comScore

कोहराम: शेयर बाजार में एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट, निवेशकों के 11 लाख करोड़ रुपए डूबे

कोहराम: शेयर बाजार में एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट, निवेशकों के 11 लाख करोड़ रुपए डूबे

हाईलाइट

  • कोरोना के कहर से गुरुवार को फिर बाजारों में कोहराम मच गया
  • शेयर बाजार में एक दिन में अब तक की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गई
  • सेंसेक्स और निफ्टी में 8% से ज्यादा लुढ़क गया

डिजिटल डेस्क, मुंबई। कोरोना के कहर से गुरुवार को फिर बाजारों में कोहराम मच गया। गुरुवार को भारतीय शेयर बाजार में एक दिन में अब तक की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गई। इस गिरावट से निवेशकों के करीब 11 लाख करोड़ रुपए डूब गए। BSE की कंपनियों का टोटल मार्केट कैप 1,25,86,398.07 करोड़ रुपये पर आ गया। बेंचमार्क इक्विटी इंडेक्स सेंसेक्स और निफ्टी में 8% से ज्यादा लुढ़क गया। सेंसेक्स 2,919 अंक लुढ़ककर 32,778 पर और निफ्टी 868 अंक टूटकर 9,590 पर बंद हुआ। सबसे ज्यादा गिरावट सरकारी बैंकों के शेयरों में देखने को मिली।

कैसा रहा दिनभर का कारोबार?
सेंसेक्स सुबह 1224.90 अंकों की गिरावट के साथ 34,472.50 पर खुला और 2,919.26 (8.18%) की गिरावट के साथ 32,778.14 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में सेसेंक्स ने 34,472.50 के ऊपरी और 32,493.10 के निचले स्तर को छुआ। जबकि निफ्टी 418.45 अंक की गिरावट के साथ 10,039.95 पर खुला और 868.25 (8.30%) की गिरावट के साथ 9,590.15 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 10,040.75 के ऊपरी और 9,508.00 के निचले स्तर को छुआ।

मिडकैप और स्मॉलकैप में भी गिरावट
BSE का मिडकैप इंडेक्स 1,052.78 (7.84%) की गिरावट के साथ 12,380.36 पर बंद हुआ जबकि स्मॉलकैप इंडेक्स 1,110.26 (8.72%)की गिरावट के साथ 11,614.89 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी के मिडकैप 100 इंडेक्स में (8.08%) की गिरावट देखी गई। यह 14,243.05 के स्तर पर बंद हुआ। निफ्टी का स्मॉलकैप 100 इंडैक्स (9.55%) की गिरावट के साथ 4,671.00 के स्तर पर बंद हुआ।

NSE पर सभी 11 सेक्टोरल इंडेक्स लाल निशान में
NSE पर सभी 11 सेक्टोरल इंडेक्स लाल निशान में बंद हुए। सबसे ज्यादा गिरावट निफ्टी पीएसयू बैंक इंडेक्स में देखी गई। यह 13.16% की गिरावट के साथ बंद हुआ। वहीं निफ्टी का बैंक इंडेक्स 9.50%, निफ्टी ऑटो 8.15%, निफ्टी फाइनेंशियल सर्विस 8.80%, निफ्टी एफएमसीजी 7.11%, निफ्टी आईटी 8.83%, निफ्टी मीडिया 10.32%, निफ्टी मेटल 9.38%, निफ्टी फार्मा 8.93%, निफ्टी प्राइवेट बैंक 9.04% और निफ्टी रिएल्टी में 9.77% की गिरावट देखी गई।

BSE के सभी 19 सेक्टरों के सूचकांकों में गिरावट
बीएसई के सभी 19 सेक्टरों के सूचकांकों में गिरावट दर्ज की गई और सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच सेक्टरों में तेल एवं गैस (9.82 फीसदी), रियल्टी (9.50 फीसदी), धातु (9.39 फीसदी), बैंक इंडेक्स (9.38 फीसदी) और आधारभूत सामग्री (9.19 फीसदी) शामिल रहे। बीएसई पर कुल 2,895 शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें से महज 274 शेयरों में बढ़त रही जबकि 2,485 शेयरों में गिरावट दर्ज की गई। कारोबार के आखिर में 136 शेयर फ्लैट बंद हुए।

सेंसेक्स के सभी 30 शेयरों में गिरावट
सेंसेक्स के सभी 30 शेयरों में गिरावट दर्ज की गई जिनमें से सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच शेयरों में एसबीआईएन (13.23 फीसदी), ओएनजीसी (12.63 फीसदी), एक्सिस बैंक (12.27 फीसदी), आईटीसी (11.07 फीसदी) और बजाज ऑटो (9.79 फीसदी) शामिल रहे। वहीं निफ्टी के भी सभी 50 शेयरों में गिरावट देखी गई। सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच शेयरों में यस बैंक (13.02 फीसदी), यूपीएल (12.95 फीसदी), वीईडीएल (12.61 फीसदी), हिंडाल्को (12.26 फीसदी) और ओएनजीसी (12.13 फीसदी)

क्या कहते हैं मार्केट एक्सपर्ट
मार्केट एक्सपर्ट कहते हैं कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने वायरस को 'महामारी' के रूप में घोषित किया है जिससे निवेशकों में घबराहट है। इसके अलावा, कच्चे तेल की कीमत और करंसी मूवमेंट निवेशकों के रडार पर होंगे। इसलिए, हमें उम्मीद है कि दुनिया भर में अनिश्चितता को देखते हुए बाजार में उतार-चढ़ाव अधिक रहेगा। निवेशकों के लिए इस बाजार से थोड़ी देर के लिए दूर रहना सबसे अच्छा है।

भारतीय शेयर बाजार की पांच बड़ी गिरावट

तारीखसेंसेक्स गिरावट (अंक)

12 मार्च 2020

2919

09 मार्च 2020

1942

24 अगस्त 2015

1625

28 फरवरी 2020

1448

21 जनवरी 2008

1408

24 अक्टूबर 2008

1071 

कमेंट करें
mrpfi