comScore

Coronavirus Live Updates: भारत में क्या है COVID-19 की वर्तमान स्थिति, जानिएआपके लिए कितना खतरनाक है ये वायरस?


हाईलाइट

  • दुनिया भर में फैल रहे कोरोनावायरस की वजह से मौत का आकंड़ा 21,700 के पार
  • संक्रमित लोगों की संख्या 4 लाख 74 हजार से ज्यादा हो गई
  • भारत में इस वायरस से 650 से ज्यादा लोग वायरस से संक्रमित हो चुके हैं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दुनिया भर में फैल रहे कोरोनावायरस की वजह से मौत का आकंड़ा 21,700 के पार पहुंच गया है। वहीं संक्रमित लोगों की संख्या 4 लाख 74 हजार से ज्यादा हो गई है। भारत की बात की जाए तो इस वायरस से 650 से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं। 16 लोगों की इस वायरस से संक्रमित होने से मौत हुई है।

इस वायरस से मरने वालों की संख्या इससे संक्रमित होने वालों की तुलना में कम है। इससे पता चलता है कि ये वायरस इतना ज्यादा खतरनाक नहीं है। लेकिन सबसे बड़ी चिंता करने वाले बात ये हैं कि कोरोनावायरस एक इंसान से दूसरे इंसान में तेजी से फैलता है। अगर भारत में भी कम्युनिटी स्प्रैड हो जाए तो हमारे पास इतनी अच्छी हेल्थ फैसिलिटी नहीं है कि सभी लोगों का इलाज किया जा सके। ऐसे स्थिती में भारत के हालात इटली से भी खराब हो सकते हैं जहां की हेल्थ फैसिलिटी भारत की तुलना में काफी अच्छी है। बता दें कि इटली में कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 74 से ज्यादा हो गई है। जबकि 7,503 लोगों की कोरोना वायरस (COVID-19) से मौत हो चुकी है। 

वायरस की फैमिली है कोरोनावायरस
कोरोनावायरस किसी एक इकलौते वायरस का नाम नहीं है। यह वायरस की एक पूरी फैमिली है। इस वायरस का इंटरेस्टिंग फैक्ट ये हैं कि आपको जो सर्दी जुखाम होता है वो भी एक तरह का कोरोनावायरस है। 2002-2003 में सार्स वायरस फैला था, वो भी एक तरह का कोरोनावायरस था। अभी जो वायरस लोगों को संक्रमित कर रहा है वो भी एक तरह का कोरनावायरस है। 31 दिसंबर 2019 को ये चीन के शहर वुहान में पाया गया था। नए कोरनावायरस का नाम N-COV रखा गया है, यानी नोवल कोरोनावायरस। नोवल का मतलब होता है नया। ये वायरस इतना नया है कि चीन इसका नाम भी नहीं सोच पाया था और इसका नाम N-COV रख दिया। हालांकि बाद में वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) ने इसका नाम COVID-19 रखा।

क्या है कोरोनावायरस का ओरिजिनल सोर्स?
ज्यादातर कोरोनावायरस का ओरिजिनल सोर्स कोई न कोई जानवार ही होता है। ये इंसान को संक्रमित करता है और फिर ह्यूमन टू ह्यूमन ट्रांसमिशन से ये इंसानों के बीच फैल जाता है। सार्स के केस में ओरिजिनल सोर्स चमगादड़ था। मेर्स (MERS-CoV) कोरोनावायरस 2012-2013 में मिडिल ईस्ट में फैला था। इसका ओरिजिनल सोर्स ऊंट था। हालांकि जो नया कोरोनावायरस फैला है इसके ओरिजिनल सोर्स के बारे में अभी तक साफ तौर पर कोई जानकारी सामने नहीं आ पाई है। कुछ वैज्ञानिकों का मानना है कि इसका ओरिजिनल सोर्स सांप हो सकते हैं। जबकि कुछ का मानना है कि ये चमगादड़ हो सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि चमदागड़ से आने वाले कोरोनावायरस और इस नए कोरोनावायरस में 90 प्रतिशत समानता है।

कोरोनावायरस के लक्षण एक समान
इन सारे कोरोनावायरस के लक्षण एक दूसरे से समान है। जैसे खांसी, जुखाम, बुखार, सिरदर्द और गला खराब होना। जब आपको सीजनल फ्लू होता है तब भी ये सारे लक्षण दिखाई देते हैं। नए कोरोनावायरस के भी यही लक्षण है। इसी वजह से नए कोरोनावायरस और नॉर्मल फ्लू को बीच पहचान कर पाना मुश्किल होता है। कोरोनावायरस के एक्ट्रीम केस में आपको निमोनिया भी हो सकता है। डॉक्टर्स को इसकी पहचान करने के लिए लेबोरेटरी टेस्ट करना पड़ता है। नोवल कोरोनावायरस का इन्क्यूबेशन पीरियड 2-14 दिन के बीच का है। इसका मतलब है कि अगर आप संक्रमित हो गए हैं तो आपको लक्षण दिखने में 14 दिनों का समय लग सकता है।

