comScore

IPL-13: बेंगलुरु-हैदराबाद लीग के तीसरे मैच में आज आमने-सामने, सबकी नजरें कोहली-वॉर्नर पर होंगी


हाईलाइट

  • IPL-13 का तीसरा मैच आज बेंगलुरु और हैदराबाद के बीच दुबई में खेला जाएगा
  • मैच का प्रसारण भारतीय समयानुसार शाम 7:30 बजे से, टॉस 7:00 बजे होगा

डिजिटल डेस्क, दुबई। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 13वें सीजन का तीसरा मैच आज रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) और सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के बीच दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेला जाएगा। मैच का प्रसारण भारतीय समयानुसार शाम 7:30 बजे से होगा। सनराइजर्स ने 2 बार (2009, 2016) IPL का खिताब जीता है, लेकिन विराट कोहली की कप्तानी वाली बेंगलुरु अब तक ट्रॉफी नहीं जीत पाई है। वहीं रॉयल चैलेंजर्स कप्तान डेविड वॉर्नर की हैदराबाद से 2016 फाइनल की हार का बदला लेना चाहेगी। तब हैदराबाद ने बेंगलुरु को फाइनल में 8 रन से मात देकर दूसरी बार लीग का खिताब जीता था। पिछले सीजन में आरसीबी सबसे निचले 8वें पायदान पर रही थी। जबकि हैदराबाद एलिमिनेटर तक पहुंची थी। अब दोनों टीमें जीत से लीग के इस सीजन की शुरुआत करना चाहेंगी। 

सनराइजर्स के पास  वॉर्नर, बेयरस्टो और केन विलियमसन जैसे बल्लेबाज
इस सिजन के लिए डेविड वॉर्नर की कप्तानी वाली सनराइजर्स ने टीम में कुछ बदलाव किए हैं। ऑरेंज आर्मी ने इस बार शाकिब अल हसन को रिलीज कर दिया था। क्योंकि बांग्लादेश के इस ऑलराउंडर पर आईसीसी ने 2 साल का बैन लगा रखा है। कप्तान वॉर्नर और जॉनी बेयरस्टो की सलामी जोड़ी सर्वश्रेष्ठ सलामी जोड़ियों में गिनी जाती है और अगर यह दोनों चल पड़ते हैं तो किसी भी टीम के लिए बड़ा खतरा हो सकते हैं। वॉर्नर टीम सनराइजर्स के लिए IPL में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी हैं। उन्होंने टीम के लिए 71 मैचों में 55.44 की औसत से 3271 रन बनाए हैं। पिछले सीजन में सनराइजर्स से जुड़े बेयरस्टो ने 10 मैचों में 55.62 की औसत से 445 रन बनाए हैं।

हैदराबाद की तेज गेंदबाजी आक्रामण की जिम्मेदारी भुवनेश्वर कुमार पर
तेज गेंदबाजी आक्रामण की जिम्मेदारी भुवनेश्वर कुमार पर होगी। भुवनेश्वर ने दिसंबर 2019 के बाद से कोई भी पेशेवर मैच नहीं खेला है। 30 साल के भुवनेश्वर टीम के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ी हैं। उन्होंने 86 मैचों में 109 विकेट लिए हैं। उन्हें खलील अहमद, संदीप शर्मा, बैसिल थम्पी और सिद्धार्थ कौल से मदद की जरूरत होगी। सनराइजर्स अगर 2016 की फॉर्म को दोहराना चाहती है तो काफी कुछ उनके स्पिनरों पर निर्भर होगा कि वे यूएई की धीमी और नीची पिचों पर किस तरह का प्रदर्शन करते हैं। 

स्पिन अटैक की अगुआई राशिद खान और मोहम्मद नबी करेंगे
स्पिन अटैक की अगुआई अफगानिस्तान के राशिद खान करेंगे और इसमें उन्हीं के देश के मोहम्मद नबी उनका साथ देंगे। नबी ने इसी महीने खत्म हुई कैरीबियन प्रीमियर लीग (सीपीएल) में अच्छा प्रदर्शन किया था। नबी ने 12 मैचों में 5.19 की इकॉनोमी रेट से 12 विकेट लिए थे। अफगान की इस स्पिन जोड़ी के अलावा सनराइजर्स के पास बाएं हाथ के शाहबाज नदीम हैं। झारखंड का यह गेंदबाज अपनी सटीक लाइन लेंथ के लिए जाना जाता है। वॉर्नर की टीम के पास स्पिन ऑलराउंडरों के भी विकल्प हैं। यहां वह फाबियान ऐलेन, संजय यादव, अब्दुल समद, अभिषेक शर्मा में से चुन सकते हैं।

रॉयल चैलेंजर्स की सबसे बड़ी ताकत उसकी बल्लेबाजी
दूसरी तरफ रॉयल चैलेंजर्स लीग की उन तीन टीमों में से है जिसने अभी तक एक भी खिताब नहीं जीता है। कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स की सबसे बड़ी ताकत उसकी बल्लेबाजी है और उसके कप्तान बिना किसी संदेह के मौजूदा समय में सफेद गेंद के सबसे अच्छे बल्लेबाजों में से एक हैं। ऐसे में फैंस और टीम प्रबंधन उम्मीद करेंगे कि दाएं हाथ का यह बल्लेबाज 2016 की फॉर्म को दोहराए जहां, उन्होंने चार शतक लगाए थे।

