खूनी संघर्ष: मुंबई बम विस्फोट कांड में फांसी की सजा पाए कैदी ने मकाेका कैदी पर किया हमला

July 21st, 2022

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  सेंट्रल जेल में एक सजायाफ्ता कैदी द्वारा दूसरे सजायाफ्ता कैदी पर हमला किए जाने का मामला सामने आया है।  मध्यवर्ती कारागृह (सेंट्रल जेल) में मुंबई बम विस्फोट कांड में फांसी की सजा पाए कैदी ने मकोका की सजा भुगत रहे कैदी पर हमला किया है। मामूली बात को लेकर यह हमला किया गया है। घटना सेंट्रल जेल के अंदर हुई। घटना को लेकर कई तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं।

देख लेने की धमकी दी थी : पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार,  मीरा रोड, ठाणे निवासी  नावेद हुसैन खान रशीद हुसैन खान ने जुलाई 2006 में अपने करीब 12 साथियों के साथ मिलकर मुंबई में लोकल ट्रेन में 7 ठिकानों पर बम विस्फोट किया था। इस बम विस्फोट कांड में 187 लोगों की मौत हो गई थी और 817 लोग गंभीर जख्मी हो गए थे। मुंबई आतंकवाद विरोधी (एटीएस) दस्ते ने नावेद खान को साजिश रचने के आरोप में गिरफ्तार किया था। उसे न्यायालय ने फांसी की सजा सुनाई है। उसे नागपुर मध्यवर्ती कारागृह में रखा गया है। कुछ दिनों पहले नावेद खान और मकोका के आरोपी जुल्फिकार जब्बार गनी के बीच िववाद हो गया था। तब नावेद ने जुल्फिकार को देख लेने की धमकी दी थी। बुधवार को शाम करीब 7 बजे फांसी यार्ड के पास बैरक नंबर 4 में  नावेद ने दुपट्टे में पत्थर बांधकर जुल्फिकार पर हमला कर दिया। सिर पर चोट लगने से जुल्फिकार जख्मी हो गया। अन्य कैदियों ने बीच-बचाव करते हुए दोनों का विवाद छुड़ाया। कारागृह अधीक्षक अनूप कुमरे की शिकायत पर धंतोली पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।