कोरोनावायरस आपके लिए कितना खतरनाक?
ये वायरस आपके लिए कितना खतरनाक और जानलेवा है इसे समझने के लिए कुछ फैक्ट देखने होंगे। इस वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 4 लाख 74 हजार से ज्यादा है जबकि अब तक 21,700 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। यानी संक्रमित मरीजों की तुलना में मरने वालों की संख्या 4 प्रतिशत के करीब है। ये जो 4 प्रतिशत है, इसे हम मोर्टेलिटी रेट कहते हैं। मोर्टेलिटी रेट का मतलब है कि अगर आपको इंफेक्शन हो जाए तो जान जाने के कितने चांस है। एक स्टडी में पता चला है कि जिन लोगों की नए कोरोनावायस से मौत हुईं है उनका इम्यून सिस्टम पहले से ही किसी और वजह से कमजोर था। उनमें से ज्यादातर लोग बुजुर्ग थे। वायरसों के बारे में इंटरेस्टिंग फैक्ट ये भी है कि जो वायरस आसानी से फैलता है उसका मोर्टेलिटी रेट अपने आप ही कम होता है। वहीं जो वायरस आसानी से नहीं फैलते उनका मॉर्टेलिटी रेट ज्यादा होता है।

क्या है कोरोनावायरस का मोर्टेलिटी रेट?
इबोला का मॉर्टेलिटी रेट 70 प्रतिशत था। यानी अगर आपको इबोला हो जाएगा तो केवल 30 प्रतिशत चांस है कि आपकी जान बच जाएगी। लेकिन दुनिया भर में इबोला के सिर्फ 3000 केस देखने को मिले। दूसरी तरफ अगर हम कॉमन कोल्ड और चिकन पॉक्स का उदाहरण लेते हैं तो ये दोनों बहुत आसानी से फैलते हैं। कॉमन कोल्ड का मोर्टेलिटी रेट 0.01 परसेंट है। 2003 के सार्स का मोर्टेलिटी रेट 10 परसेंट था। अभी अंदाजा लगाया जा रहा है कि नए कोरोनावायरस का मोर्टेलिटी रेट 3% के आस-पास निकलेगा। इससे ये पता चलता है कि नया कोरोनावायरस.. सार्स, इबोला और मेर्स की तुलना में कम घातक है। क्योंकि इसका मोर्टेलिटी रेट इन सभी से कम है।

कैसे फैलता है वायरस?
नया कोरोनावायरस उसी तरह से फैलता है जैसे सर्दी जुखाम फैलता है। इससे बचने के तरीके वहीं है जिससे आप सर्दी जुखाम से बचते हैं। यूएस सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) ने बयान जारी करते हुए यात्रियों को वुहान में जानवरों के बाजारों में जाने से बचने की सलाह दी है। इसके अलावा ये भी कहा गया है कि वह बिना पका मीट न खांए। लोगों से कहा गया है कि वह इस रोग से संक्रमित लोगों के संपर्क में आने से बचे और अपने हाथों को साबुन और पानी से बार-बार धोए।

क्या-क्या सावधानी बरतनी चाहिए?
1) हाथों को बार-बार साबुन से धोना चाहिए. 
2) अल्‍कोहल आधारित हैंड रब का इस्‍तेमाल किया जाना चाहिए.
3) हाथों से बार-बार अपने चेहरे को छूने से बचे.
4) भीड़ भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचे. 
5) खांसते और छीकते समय नाक और मुंह रूमाल से ढक कर रखें.
6) जिन व्‍यक्तियों में कोल्‍ड और फ्लू के लक्षण हों उनसे दूरी बनाकर रखें. 
7) भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाना जरूरी हो तो फेस मास्क लगाए
8) पब्लिक प्लेसेज में लिफ्ट का बटन और दरवाजों के हैंडल जैसी चीजों को छूने से बचे

कोरोनावायरस की अभी तक कोई वैक्सीन नहीं ​​​​​
सोशल मीडिया पर कई सारे तरीके वायरल हो रहे हैं जिसमें कोरोना वायरस का इलाज बताया जा रहा है। लेकिन आपको बता दें कि कोरोनावायरस की अभी तक कोई वैक्सीन नहीं बन सकी है। अगर आपका इम्यून सिस्टम स्ट्रॉन्ग होगा तो ही आप कोरोनावायरस से बच सकते हैं। इसकी वैक्सीन को बनने में एक साल का समय लग सकता है। सार्स की वैक्सीन बनाने में भी 20 महीने लगे थे। 

