comScore

पित्रोदा का बयान दुर्भाग्यपूर्ण और पाक की बातों का समर्थक : अरुण जेटली

पित्रोदा का बयान दुर्भाग्यपूर्ण और पाक की बातों का समर्थक : अरुण जेटली

हाईलाइट

  • पुलवामा हमले पर सवाल करने वाले सैम पित्रोदा को वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आड़े हाथों लिया है।
  • जेटली ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ युद्ध बैकफुट पर खेलकर नहीं जीता जा सकता है
  • अरुण जेटली ने कहा कि ''किसी कांग्रेसी द्वारा ऐसा कहा जाना काफी दुखद है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पुलवामा आतंकी हमले और एयर स्ट्राइक पर सवाल करने वाले सैम पित्रोदा को वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आड़े हाथों लिया है। जेटली ने पित्रोदा के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण और पाकिस्तान का समर्थन करार दिया है। जेटली ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ युद्ध बैकफुट पर खेलकर नहीं जीता जा सकता है, भारतीय सुरक्षा डाक्टरीन और विकसित हुई है कि अब ना केवल बचाव करते हैं, बल्कि आतंक की जड़ तक जाते हैं और हमला करते हैं। बता दें कि कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के करीबी माने जाने वाले पित्रोदा ने पुलवामा हमले को लेकर कहा था कि इस तरह से दुनिया से ऐसे निपटा नहीं जा सकता है। 

देश की भावना होती है आहत
वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि पाकिस्तान के अलावा किसी भी राष्ट्र ने सर्जिकल स्ट्राइक या एयर स्ट्राइक की आलोचना नहीं की। कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की भाषा देश की भावनाओं को आहत कर रही है। पुलवामा हमले को सुनियोजित बताया जाना पाकिस्तान के लिए वरदान की तरह है।

अरुण जेटली ने कहा कि ''किसी कांग्रेसी द्वारा ऐसा कहा जाना काफी दुखद है। मुझे लगता है कि इस तरह के लोगों को भारत की सुरक्षा, जवानों की भावनाओं और आतंकवाद की वजह से बीते तीन दशकों तक सहे दुख, दर्द से कोई लेना देना नहीं है।''

पीएम मोदी भी दे चुके हैं जवाब
अरुण जेटली से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी सैम पित्रोदा पर पलटवार कर चुके हैं। पीएम ने ट्वीट किया कि कांग्रेस आतंकियों को जवाब देने के लिए तैयार ही नहीं थी। यह एक न्यू इंडिया है- हम आतंकवादियों को उस भाषा में जवाब देंगे जो वे समझते हैं और ब्याज के साथ!

क्या कहा पित्रोदा ने
इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के चीफ सैम पित्रोदा कहा पुलवामा हमले के लिए पूरे पाकिस्तान पर आरोप लगाना सही नहीं है। उन्होंने मुंबई हमले के लिए पूरे पाकिस्तान को दोषी बताने को गलत करार दिया है। सैम पित्रौदा ने कहा, मैं हमले के बारे में ज्यादा नहीं जानता। यह हर तरह के हमले की तरह है। मुंबई में भी ऐसा हुआ था। हमने इस बार रिएक्ट किया और कुछ जहाज भेज दिए, लेकिन यह सही तरीका नहीं है। 

एयर स्ट्राइक के सबूत को लेकर पित्रोदा ने कहा, मैं एयर स्‍ट्राइक में 300 से अधिक आतंकियों के मारे जाने की बात मानता हूं, लेकिन मैं चाहता हूं कि आप हमें इससे जुड़े और तथ्‍य दें। उन्‍होंने कहा, मैने न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स और दूसरे अखबारों की रिपोर्ट पढ़ी है, उसमें कहा गया है हमले में कोई भी नहीं मारा गया। ऐसे में मैं इस बारे में और तथ्‍य जानना चाहता हूं।

कमेंट करें
ymq0L