मध्य प्रदेश : सरकार की बढ़ी चिंता , इंदौर के महू में मिले कोरोना के 30 मरीज

September 25th, 2021

हाईलाइट

  • महू में एक साथ मिले 30 कोरोना पॉजिटिव केस

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश की व्यापारिक नगरी इंदौर के महू में एक साथ 30 कोरोना संक्रमितों के मिलने से सरकार की चिंता बढ़ गई है। सरकार लगातार वैक्सीनेशन को प्रोत्साहित करने में लगी है ताकि इस महामारी के फैलाव को रोका जा सके। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खजुराहो सांसद विष्णु दत्त शर्मा के साथ सांसदों और मत्रियों से वर्चुअली संवाद कर आगामी 27 सितंबर को आयोजित वैक्सीनेशन के महाअभियान को सफल बनाने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री चौहान ने वर्चुअली संवाद में कहा कि कोरोना ने प्रदेश में भीषणतम परिस्थितियां निर्मित की थी। सबके परस्पर सहयोग और संघर्ष की भावना के कारण हम उन स्थितियों से बाहर आ पाए हैं। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना नियंत्रण में है। महू में एक साथ 30 कोरोना के पॉजिटिव केस मिले हैं। परिणामस्वरूप प्रदेश का कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 36 पर पहुंच गया है। इसका अर्थ यह है कि हमें कोरोना को लेकर सावधानी बरतने की आवश्यकता है।

मुख्यमंत्री चौहान ने इंदौर जिला प्रशासन को संक्रमण फैलने से रोकने के लिए आवश्यक सावधानियां बरतने के निर्देश देते हुए कहा मास्क लगाने और कोरोना प्रोटोकॉल से संबंधित आवश्यक सावधानियों का पालन निरंतर करते रहने के लिए लोगों को प्रेरित करना जरूरी है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा है कि 27 सितंबर को चलने वाले वैक्सीनेशन महाअभियान को जनता का अभियान बनाना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जीवन का डोज नि:शुल्क उपलब्ध कराया गया है। हमें सभी प्रदेशवासियों के जीवन को सुरक्षित करना है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि 27 सितम्बर हम सबके लिए संकल्प का दिन है। हमें प्रदेश के सभी पात्र व्यक्तियों को कोरोना वैक्सीनेशन का फर्स्ट डोज लगाकर मध्यप्रदेश को सुरक्षित बना देना है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि डॉक्टरों और वैज्ञानिकों का वैश्विक स्तर पर यह मत है कि कोरोना से सर्वाधिक सुरक्षा वैक्सीनेशन से ही संभव है। देश में वैक्सीनेशन के लिए विशेष गतिविधियां संचालित की जा रही हैं। प्रदेश में भी वैक्सीनेशन का पहला डोज लगभग 84 प्रतिशत आबादी को लग चुका है। यह अपने आप में बड़ी उपलब्धि है। इसके परिणामस्वरूप ही हम प्रदेशवासियों में संक्रमण की स्थिति को रोकने में सफल हो पाए हैं।

चौहान ने कहा कि वैक्सीनेशन के लिए लोगों को प्रेरित करने के उद्देश्य से सोशल मीडिया पर सघन अभियान चलाया जाए। वैक्सीनेशन के लिए सघन रूप से 25, 26, 27 सितंबर को प्रयास किए जाएं। वातावरण निर्माण के लिए डोंडी पिटवाने, होडिर्ंग के साथ-साथ प्रेस के माध्यम से भी गतिविधियां संचालित की जाएं।

(आईएएनएस)