कमेंट करें
2qI6l
NEXT STORY

साप्ताहिक राशिफल: कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक


मेष लग्नराशि (Aries):➤  कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ मेष राशि वालों को इस सप्ताह कार्यक्षेत्र अधिक परिश्रम करना पड़ सकता है। इस सप्ताह आपकी वाणी मधुर तथा लोगों को आकर्षित करेगी। पारिवारिक लोगों के साथ आप अच्छा समय व्यतीत करेंगे। आपकी आर्थिक स्थिति में कुछ सुधार संभव है। सेहत का ध्यान रखे आलस्य में वृद्धि हो सकती है। मानसिक नकारात्मकता बढ़ने से आप परेशान हो सकते है अतः इससे बचे। जीवनसाथी तथा प्रेमिका के साथ आपकी नजदीकियां बढ़ सकती है। सप्ताह का अंतिम भाग अचानक धन का लाभ दिला सकता है।     

वृषभ लग्नराशि (Taurus):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह वृषभ राशि वालों का जीवनसाथी के प्रति प्रेम बढ़ सकता है। पारिवारिक जीवन में कलह की स्थिति उत्पन्न हो सकती है अतः सतर्क बने रहे। इस सप्ताह आपको अपनी वाणी पर संयम बनाए रखने की जरूरत रहेगी। कार्यक्षेत्र के लिहाज से सप्ताह सामान्य बना रहेगा। व्यापारिक वर्ग को कुछ अच्छे लाभ मिलने के संकेत है। भाई बहनों से लाभ तथा सहयोग की प्राप्ति होगी। धार्मिक कार्यो के प्रति आपका रुझान अधिक बना रह सकता है। धन खर्च की अधिकता भी रहेगी। तनाव लेने से बचें।   

मिथुन लग्नराशि (Gemini) :➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह मिथुन राशि वालों को सेहत से जुडी कुछ समस्याएं परेशान कर सकती है। बेसमय का खान पान आपको दिक्क्त दे सकता है अतः ध्यान रखें। कार्यो को लेकर मन में थोड़ी परेशानी बनी रह सकती है। पारिवारिक तथा वैवाहिक जीवन में सामंजस्य बना कर चले, अन्यथा दिक्कतें मिल सकती है। सप्ताह के मध्य का समय आपके लिए लाभकारी बना रहेगा। चल रही दिक्क्तों में आपको राहत मिल सकती है। धन का व्यय आपकी आर्थिक स्थिति को खराब कर सकता है।  

कर्क लग्नराशि (Cancer):➤  कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह कर्क राशि वालों को शुरूआती दिनों में कोई मानसिक तथा शारीरिक कष्ट हो सकते है। पारिवारिक सदस्यों के साथ सुकून भरा समय व्यतीत होगा। जीवनसाथी की सेहत का ध्यान रखे। जीवनसाथी को चोट लगने की सम्भावना बन सकती है। आपको संतान से सुख तथा लाभ मिल सकता है। व्यापारी वर्ग के लिए सप्ताह चिंता भरा रह सकता है। इस सप्ताह आपको क्रोध तथा तनाव से दूर रहने की सलाह है। सप्ताह का अंतिम भाग आपके लिए अच्छा रहेगा कोई शुभ समाचार आपको मिल सकता है।    

सिंह लग्नराशि (Leo): ➤  कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह सिंह राशि वालों को धन सम्बन्धी मामलों को लेकर चिंता बनी रह सकती है। सेहत को लेकर चल रही परेशानी में इस सप्ताह आपको राहत मिल सकती है। कार्यक्षेत्र में आपके लिए सामान्य स्थिति बनी रहेगी। इस सप्ताह की शुरुआत में संतान से आपके मतभेद हो सकते है या उनकी सेहत परेशान कर सकती है। छात्र वर्ग के लोग आलस्य भरा सप्ताह व्यतीत करेंगे। पारिवारिक सदस्यों के साथ आपके सम्बन्ध अच्छे तथा मधुर बने रहेंगे। सप्ताह के अंतिम दिन कोई अच्छी खबर आपको प्रसन्न कर सकती है।  

कन्या लग्नराशि (Virgo):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह कन्या राशि वालों को कार्यक्षेत्र में कार्य से सम्बंधित समस्या बनी रह सकती है। इस सप्ताह आप माता तथा संतान को लेकर परेशान हो सकते है। इस राशि से सम्बंधित गर्भवती महिलायें अपना ध्यान रखें। आपका पारिवारिक जीवन सामान्य रूप से व्यतीत होगा। जुए -सट्टे में आपको धन हानि होने की सम्भावना रहेगी। सेहत के लिहाज से सप्ताह  ठीक बना रहेगा। इस सप्ताह तनाव तथा चिड़चिड़ापन बढ़ सकता है अतः बचे।  

