• Dainik Bhaskar Hindi
  • State
  • Both sides and opposition heated up on misbehavior with Congress MLA Amba Prasad in Babadham temple in Jharkhand, the government ordered an inquiry

विधायक से बदसलूकी : झारखंड में बाबाधाम मंदिर में कांग्रेस विधायक अंबा प्रसाद से बदसलूकी पर पक्ष-विपक्ष दोनों गरम, सरकार ने दिया जांच का आदेश

March 3rd, 2022

हाईलाइट

  • मंदिर में भारी अव्यवस्था

डिजिटल डेस्क, रांची। झारखंड के प्रसिद्ध बाबाधाम मंदिर में कांग्रेस की विधायक अंबा प्रसाद से बदसलूकी के मामले पर बुधवार को झारखंड विधानसभा का माहौल गरम रहा। पक्ष-विपक्ष के विधायकों ने इसे गंभीर मामला बताते हुए राज्य सरकार से कार्रवाई की मांग की। स्पीकर रबींद्रनाथ महतो ने इसपर नियमन दिया कि सरकार मामले की जांच करवाकर आवश्यक कार्रवाई करे। इसके बाद राज्य के संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम ने सदन को आश्वस्त किया कि मामले की जांच कराई जाएगी और दोषी अफसर के खिलाफ एक्शन लिया जायेगा।

बता दें कि बड़कागांव विधानसभा क्षेत्र की कांग्रेस विधायक अंबा प्रसाद मंगलवार को शिवरात्रि के उपलक्ष्य में देवघर स्थित बाबाधाम मंदिर में पूजा करने गई थीं। उन्होंने बुधवार को विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही सदन को बताया कि मंदिर में भारी अव्यवस्था थी। भीड़ में कई महिलाओं की साड़ी फंस गई थी। वो धक्का-मुक्की के बीच कुचली जा रही थीं। उन्होंन ेबाबा मंदिर में तैनात किये गये एसडीओ को बाहर बुलाना चाहा तो उन्होंने आने से इनकार कर किया। उनके पीए को घसीटकर निकाल दिया गया। वह एसडीओ के पास गईं। उन्होंने उनका अभिवादन किया, लेकिन एसडीओ ने इसका भी जवाब नहीं दिया। उन्होंने उनकी शिकायत पर भी ध्यान नहीं दिया। यह सदन की गरिमा का अपमान है। भाजपा के विधायक बिरंची नारायण ने इसे गंभीर मामला बताया। उन्होंने कहा कि यह पूरे सदन का अपमान है। उन्होंने कहा कि सीएम खुद मंदिर प्रबंधन कमेटी के प्रमुख हैं। इसके बावजूद यहां विधायक का इस तरह अपमान बेहद गंभीर मामला है। कांग्रेस विधायक इरफान अंसारी ने भी इस मामले में एक्शन लेने की मांग की।

बाद में सदन के बाहर मीडिया से बात करते हुए कांग्रेस की विधायक दीपिका पांडेय सिंह ने कहा कि एक जनप्रतिनिधि के साथ इस तरह का व्यवहार बर्दाश्त किये जाने लायक नहीं है। कांग्रेस की एक और विधायक पूर्णिमा नीरज सिंह ने भी इस मामले को लेकर गहरी नाराजगी जताई है। उन्होंने घटना से जुड़े एक वीडियो के साथ सीएम को ट्वीट किया है कि यह अस्वीकार्य है मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी। अगर हम किसी निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाली महिला के अधिकारों और सम्मान की रक्षा नहीं कर सकते हैं तो हम महिला दिवस पर झूठे लेक्च र नहीं दे सकते।

देवघर के भाजपा विधायक नारायण दास ने कहा कि एक जनप्रतिनिधि से दुर्व्यवहार के मामले को सरकार गंभीरता के साथ ले और आवश्यक कार्रवाई करे। इस बीच देवघर डीसी मंजूनाथ भजंत्री ने इस मामले की जांच का आदेश दिया है। उन्होंने डीडीसी ताराचंद्र को अंबा प्रसाद से जुड़े मामले की जांच कर 48 घंटे में रिपोर्ट देने को कहा है ताकि आगे की कार्रवाई की जा सके।

 

(आईएएनएस)

खबरें और भी हैं...