comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

World Cup 2019: भारतीय टीम हुई वर्ल्ड कप से बाहर, न्यूजीलैंड 18 रन से जीतकर लगातार दूसरी बार फाइनल में

World Cup 2019: भारतीय टीम हुई वर्ल्ड कप से बाहर, न्यूजीलैंड 18 रन से जीतकर लगातार दूसरी बार फाइनल में

हाईलाइट

  • क्रीज से कुछ दूर रह गया दुनिया का बेस्ट फिनिशर और हार गया भारत
  • जडेजा की जुझारू पारी ने जगा दी थी भारत की उम्मीद, हर कोई हुआ मुरीद
  • टूट गया भारत के वर्ल्ड कप का सपना, सेमीफाइनल में कीवियों ने थाम दिया सफर

डिजिटल डेस्क, मैनचेस्टर। भारत-न्यूजीलैंड के बीच खेला जा रहा ICC वर्ल्ड कप का पहला सेमीफाइनल मुकाबला मंगलवार को बारिश के चलते पूरा नहीं हो पाया। अब आगे का मैच रिजर्व-डे पर खेला जा रहा है। न्यूजीलैंड ने 50 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 239 रन बनाए और भारत को 240 रनों का लक्ष्य दिया है। लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम ने 49 ओवर की तीसरी गेंद में 221 रन पर ढेर हो गई। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा, विराट कोहली और केएल राहुल 1-1 रन बनाकर पवेलियन लौटे। दिनेश कार्तिक 6 और ऋषभ पंत 32 रन बनाकर आउट हुए। हार्दिक पांड्या 32 रन बनाकर पवेलियन लौटे। रवींद्र जडेजा 77 रन बनाकर आउट हुए। एमएस धोनी 50 रन बनाकर पवेलियन लौटे। भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह शून्य पर आउट हुए। न्यूजीलैंड के लिए मैट हेनरी ने 3 और मिशेल सेंटनर और ट्रेंट बोल्ट ने 2-2 विकेट झटके। जिमी नीशम और लॉकी फग्र्यूसन ने 1-1 विकेट लिया।

इससे पहले मिशेल सैंटनर 9 और ट्रेंट बोल्ट 3 रन बनाकर नाबाद रहे। हेनरी 1 रन बनाकर आउट हुए। रॉस टेलर ने 74 रन बनाए। उन्हें जडेजा ने रनआउट कर दिया। टॉम लाथम 10 रन बनाकर भुवनेश्वर की गेंद पर जडेजा को कैच थमा बैठे।

मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर खेले जा रहे इस मुकाबले में न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था। पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड ने मंगलवार को 46.1 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 211 रन बनाए थे। लेकिन बारिश के कारण मैच को रोकना पड़ा और फिर ये दोबारा शुरू नहीं हो पाया था। 

हालांकि मैनचेस्टर में आज भी 65% बारिश के आसार हैं। भारतीय समयानुसार दोपहर 3 बजे से ये मैच फिर से शुरू होगा। न्यूजीलैंड अपने बचे हुए 3.5 ओवर खेलेगी। रॉस टेलर 67* और टॉम लाथम 3* न्यूजीलैंड की पारी को आगे बढ़ाएंगे। भारत के सामने न्यूजीलैंड 250-260 का लक्ष्य खड़ा कर सकती है। भारत के लिहाज से यह बेहतर होगा, क्योंकि अगर आज न्यूजीलैंड की पारी बारिश के कारण आगे नहीं बड़ पाती तो, भारत को डकवर्थ लुईस नियम के हिसाब से लक्ष्य मिलता। जिसके कारण भारतीय टीम परेशानी में पड़ सकती थी। 

डकवर्थ लुईस के आधार पर भारत को ये लक्ष्य मिल सकता था - 

ओवर संभावित लक्ष्य
46237
40223
35209
30192
25172
20148

1999 में भी रिजर्व डे पर पूरा हुआ था मैच

इससे पहले1999 में इंग्लैंड में खेले गए विश्व कप में भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए मैच को रिजर्व डे पर पूरा किया गया था। आईसीसी विश्व कप में नॉकआउट दौर में रिजर्व डे का प्रावधान है। इस नियम के मुताबिक, मैच की तारीख वाले दिने अगर मैच पूरा नहीं हो पाता है तो अगले दिन मैच वहीं से शुरू किया जाता है जहां से पहले दिन खत्म हुआ था। अगर रिजर्व डे पर भी मैच पूरा नहीं हो पाता है तो फिर पॉइंट्स के आधार पर फैसला होता है। भारत-न्यूजीलैंड के सेमीफाइनल मैच का फैसला अगर पॉइंट्स के आधार पर होता है तो भारत सीधे फाइनल में पहुंच जाएगा क्योंकी उसके पॉइंट न्यूजीलैंड से ज्यादा है।

केन विलियम्सन और रॉस टेलर के अर्धशतक

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी न्यूजीलैंड टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। जस्प्रीत बुमराह ने 1 रन के स्कोर पर मार्टिन गुप्टिल को आउट कर न्यूजीलैंड को पहला झटका दिया। हालांकि इसके बाद हेनरी निकोलस और कप्तान केन विलियम्सन ने 68 रनों की पार्टनरशिप कर न्यूजीलैंड की पारी को संभाला। निकोलस (28) को आउट कर रविंद्र जडेजा ने इस साझेदारी को तोड़ा। इसके बाद विलियम्सन ने रॉस टेलर के साथ मिलकर स्कोरबोर्ड को आगे बढ़ाया। इस दौरान विलियम्सन ने अपना अर्धशतक भी पूरा किया।

