comScore

माओवादियों से मुठभेड़ में सीधी का जवान शहीद

माओवादियों से मुठभेड़ में सीधी का जवान शहीद

 
डिजिटल डेस्क सीधी। छत्तीसगढ़ के घोटिया मोड के पास पुलिस पार्टी और माओवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में सीधी उत्तरी करौंदिया के रहने वाले देवेंद्र सिंह सोमवंशी पुत्र स्व. जयवीर सिंह सोमवंशी शहीद हो गए।  शहीद जवान रामपुर बघेलान तहसील के जनार्दनपुर गांव का निवासी हैं।
शहीद जवान देवेंद्र सिंह छत्तीसगढ़ सीएएफ में प्रधान आरक्षक के पद पर कार्यरत थे और उन्होने वर्ष 2006 में सेना में नौकरी ज्वाइन की थी। शहीद जवान ने अपने पीछे पत्नी पूजा व दो बेटे राज 10 वर्ष व सिद्धार्थ 6 वर्ष को छोड़ गए है। 
शहीद जवान के मामा राजबहादुर सिंह ने बताया कि देवेंद्र सिंह के पिता जयवीर सिंह छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल में थे और वे भी 12 वर्ष पहले शहीद हो गए। पिता की अनुकंपा नियुक्ति में देवेंद्र थे। जवान का पार्थिव शरीर शाम करीब 3 बजे, पुलिस परेड ग्राउंड सीधी लाया गया जहां सलामी दी गई है। उसके बाद पार्थिव शरीर को उत्तरी करौंदिया स्थित घर में ले जाया गया, जहां से सोन नदी को  गऊघाट में अंतिम संस्कार किया गया है।
कई दिनों से नहीं हुई  पापा से बात-
शहीद देवेंद्र सिंह के छोटे बेटे सिद्धार्थ सिंह ने बिलखते हुए बताया कि मेरी बात कई दिनों से पिताजी से नहीं हुई थी। दरअसल जिस स्थान पर देवेंद्र सिंह तैनात थे वहां नेटवर्क नहीं था। जब है कैंप से बाहर होते थे उसी दौरान पत्नी और बच्चों से बात हो जाती थी।
मां का रो-रोकर बुरा हाल-
बेटे के शहीद होने की जानकारी जैसे ही मां को लगी, उनका रो-रो कर बुरा हाल हो गया था। रोते बिलखती मां बोल रही थी कि आखिर मेरे साथ ही ऐसा क्यों हुआ। भगवान ने पहले पति को छीन लिया। और अब  बेटा भी शहीद हो गया।

कमेंट करें
dVIt1