comScore

उप्र : मऊ जिले में रेलवे के कोविड कोच का उपयोग शुरू

June 23rd, 2020 23:01 IST
 उप्र : मऊ जिले में रेलवे के कोविड कोच का उपयोग शुरू

हाईलाइट

  • उप्र : मऊ जिले में रेलवे के कोविड कोच का उपयोग शुरू

मऊ (उत्तर प्रदेश), 23 जून (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश सरकार ने मऊ जिले में रेलवे द्वारा तैयार कोविड-19 रेलवे डिब्बों का उपयोग शुरू कर दिया है। अब तक इन कोचों में कोरोना पॉजिटिव 59 लोगों को क्वारंटीन में रखा गया है, जबकि उनमें से आठ रोगियों को छुट्टी दे दी गई है।

आइसोलेशन कोच मऊ रेलवे स्टेशन पर पार्क किए गए हैं।

भारतीय रेलवे के गैर-वातानुकूलित कोचों को कोरोनावायरस रोगियों को रखने के लिए आइसोलेशन वार्ड में बदल दिया गया है। इसमें अभी 51 मरीज क्वारंटीन हैं।

रेलवे ने कहा, रेलवे से अब तक उत्तर प्रदेश, तेलंगाना और दिल्ली सरकार कोचों की मांग कर चुका है। बाकी कोचों को राज्यों द्वारा मांग पर दिया जाएगा।

मऊ के जिला अधिकारी ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी ने कहा, 20 जून को 42 कोरोना पॉजिटिव मरीज और रविवार को 17 पॉजिटिव रोगियों को मऊ जक्शन पर कोविड-19 कोच में क्वारंटीन किया गया।

उन्होंने कहा कि ये 59 लोग ऐसे हैं, जो कोरोना पॉजिटिव मामलों के संपर्क हैं, उन्हें क्वारंटीन किया गया है।

रेलवे ने अब तक पांच राज्यों दिल्ली, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में कुल 960 कोविड-19 केयर कोच लगाए गए हैं।

आइसोलेशन कोच राज्यों में राज्य सरकार के मुख्य चिकित्सा अधिकारी की पूरी देखभाल के अधीन हैं।

उत्तर प्रदेश में, 23 स्थानों पर 372 आइसोलेशन कोच लगाए गए हैं, जिसमें लखनऊ, वाराणसी, पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन, आगरा, भदोही, कानपुर, सहारनपुर, फैजाबाद, मिजार्पुर, झांसी, झांसी कार्यशाला, नखा जंगल, सूबेदारगंज, गोंडा, भटनी, नौतनवा, बहराइच, मंडुआडीह, फरु खाबाद, वाराणसी सिटी, मऊ, बरेली सिटी और कासगंज शामिल हैं।

इन कोचों का उपयोग बहुत हल्के लक्षण वाले मामलों के लिए किया जा सकता है, जिन्हें केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी दिशानिर्देशों के अनुसार कोविड-19 देखभाल केंद्रों को सौंपा जा सकता है।

कमेंट करें
Yktrv