comScore

कम समय में अधिक देने के बहाने निवेशकों की रकम हजम

कम समय में अधिक देने के बहाने निवेशकों की रकम हजम

डिजिटल डेस्क नागपुर। धनलक्ष्मी इंफ्रा एंड एग्रो फार्मिंग इंडिया लिमिटेड कंपनी के संचालक मंडल पर अपराध शाखा के आर्थिक विभाग ने शिकंजा कसा है। कंपनी के एक संचालक को भंडारा जिले के तुमसर से गिरफ्तार किया। आरोप है कि कम समय में ज्यादा मुनाफा कमाने का लालच देकर संचालकों ने कई लोगों के साथ धोखाधड़ी की है। आरोप है कि तुमसर निवासी कृष्णा डालीराम पटले ने वर्ष 2011 में पार्टनर अभिराम तमंग, संजय चौधरी हिवरी नगर नागपुर निवासी और अन्य के साथ मलकर धनलक्ष्मी इंफ्रा एंड एग्रो फार्मिंग इंडिया लिमिटेड की स्थापना की थी। कंपनी की आड़ में निवेशकों से लुभावने वादे किए गए। कहा गया था कि कंपनी में निवेश करने पर ज्यादा ब्याज मिलेगा। इससे तमाम लोग इस कंपनी से जुड़ गए।

एजेंट के जरिए उनसे रकम ली गई, लेकिन इसकी समयावधि खत्म होने के बाद भी निवेशकों को उनकी रकम ब्याज सहित नहीं लौटाई गई। अब निवेशकों ने हंगामा शुरू कर दिया है। इस बीच संचालक कंपनी का दफ्तर बंद कर भाग गए। निवेशक यशवंत रहाटे (52) टेकड़ीवाड़ी निवासी की शिकायत पर नंदनवन थाने में प्रकरण दर्ज किया गया था। मामला लाखों रुपए से जुड़ा होने के कारण अपराध शाखा के आर्थिक विभाग को इसकी जांच सौंपी गई थी। मंगलवार को अपराध शाखा की टीम ने तुमसर में छापामार कार्रवाई कर संचालक कृष्णा पटेल को िगरफ्तार किया। मंगलवार की दोपहर अदालत में पेश कर उसे 7 अगस्त तक पीसीआर में लिया गया है। 

कमेंट करें
XBJ0w