दैनिक भास्कर हिंदी: सागर -ट्रॉले की टक्कर से प्रोफेसर का सिर धड़ से अलग हुआ -इंदौर की प्रोफेसर की मौत

April 3rd, 2021

डिजिटल डेस्क सागर । इंदौर के गल्र्स कॉलेज (ओल्ड जीडीसी) में पदस्थ प्रोफेसर डॉ. सुनीता पति कमलेश मेश्राम (40) की गुरुवार रात सागर में हादसे में मौत हो गई। वे सिविल लाइन कटनी की रहने वाली थीं। वे पति के साथ इंदौर से कटनी जा रही थीं। सागर के बहेरिया क्षेत्र में चनाटोरिया के पास तेज गति से जा रहे ट्रॉले ने उनकी कार को साइड से टक्कर मार दी, जिससे सुनीता का सिर खिड़की से बाहर आ गया। ट्राले की चपेट में आने से सिर धड़ से अलग हो सड़क पर जा गिरा। उनके पति भी घायल हुए हैं। कार ड्राइवर जगदीश नामदेव चला रहा था।  उन्हें जिला अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई थी। बहेरिया पुलिस ने ट्रॉला जब्त कर लिया है, जबकि चालक मौके से फरार हो गया। पुलिस के अनुसार प्रोफेसर डॉ. सुनीता पति कमलेश मेश्राम (40) निवासी सिविल लाइन कटनी, इंदौर के गल्र्स कॉलेज में पदस्थ थीं।  31 मार्च को प्रोफेसर डॉ. सुनीता मेश्राम पति कमलेश यादव साथ कटनी से इंदौर गई थीं। यहां अपने काम निपटाए और रात रूकी। इसके बाद गुरुवार को कार (एमपी 21 सीए 5378) में सवार होकर इंदौर से कटनी के लिए रवाना हुई। कार ड्राइवर जगदीश नामदेव चला रहा था। पीछे की सीट पर सुनीता ड्राइवर साइट में बैंठी थी। उनके बाजू में पति कमलेश बैठे थे। रात करीब 9-10 बजे के बीच कटनी जाते समय बहेरिया थाना क्षेत्र के चनाटोरिया के पास तेज रफ्तार ट्रक ने कार को साइड से टक्कर मार दी। घटना में गेट साइड बैठी प्रोफेसर का सिर कार से बाहर आने के बाद ट्रॉला की चपेट में आ गया। इससे सिर धड़ से अलग हो गया। वहीं पति कमलेश घायल हो गए। घटना की खबर मिलते ही बहेरिया पुलिस मौके पर पहुंची और घायल को अस्पताल में भर्ती कराया।
ट्रैक्टर-ट्रॉली से भी भिड़ी थी कार, सीट बेल्ट ने बचाई ड्राइवर की जान
बहेरिया थाना प्रभारी गौरव तिवारी ने बताया मझगुंवा तिराहे पर ट्रॉला ने कार को राइट साइट से टक्कर मारी थी। जिससे एक साइट का हिस्सा चकनाचूर हो गया। बताया जा रहा है कि जैसे ही ट्रॉला ने कार को टक्कर मारी तो प्रोफेसर का सिर खिड़की से बाहर आ गया और ट्रॉला सिर को उड़ाते हुए निकल गया। इस दौरान कार सामने एक ट्रैक्टर-ट्रॉली से भी टकराई थी। ड्राइवर नामदेव का कहना था कि वह सीट बेल्ट लगाए थे, जिससे उनका शरीर का कोई अंग वाहन से बाहर नहीं आया जिससे वे बच गए। पीछे सवार कमलेश को भी चोटें आईं हैं। ट्रॉला जब्त कर चालक के खिलाफ केस दर्ज किया है। वह वाहन छोड़कर भाग गया था।
शव लेकर कटनी रवाना हुए परिजन
घटनाक्रम की खबर मिलते ही मृतका प्रोफेसर के परिजन सागर आ गए थे। शुक्रवार को पोस्टमार्टम के बाद शव परिजन को सौंप दिया। साथ ही घायल पति कमलेश भी अस्पताल से छुट्टी लेकर साथ में कटनी रवाना हो गए थे। प्रोफेसर डॉ. सुनीता इसके पहले कटनी के गल्र्स कॉलेज में प्राचार्य थीं।

खबरें और भी हैं...