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि जिले में लगभग सभी हाट-बाजार प्रारंभ हो गये है। अत: इन बाजारों में योग्य और अनुभवी डॉक्टरों की टीम से ग्रामीणों का स्वास्थ्य जांच कराया जाये। साथ ही संबंधित क्षेत्र के औद्योगिक संस्थाओं के विशेषज्ञ डॉक्टरों की सेवायें भी हाट-बाजार के हेल्थ कैम्प में उपलब्ध करायी जाये। उन्होंने जिले के अस्पतालों में उपलब्ध एम्बुलेंस तथा 102, 108 की सेवाओं की भी जानकारी ली तथा जिन क्षेत्रों में एम्बुलेंस नहीं है, वहां पर नई एम्बुलेंस उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।

बैठक के दौरान सीईओ जिला पंचायत सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.एस.एन.केशरी सहित जिले के सभी बीएमओ उपस्थित थे।