comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

तेलंगाना में बलात्कार-हत्या के दो मामलों का फैसला रुका, जज की तबियत बिगड़ी

तेलंगाना में बलात्कार-हत्या के दो मामलों का फैसला रुका, जज की तबियत बिगड़ी

डिजिटल डेस्क, आदिलाबाद। नल गोंडा फास्ट ट्रैक कोर्ट ने बलात्कार और हत्या मामले के दोनों फैसलों को कोर्ट ने स्थगित कर दिया। बताया जा रहा है कि समता के मामले को 30 जनवरी और हाजीपुर के बलात्कार और हत्या के मामले को 6 फरवरी तक स्थगित कर दिया गया है। आपको बता दें कि आसिफाबाद जिला के लिंगापुर मंडल क्षेत्र के एल्लापट्टी गांव के पास हुई बलात्कार और हत्या मामले की आज सुनवाई होने वाली थी। लेकिन जज की तबीयत ठीक नहीं होने के कारण फैसले को स्थगित कर दिया गया है।इसी तरह नल गोंडा फास्ट्रेक ने भी हाजीपुर के बलात्कार और हत्या के मामले के फैसले को 6 फरवरी तक स्थगित कर दिया गया है। आपको बता दें कि इन दोनों मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में लंबी सुनवाई हुई है।

दोनों मामलों पर फैसला आने वाला था। इस घटना के आरोपियों को मौत की सजा की मांग के लिए तेलंगाना ही नहीं बल्कि देश में जोरों पर आवाज उठी है। आज इस फैसले पर सबकी नजर लगी हुई थी। आदिलाबाद की फास्ट ट्रैक कोर्ट समता बलात्कार और हत्या के मामले पर पोर्ट सोमवार को सजा सुनाएगी। इस मामले के मुख्य आरोपी शेख बाबू, शेख साबुद्दीन, और शेख मखदूम को कोर्ट में पेश किया जाएगा। आपको बता दें कि लिंगा पुर गांव निवासी समता गुब्बारे बेचकर जीवन गुजारती थी।गत 24 नवंबर को समता अल्लाह पट्टा ग्राम में गुब्बारा बेचने के लिए गई थी उसी गांव के शेख बाबू, शेख साबुद्दीन और शेख मखदूम नामक युवकों ने उसके साथ बलात्कार करके उसकी हत्या कर दी गई थी। इसके घटना के विरोध में जन संगठन और विभिन्न संघ के नेताओं ने आसिफाबाद जिले में कई दिनों तक बड़ा आंदोलन भी चलाया।

कमेंट करें
mBuzi