• Dainik Bhaskar Hindi
  • State
  • To prevent Kovid, you have to do it on all fronts with dedication and work collector Mr. Bhim Singh: Man power is being increased in all the tasks related to covid management!

दैनिक भास्कर हिंदी: Home Isolated Patients' Marks Will Be Made Outside Paint!

April 21st, 2021

डिजिटल डेस्क | होम आइसोलेटेड मरीजों के घर के बाहर पेंट से बनाये जाएंगे निशान| कोविड के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम व नियंत्रण के लिये सभी मोर्चो पर पूरी गंभीरता व समर्पण से कार्य करना है। बात चाहे सैंपलिंग-टेस्टिंग, कांटेक्ट ट्रेसिंग, एक्टिव सर्विलांस, होम आईसोलेशेन का मैनेजमेंट, मरीजों का फालोअप, उन्हें अस्पताल में शिफ्ट करना, समय से दवाईयां उपलब्ध कराना हो सभी एरियाज में पूरी तेजी से काम होना है। इसके लिये मैन पावर की संख्या जरूरत अनुसार तत्काल बढ़ायी जा रही है। अन्य विभागों के कर्मचारियों को कोविड मैनेजमेंट के इन सारे कामों के सुचारू संचालन के लिए स्वास्थ्य विभाग के साथ तत्काल संलग्न करें।

उक्त बातें कलेक्टर श्री भीम सिंह ने समय-सीमा की बैठक के दौरान सभी विभागीय अधिकारियों से कही। कलेक्टर श्री सिंह ने आज वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से समय-सीमा की बैठक ली। बैठक में उन्होंने जिले में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के प्रबंधन की तैयारियों की बिन्दुवार समीक्षा की। उन्होंने होम आईसोलेशन में रहने वाले मरीजों का नियमित फालोअप कर हेल्थ अपडेट लेने के निर्देश दिये। इसके लिये उन्होंने मैन पावर को तत्काल बढ़ाते हुये शिक्षा, श्रम, उद्योग, आदिवासी विकास विभाग सहित अन्य विभागों से कर्मचारी, 40 डाटा एन्ट्री ऑपरेटर व कम्प्यूटर सेट लगाने के निर्देश दिये। उन्होंने होम आइसोलेशन कंट्रोल रूम को बड़ी जगह पर शिफ्ट करने के लिये कहा।

होम आईसोलेशन सहित एक्टिव सर्विलांस व टीकाकरण में अलग-अलग डेटिकेटेड टीम तैनात करने के लिये कहा। कांटेक्ट ट्रेसिंग के लिये सभी ब्लाकों के साथ रायगढ़ शहरी क्षेत्र में भी टीम बढ़ाने के निर्देश दिये। उन्होंने सभी एसडीएम तथा पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को कंटेनमेंट जोन के समुचित प्रबंधन करने के निर्देश दिये। होम आईसोलेटेड मरीजों के घर के बाहर चिपकाने वाले स्टिकर को फाडऩे की घटनायें सामने आने पर अब घरों के बाहर लाल स्टेंसिल पेंट लगाने के निर्देश दिये। जिससे लोगों को व्यक्ति के होम आईसोलेशन में होने की जानकारी मिल सके। उन्होंने होम आईसोलेटेड मरीज के प्रायमरी कांटेक्ट की जल्द टेस्टिंग करने के निर्देश दिये। इसके लिये शहर में मोबाईल टीम बढ़ाने के लिये कहा।

उन्होंने सैंपलिंग के लिये टेक्नीशियन की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिये। जिसके लिये उद्योगों द्वारा संचालित लैब से टेक्नीशियन्स को भी संलग्न करने के लिये कहा। साथ ही उद्योगों द्वारा अस्पतालों व डॉक्टर्स की ड्यूटी कोविड अस्पतालों में लगाने के लिए भी निर्देशित किया। रेलवे स्टेशन में आने वाले सिम्पटोमेटिक यात्रियों की तत्काल एन्टीजन जांच करने के निर्देश दिये। एसम्पिटोमेटिक मरीजों को क्वारेंटीन सेंटर भेजने के लिये कहा। उन्होंने प्रशासन द्वारा तैयार किये क्वारेंटीन सेंटर्स के साथ पेड क्वारेंटीन बनाने के निर्देश नगर निगम आयुक्त को दिये। प्रशासन द्वारा तैयार किये गये क्वारेंटीन सेंटर में गद्दे, बेड, पेयजल, बिजली, पंखा, शौचालय सभी व्यवस्थायें दुरूस्त रखने के निर्देश सभी सीईओ जनपदों को दिये। रेलवे स्टेशन के साथ ही उन्होंने बस स्टैण्ड व जिले के बार्डर विशेषकर अंतर्राज्यीय बार्डर पर टेस्टिंग की टीम तैनात करने के निर्देश दिये।

कलेक्टर श्री सिंह ने कोरोना के चलते अन्य राज्यों से वापस लौट रहे श्रमिकों के लिये समुचित व्यवस्था करने के निर्देश श्रम विभाग के अधिकारियों को दिए। ऑक्सीजन उपलब्धता की लगातार करें मॉनिटरिंग उन्होंने पर्याप्त मात्रा में आक्सीजन सिलेण्डर उपलब्ध रखने के निर्देश सीएमएचओ को दिये और इसकी लगातार मॉनिटरिंग करने के लिए कहा।

उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे सिलेण्डर खाली होते जाएं उन्हें छोटे बैचों में रिफिल करवाते जाये जिससे हमेशा अस्पतालों में पर्याप्त मात्रा में मरीजों के लिए ऑक्सीजन उपलब्ध रहे। उन्होंने बताया कि गंभीर मरीजों के उपचार के लिए 9 बाईपेप मशीने आ चुकी है। जल्द ही 10 और वेंटीलेटर मशीने आने वाली हैं। मरीजों के लिए बनेगा कॉउंसलिंग सेल कोरोना के इस कठिन समय में मरीजों को मानसिक सपोर्ट देने के लिये एक काउंसिलिंग सेल बनाने के निर्देश कलेक्टर श्री सिंह ने सीएमएचओ को दिए। इस सेल के माध्यम से मरीजों से नियमित बात कर उनकी काउंसिलिंग की जाएगी ताकि वे मानसिक रूप से मजबूत रहें। गांवों में जागरूकता बढ़ाने पर दें जोर उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ते केसेस के मद्देनजर वहां जागरूकता बढ़ाने और लोगों को समय पर जांच व इलाज लेने के लिये प्रेरित करने के लिये कहा।

खबरें और भी हैं...