• Dainik Bhaskar Hindi
  • Cricket
  • 13 years ago on this day in 2007 australia beat sri lanka by 53 runs to win third successive world cup title

दैनिक भास्कर हिंदी: क्रिकेट: ऑस्ट्रेलिया ने 13 साल पहले आज ही के दिन अंधेरे में लगाई थी वर्ल्ड कप जीतने की हैटट्रिक

April 28th, 2020

हाईलाइट

  • ऑस्ट्रेलिया ने आज ही के दिन 13 साल पहले 28 अप्रैल 2007 में ICC वनडे वर्ल्ड कप जीतने की हैटट्रिक लगाई थी
  • टूर्नामेंट के फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने श्रीलंका को डकवर्थ लुइस नियम के मुताबिक 53 रनों से हराया था

डिजिटल डेस्क। ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम ने आज ही के दिन 13 साल पहले 28 अप्रैल 2007 में ICC वनडे वर्ल्ड कप जीतने की हैटट्रिक लगाई थी। वेस्टइंडीज में खेले गए इस वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया लगातार तीसरी बार वर्ल्ड चैंपियन बनी थी। साल 1999, 2003 और फिर 2007 में वर्ल्ड कप जीतकर ऑस्ट्रेलिया ने इतिहास रचा था। इसी के साथ ऑस्ट्रेलिया लगातार तीन वर्ल्ड कप जीतने वाली पहली टीम बनी थी। बारबेडोस में खेले गए टूर्नामेंट के फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने श्रीलंका को डकवर्थ लुइस नियम के मुताबिक 53 रनों से हराया था। इस फाइनल मैच में एडम गिलक्रिस्ट ने 104 गेंद पर 149 रन की पारी खेली थी। उन्होंने दस्तानों में स्क्वैश की गेंद रखी हुई थी, जिसका खुलासा उन्होंने बाद में किया था।

फाइनल मुकाबले में बारिश हुई थी, लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए 38 ओवर में ही 4 विकेट पर 281 रन का स्कोर खड़ा किया था। श्रीलंका ने भी मैच में शुरुआत अच्छी की, लेकिन लक्ष्य इतना बड़ा था कि श्रीलंका की टीम हमेशा मैच में पिछड़ती हुई नजर आई। नियमों को लेकर दुविधा के चलते आखिरी कुछ ओवर बिलकुल अंधेरे में खेले गए थे। श्रीलंका की टीम 36 ओवर में 8 विकेट पर 215 रन ही बना पाई और ऑस्ट्रेलिया ने यह मुकाबला डकवर्थ नियम के अनुसार 53 रन से जीता था। मैच में श्रीलंका के लिए सनथ जयसूर्या ने 63 और कुमार संगाकारा ने 54 रन की पारी खेली थी। इन दोनों के अलावा श्रीलंका का कोई भी बल्लेबाज टिककर नहीं खेल पाया था। 

विवादित माना जाता है 2007 वर्ल्ड कप
साल 2007 का यह वर्ल्ड कप फाइनल विवादित माना जाता है। दरअसल वर्ल्ड कप फाइनल में ऐसी घटना हुई थी, जिसने आईसीसी पर ही सवाल खड़े कर दिए थे। मैच के अंतिम लम्हों में बारिश शुरू हो गई थी और मैच को रोकना पड़ा। इसके बाद अंपायरों ने मैच को खराब रोशनी के चलते सस्पेंड कर दिया। ऑस्ट्रेलियाई टीम वर्ल्ड कप जीत का जश्न मनाने लगी, लेकिन इसके बाद उन्हें जानकारी दी गई कि अभी 3 ओवर और फेंकने बाकी हैं। मैदान पर अंधेरा हो चुका था और अगले दिन बचे हुए 3 ओवर फेंकने का विकल्प था, लेकिन मैच रेफरी जेफ क्रो ने उसी दिन बचे हुए 3 ओवर फेंकने का फैसला सुनाया। नतीजा ये हुआ कि श्रीलंकाई टीम को अंधेरे में 3 ओवर खेलन पड़े हुए थे। बता दें जब आखिरी के 3 ओवर फेंके गए तो मैदान पर इतना अंधेरा था कि, दर्शकों को खिलाड़ी दिखाई भी नहीं दे रहे थे। 

खबरें और भी हैं...