तुला लग्नराशि (Libra):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह तुला राशि वालों की धर्म-कर्म में भागीदारी बढ़ सकती है। आप धार्मिक कथाओं में अधिक रूचि लेंगे। छोटे मोटे कार्यो को लेकर कार्यक्षेत्र में आपकी गतिविधि बनी रह सकती है। इस सप्ताह बुद्धि संबंधी चर्चाओं में आप भाग ले सकते है। सेहत के लिहाज से सप्ताह अच्छा बना हुआ है। पारिवारिक सदस्यों के साथ सामंजस्य बना रहेगा तथा जीवनसाथी के साथ सम्बन्ध मधुर रहेंगे। सप्ताह के अंतिम भाग में अचानक धन का लाभ हो सकता है।

वृश्चिक लग्नराशि (Scorpio):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह वृश्चिक राशि वालों को मानसिक तथा शारीरिक तकलीफ परेशान कर सकती है। जीवनसाथी तथा बच्चों के साथ अच्छा समय व्यतीत कर सकते है। इस सप्ताह आप पारिवारिक जिम्मेदारियों का निर्वाह अच्छी तरह से करेंगे। लेखन के कार्यो से जुड़े हुए जातको के लिए यह सप्ताह फलदायी साबित हो सकता है। प्रेमी वर्ग को अच्छे समाचार मिल सकते है। इस सप्ताह आप साफ़ सफाई पर अधिक ध्यान दे सकते है। छात्र वर्ग को यह सप्ताह  विशेष लाभ देने वाला रहेगा, विशेषकर उच्च शिक्षा वर्ग के छात्रों को।

धनु लग्नराशि (Sagittarius):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह धनु राशि वालों को अपने पारिवारिक तथा वैवाहिक जीवन में संघर्ष करना पड़ सकता है। अपने निजी जीवन में अपने क्रोध तथा वाणी पर अंकुश रखना आपके लिए हितकारी सिद्ध होगा। सेहत को लेकर भी इस सप्ताह आप परेशान बने रह सकते है। आँखों तथा सिरदर्द की तकलीफ परेशान कर सकती है। धन सम्बन्धी मामलों को लेकर कुछ परेशानी हो सकती है। घरेलु सामग्री पर आपका धन का खर्च हो सकता है। कार्यक्षेत्र में स्थितियां सामान्य रहेगी।

मकर लग्नराशि (Capricorn):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह मकर राशि वालों को संतान सुख मिलेगा। कार्यक्षेत्र के लिहाज से सप्ताह का मध्य भाग आपके लिए अच्छा रहेगा। सेहत से जुडी कोई समस्या इस सप्ताह आपको परेशान कर सकती है। पारिवारिक तथा वैवाहिक जीवन सामान्य बना रहेगा। जीवनसाथी को इस सप्ताह अच्छे फल प्राप्त हो सकते है। वाहन चलाते समय सतर्कता बरतें। इस सप्ताह क़ानूनी नियमों का पालन करें अन्यथा कष्ट मिल सकते है। धन व्यय की अधिकता के चलते परेशान हो सकते है।    

कुंभ लग्नराशि (Aquarius):➤  कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह कुंभ राशि वालों को आय से सम्बंधित मामलों में असफलता हाथ लग सकती है। आपकी सुविधाओं में वृद्धि होगी। आपका खान पान उच्च कोटि का रहेगा। आप पारिवारिक सदस्यों तथा मित्रों के साथ अधिक समय व्यतीत करेंगे। जीवनसाथी के साथ प्रेम भाव में वृद्धि होगी। अहंकार से दूर बने रहे उचित रहेगा। सेहत का ध्यान रखे चोट लग सकती है। छात्र वर्ग के लोग इस सप्ताह अपने जरुरी कार्य पूर्ण करने में आलस्य करेंगे। संतान से मतभेद संभव है।   

मीन लग्नराशि (Pisces):➤  कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह  मीन राशि वालों को अपनी दैनिक सुख सुविधाओं में कुछ कमी मिल सकती है। कार्यक्षेत्र में स्थितियां गंभीर बनी रह सकती है। धन से जुड़े मामलों के लिए आपको अधिक परिश्रम करना पड़ेगा। छात्र वर्ग इस सप्ताह अपने सभी कार्य आने वाले कल पर टाल सकते है। संतान की सेहत का ध्यान रखे। सप्ताह के मध्य में आपको कोई छोटा धन का लाभ मिल सकता है। माता -पिता की सेहत का ध्यान रखे। इस सप्ताह आपके मान-सम्मान में वृद्धि हो सकती है। तनाव से खुद को दूर रखें।

Kalashantijyotish (कलाशांति ज्योतिष) 
Call: - +91-6261231618 
http://www.kalashantijyotish.com