35.2 ओवर में 134 रन के स्कोर पर विलियम्सन के रूप में न्यूजीलैंड को तीसरा झटका लगा। विलियम्सन के आउट होने के बाद टेलर ने एक छोर से पारी को संभालते हुए पहले नीशम और फिर ग्रैंडहोम के साथ मिलकर न्यूजीलैंड के स्कोर को 200 रनों के पार पहुंचाया। नीशम ने 12 और ग्रैंडहोम ने 16 रन बनाए। रॉस टेलर 67* और टॉम लाथम 3* रनों पर नाबाद है। भारत के लिए रवींद्र जडेजा, जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्र चहल, हार्दिक पांड्या और भुवनेश्वर कुमार को 1-1 विकेट मिला। 

इस मैच के लिए दोनों टीमों ने प्लेइंग इलेवन में 1-1 बदलाव किया है। न्यूजीलैंड ने टीम में टिम साउदी की जगह लॉकी फर्गुसन को टीम में शामिल किया है। वहीं भारतीय टीम ने कुलदीप यादव की जगह यजुवेंद्र चहल को टीम में जगह दी है। 

टीमें : 

भारत : रोहित शर्मा, लोकेश राहुल, विराट कोहली (कप्तान), ऋषभ पंत, दिनेश कार्तिक, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार, युजवेंद्र चहल, रवींद्र जडेजा और जसप्रीत बुमराह। 

न्यूजीलैंड : मार्टिन गुप्टिल, हेनरी निकोलस, केन विलियम्सन (कप्तान), रॉस टेलर, टॉम लाथम (विकेटकीपर), जिमी नीशम, कोलिन डी ग्रांडहोम, मिशेल सैंटनर, लॉकी फग्र्यूसन, मैट हेनरी, ट्रेंट बोल्ट। 

वर्ल्ड कप में भारत और न्यूजीलैंड का 2003 के बाद पहली बार आमना-सामना हो रहा है। भारतीय टीम 9 लीग मैचों में से 7 जीत दर्ज कर अंक तालिका में 15 अंकों के साथ टॉप पर रहकर सेमीफाइनल में पहुंची है। वहीं न्यूजीलैंड ने 5 मैच जीतकर 11 अंकों के साथ चौथे स्थान पर रहकर सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाई है। लीग मैचों में दोनों टीमों के बीच 13 जून को होने वाला मैच बारिश के कराण बिना टॉस हुए रद्द हो गया था। अपने आखिरी लीग मैच में भारत ने श्रीलंका को 7 विकेट से हराया था। वहीं न्यूजीलैंड को अपने आखिरी लीग मैच में इंग्लैंड के हाथों 119 रनों से हार का सामना करना पड़ा था।

हेड टू हेड

वर्ल्ड कप में भारत और न्यूजीलैंड के बीच अब तक 8 मैच हुए हैं। जिसमें से न्यूजीलैंड ने 4 मैचों में जीत दर्ज की है। भारत को 3 मैचों में जीत मिली है। एक मैच बारिश के कारण रद्द हो गया था। वनडे रिकॉर्ड की बात करें तो दोनों टीमों के बीच अब तक 106 मैच हुए हैं। जिसमें से भारत ने 55 मैच जीते हैं। न्यूजीलैंड को 45 मैचों में जीत मिली है। 5 मैचों का कोई नतीजा नहीं निकला था। इंग्लैंड के मैदान पर भारत और न्यूजीलैंड के बीच अब तक 3 मैच हुए हैं। तीनों मैचों में भारत को हार का सामना करना पड़ा है।

दोनों टीमों का वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में रिकॉर्ड

वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में दोनों टीमों के रिकॉर्ड की बात करें, तो भारतीय टीम 6 बार सेमीफाइनल में पहुंची है। जिसमें से उसे 3 बार जीत और 3 ही बार हार मिली है। वहीं न्यूजीलैंड 7 बार सेमीफाइनल में पहुंचा है। जिसमें से उसे सिर्फ 1 बार जीत हासिल हुई है। 6 बार उसे हार का सामना करना पड़ा है। 

हालिया रिकॉर्ड और टीम के प्रदर्शन को ध्यान में रखते हुए भारत की टीम इस मैच को जीतने की बड़ी दावेदार दिख रही है। लेकिन विलियमसन जैसे कप्तान की अगुवाई में न्यूजीलैंड की टीम किसी भी टीम को पटखनी देने का माद्दा रखती है।

वर्ल्ड कप सेमीफाइनल्स में भारत का रिकॉर्ड - 6 मैच - 3 जीते - 3 हारे

साल

ओपोनेंटवेन्यू

रिजल्ट

1983

इंग्लैंडमैनचेस्टर

6 विकेट से जीता

1987

इंग्लैंडमुंबई

35 रन से हारा

1996

श्रीलंकाकोलकाता

श्रीलंका विजय घोषित

2003

केन्याडरबन

91 रन से जीता

2011

पाकिस्तानमोहाली

29 रन से जीता

2015

ऑस्ट्रेलियासिडनी

35 रन से हारा

वर्ल्ड कप सेमीफाइनल्स में न्यूजीलैंड का रिकॉर्ड - 7 मैच - 1 जीते - 6 हारे

साल

ओपोनेंटवेन्यू

रिजल्ट

1975

वेस्टइंडीजद ओवल

5 विकेट से हारा

1979

इंग्लैंड

मैनचेस्टर

9 रन से हारा

1992

पाकिस्तानऑकलैंड

4 विकेट से हारा

1999

पाकिस्तानमैनचेस्टर

9 विकेट से हारा

2007

श्रीलंकाकिंग्सटन

81 रन से हारा

2011

श्रीलंका

कोलंबो

5 विकेट से हारा

2015

साउथ अफ्रीकाऑकलैंड

4 विकेट से जीता

कमेंट करें
mqGJp
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।