comScore

सेल्फी वीडियो बताएगा आपका ब्लड प्रेशर, जानें इस तकनीक के बारे में 

सेल्फी वीडियो बताएगा आपका ब्लड प्रेशर, जानें इस तकनीक के बारे में 

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। स्मार्टफोन में सेल्फी कैमरे को लेकर युवाओं में काफी क्रेज देखने को मिलता है। इसी को ध्यान में रखते हुए दुनियाभर की कंपनियों ने शानदार सेल्फी वाले हैंडसेट बाजार में पेश किए हैं। यूजर्स सेल्फी का इस्तेमाल सोशल मीडिया पर पोस्ट करने संबंधी ही करता है। लेकिन शायद ही आपने कभी सोचा हो कि आपकी सेल्फी आपको ब्लड प्रेशर के बारे में जानकारी देगी, लेकिन यह सच है। ऐसे में भविष्य में आपको ब्लड प्रेशर चेक कराने के लिए किसी भी डॉक्टर या फार्मासिस्ट के पास जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। हाल ही में एक रिसर्च में यह बात सामने आई है, क्या है ये तकनीक आइए जानते हैं...

शोधकर्ताओं का दावा
दरअसल यूनिवर्सिटी ऑफ टोरंटो के शोधकर्ता कांग ली और उनकी सहयोगी पाउल जेंग ने ट्रांसडर्मल ऑप्टिकल इमेजिंग (टीओआई) नाम की एक तकनीक विकसित की है, जिसकी मदद से ब्लडप्रेशर को मापा जा सकेगा। कनाडा और चीन के शोधकर्ताओं के अनुसार अब सिर्फ एक सेल्फी वीडियो की मदद से आप अपना ब्लड प्रेशर जान सकेंगे। शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि सेल्फी वीडियो से ब्लड प्रेशर का पता लगाया जा सकता है। 

तकनीक को यह दिया नाम
वैज्ञानिकों द्वारा विकसित की गई इस तकनीक को ट्रांसडर्मल ऑप्टिकल इमेजिंग नाम दिया है, जिसके जरिए चेहरे की स्किन से ब्लड प्रेशर का पता लगाया जा सकता है। रिसर्च के दौरान 2 मिनट के सेल्फी वीडियो का इस्तेमाल किया गया था। वैज्ञानिकों के मुताबिक इसकी टेस्टिंग के लिए चीन और कनाडा के 1,328 लोगों पर रिसर्च किया गया। रिसर्च के दौरान 96 प्रतिशत तक सटीक परिणाण सामने आए। टेस्टिंग के दौरान 3 तरह के ब्लड प्रेशर मापने में सफलता मिली। 

ऐसे काम करती है तकनीक
हमारे चेहरे की त्वचा थोड़ी पारदर्शी होती है। यह तकनीक इसी आधार पर काम करती है। स्मार्टफोन पर मौजूद ऑप्टिकल सेंसर हमारी त्वचा के नीचे से आने वाली हिमोग्लोबिन की लाल रोशनी को कैप्चर कर सकते हैं। टीओआई तकनीक इस रोशनी से हमारे शरीर में हो रहे रक्त प्रवाह की पहचान करती है। इसके लिए न्यूरालॉजिक्स नाम की कंपनी ने एनुरा एप भी लॉन्च किया है जो 30 मिनट के सेल्फी विडियो से धड़कन और तनाव के स्तर की जानकारी देता है। इस एप को जल्द ही ब्लड प्रेशर का पता लगाने के लिए जारी किया जाएगा।

सुरक्षा को नहीं खतरा
शोधकर्ताओं ने 1328 वयस्कों की 2 मिनट के सेल्फी वीडियो का विश्लेषण किया जो आईफोन के कैमरे से बनाए गए थे। मानक रक्तचाप की माप की तुलना में  यह तकनीक तीन तरह के रक्तचाप को माप सकती है। इस तकनीक की सटीकता 95 फीसदी पाई गई है। कंपनी के संस्थापक ली के अनुसार एप लोगों के चिकित्सकीय डाटा को क्लाउड पर स्टोर करता है, लेकिन यह लोगों की वीडियो सेल्फी को कहीं भी स्टोर नहीं करता। इस एप के प्रयोग में सुरक्षा का कोई हनन नहीं होता। 
 

कमेंट करें
6UXt4