comScore

बुंदेलखंड के चर्चित अखाड़े में हुआ जबरदस्त दंगल -देश भर के आए पहलवान

बुंदेलखंड के चर्चित अखाड़े में हुआ जबरदस्त दंगल -देश भर के आए पहलवान

डिजिटल डेस्क पन्ना। बुंदेलखंड में पुराने जमाने से जबरदस्त कुश्ती होती रही है आल्हा उदल से लेकर तमाम पहलवान हुये लेकिन बीते कुछ वर्षों से यहां की कुश्ती विलुप्त सी होती जा रही है लेकिन कुश्ती का शौक लोगों में कम नहीं हुआ है । आज बुंदेलखंड की चर्चित अखाड़ों में से एक धरमपुर की दूरियां अखाड़े में कुश्ती का आयोजन किया गया जिसमें पूरे बुंदेलखंड के कुश्ती प्रेमी शामिल हुये । इस चर्चित कुश्ती में हरियाणा पंजाब दिल्ली मेरठ उत्तर प्रदेश मध्य प्रदेश से लेकर तमाम क्षेत्रों के पहलवान आये और कई मनोरंजक खुशियां देखने को मिली। मेरठ से आये पहलवान ने जबरदस्त कुश्ती खेली और हरियाणा के पहलवान को पछाड़ दिया जिससे अचानक माहौल गर्म हो गया । विजेता पहलवान ने कहा कि पहली बार बुंदेलखंड आया हूं लेकर जिस तरह से इस इलाके में कुश्ती के प्रति प्रेम है उसकी तारीफ होनी चाहिये । 
प्राचीन समय में नामी पहलवान हुये 
सुना था बुंदेलखंड में प्राचीन समय में नामी पहलवान हुये हैं लेकिन अब पहलवानों की कमी हो गई है सरकार यदि प्रोत्साहन करें तो इस इलाके में और बड़े पहलवान निकल सकते हैं । विजेता जाकिर चौधरी ने कहा कि कुछ कुश्ती को प्रोत्साहित किया जाना चाहिये। जाकिर चौधरी पहलवान ने जीतने के बाद सभी पहलवानो  को चैलेंज कर दिया तो उत्तर प्रदेश के चित्रकूट से आये पहलवान को यह गवारा नहीं हुआ और उसने अपने से वजनदार पहलवान को कुश्ती की ताल ठोक दी और पहले राउंड में 7 मिनट तक जबरदस्त कुर्सी कुश्ती हुई । बराबर की कुश्ती देख लोग उत्साहित थे इस रोमांचकारी कुश्ती का परिणाम निकालने के लिये आयोजकों ने 3 मिनिट का और समय बढ़ाया पर पहलवानों में एक से बड़ा एक पहलवान देखते हुये दोनों ने जबरदस्त ताकत लगाई । कुश्ती का परिणाम नहीं निकला और बराबरी की कुश्ती हुई । इससे पहले करीब दो दर्जन पहलवानों ने कुश्ती लड़ी और दर्शकों का खूब मनोरंजन किया ।सुलोचन द्विवेदी पहलवान ने कहा कि यदि सरकार हम जैसे गांव के पहलवानों को प्रोत्साहित करें तो हम भी राष्ट्रीय स्तर पर मेडल जीत सकते हैं । इस बीच मंच से संबोधित करते हुये पन्ना विधायक बृजेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि पवई में हम सुशील कुमार जैसे नामी पहलवान को लेकर आये थे जहां उसकी के प्रति लोगों में रुझान कम है लेकिन धरमपुर क्षेत्र में जिस तरीके से भारी भीड़ कुश्ती देखने पहुंची है और इस इलाके का कुश्ती प्रेम देखकर लगता है कि कुश्ती के कई बड़े अखाड़े शुरू किये जाने चाहिये ।
 

कमेंट करें
jMhRY