एरॉन फिंच के आने से रॉयल चैलेंजर्स का टॉप ऑर्डर और मजबूत हुआ
कोहली के अलावा रॉयल चैलेंजर्स के पास टी-20 के सबसे खतरनाक बल्लेबाजों में से एक एबी डिविलियर्स है। रॉयल चैलेंजर्स की बल्लेबाजी कोहली और एबी के आसपास ही घूमती है। दोनों अगर चल जाते हैं तो रन बहते हैं। दोनों ने यह भी बताया कि मैदान पर फील्डिंग कैसे की जाती है। एरॉन फिंच के आने से टीम का टॉप ऑर्डर और मजबूत हुआ है। युवा देवदूत पडीकल, फिंच के साथ ओपनिंग कर सकते हैं। रॉयल चैलेंजर्स के पास ओपनिंग में जोशुआ फिलिपे का भी विकल्प है।

मध्य क्रम में रॉयल चैलेंजर्स के पास मोइन अली, शिवम दुबे और मौरिस जैसे बल्लेबाज
ऑल राउंडर क्रिस मौरिस का आना टीम के लिए फायदे का सौदा साबित हो सकता है। वह रॉयल चैलेंजर्स में उस फिनिशर की भूमिका में दिख सकते हैं, जिसकी टीम तलाश में थी। फ्रेंचाइजी ने मौरिस के अलावा इसुरु उदाना को टीम में डेथ ओवरों की समस्या को सुलझाने के लिए रखा है। उम्मीद है दोनों डेथ ओवरों में टीम के लिए प्रभावी गेंदबाजी कर सकेंगे। मध्य क्रम में रॉयल चैलेंजर्स के पास मोइन अली, शिवम दुबे और मौरिस हैं, और इन सभी में गेंदबाजी आक्रमणों पर तेजी से रन बनाने की क्षमता है।

रॉयल चैलेंजर्स के लिए डेल स्टेन तेज गेंदबाजी आक्रमण की अगुआई करेंगे
दक्षिण अफ्रीका के अनुभवी तेज गेंदबाज डेल स्टेन तेज गेंदबाजी आक्रमण की अगुआई करेंगे। नवदीप सैनी, उदाना, मोहम्मद सिराज और उमेश यादव के होने से टीम का गेंदबाजी आक्रमण बेहद खतरनाक दिखाई देता है। स्पिन में रॉयल चैलेंजर्स के पास युजवेंद्र चहल, पवन नेगी, एडम जाम्पा और वॉशिंगटन सुंदर के विकल्प हैं। कप्तान प्लेइंग-11 में किसे जगह देते हैं यह देखना होगा। यूएई की पिचों को देखते हुए इन सभी को आगे आना होगा। दोनों टीमों की तुलना की जाए तो सनराइजर्स का पलड़ा थोड़ा भारी है, लेकिन वेन्यू और कंडीशन में बदलाव, दुबई में यह मैच किसी के भी पक्ष में जा सकता है।

हेड-टु-हेड
सनराइजर्स हैदराबाद और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के बीच अब तक 15 मैच हुए हैं। जिसमें से हैदराबाद ने 8 जबकि बेंगलुरु ने 6 मैच जीते हैं। 1 मुकाबला बेनतीजा रहा है। पिछले दोनों सीजन की बात की जाए तो दोनों टीमों के बीच हुए 4 मैच में 2-2 से बराबरी रही है।

टीमें -

सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) - डेविड वॉर्नर (कप्तान), अभिषेक शर्मा, बैसिल थम्पी, भुवनेश्वर कुमार, बिली स्टानलेक, जॉनी बेयरस्टो, केन विलियम्सन, मनीष पांडे, मोहम्मद नबी, राशिद खान, संदीप शर्मा, शहबाज नदीम, श्रीवत्स गोस्वामी, सिद्धार्थ कौल, खलील अहमद, टी. नटराजन, विजय शंकर, रिद्धिमान साहा, विराट सिंह, प्रीयम गर्ग, मिशेल मार्श, संदीप बवांका, फाबियान ऐलेन, अब्दुल समद, संजय यादव।

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (RCB) - विराट कोहली (कप्तान), पार्थिव पटेल, एबी डिविलियर्स, क्रिस मौरिस, युजवेंद्र चहल, शिवम दुबे, एरॉन फिंच, उमेश यादव, एडम जाम्पा, वॉशिंगटन सुंदर, नवदीप सैनी, मोहम्मद सिराज, डेल स्टेन, मोइन अली, पवन नेगी, गुरकीरत मान सिंह, इसुरु उदाना, देवदूत पडीकल, शहबाज अहमद, जोशुआ फिलिपे, पवन देशपांडे।

कमेंट करें
JO0MX