comScore

लॉकडाउन के 74 दिनों में केंद्र सरकार की 10 इमारतें हुईं सील

June 06th, 2020 21:30 IST
 लॉकडाउन के 74 दिनों में केंद्र सरकार की 10 इमारतें हुईं सील

हाईलाइट

  • लॉकडाउन के 74 दिनों में केंद्र सरकार की 10 इमारतें हुईं सील

नई दिल्ली, 6 जून (आईएएनएस)। राष्ट्रीय राजधानी में केंद्र सरकार की 10 इमारतों को पिछले 74 दिनों में सील किया जा चुका है, क्योंकि विभिन्न मंत्रालयों के कई वरिष्ठ अधिकारी व कर्मचारी 67 दिनों के लॉकडाउन और छह दिनों के अनलॉक-1.0 के दौरान कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

जिन इमारतों को सील किया गया है, उनमें शास्त्री भवन शामिल हैं, जिसमें कई मंत्रालय हैं। इसके अलावा राजीव गांधी भवन, जिसमें नागरिक उड्डयन मंत्रालय, नीति आयोग भवन, रेल भवन, उद्योग भवन, बड़ौदा हाउस, श्रम शक्ति भवन, लोक नायक भवन, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) मुख्यालय और सीजीओ परिसर में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) मुख्यालय का एक हिस्सा शामिल है।

इनमें से लोक नायक भवन की पांचवीं और छठी मंजिल पर स्थित प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का मुख्यालय शामिल है, जो कि हाल ही में सील किया जाने वाला कार्यालय है। इस कार्यालय को शनिवार को 48 घंटों के लिए सील कर दिया गया, क्योंकि यहां एक निदेशक रैंक वाले अधिकारी सहित पांच ईडी कर्मचारियों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था।

सीलिंग ने लगभग एक दर्जन मंत्रालयों और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों को प्रभावित किया। प्रभावित मंत्रालयों में खुफिया ब्यूरो (आईबी), रसायन एवं उर्वरक, कानून एवं न्याय, जल शक्ति, मानव संसाधन विकास मंत्रालय, श्रम एवं रोजगार, उद्योग एवं वाणिज्य, रेलवे, नीति आयोग और आयकर निपटान आयोग (आईटीएससी) शामिल हैं।

शास्त्री भवन के ए विंग में स्थित कानून मंत्रालय में एक संयुक्त सचिव को तीन जून को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद इस क्षेत्र को दो दिनों के लिए सील कर दिया गया।

उसी दिन श्रम शक्ति भवन में श्रम एवं रोजगार मंत्रालय, स्वच्छता के लिए अगले दो दिनों के लिए बंद कर दिया गया, क्योंकि यहां दो कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए। वहां काम करने वाले सभी कर्मचारियों को घर से काम (वर्क फ्रॉम होम) करने के लिए कहा गया है।

वहीं लोक नायक भवन में आईटीएससी कार्यालय को भी दो दिनों (चार व पांच जून) के लिए बंद रखा गया, क्योंकि आयोग के उपाध्यक्ष तीन जून को कोरोना पॉजिटिवि पाए गए। अधिकारी 28 मई को कार्यालय में उपस्थित हुए थे और कई अधिकारियों के साथ सीधे संपर्क में आए थे। यही वजह है कि अब यह कायार्लाय आठ जून को खुलेगा।

कमेंट करें
MAEO4