comScore

राजनांदगांव : उम्मीदों के जुगनू जब झिलमिलाते हैं, तब ख्वाब हकीकत में बदलते हैं : वनांचल में स्वसहायता समूह की महिलाओं ने की वाटर फिल्टर प्लांट की शुरूवात

July 24th, 2020 15:11 IST
राजनांदगांव : उम्मीदों के जुगनू जब झिलमिलाते हैं, तब ख्वाब हकीकत में बदलते हैं : वनांचल में स्वसहायता समूह की महिलाओं ने की वाटर फिल्टर प्लांट की शुरूवात

डिजिटल डेस्क, राजनांदगांव 21 जुलाई 2020 उम्मीदों के जुगनू जब झिलमिलाते हैं तब ख्वाब हकीकत में बदलते हैं। जिले के सुदूर वनांचल मानपुर में स्वसहायता समूह की महिलाओं ने स्वावलंबन की नई मिसाल पेश की है। ग्राम मानपुर के वैभव लक्ष्मी स्वसहायता समूह की महिलाओं ने वाटर फिल्टर प्लांट की शुरूवात की है। महिलाओं को वाटर फिल्टर गतिविधि से जोडऩे की दिशा में राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन द्वारा कारगर प्रयास किए गए। वाटर फिल्टर प्लांट से निर्मित शुद्ध आरओ जल की मानपुर क्षेत्र के विभिन्न कार्यालयों, दुकान, स्कूल, कालेज तथा शादी विवाह एवं अन्य अवसरों में आपूर्ति की जाएगी। इसका उद्देश्य वनांचल क्षेत्र में शुद्ध जल की आपूर्ति कर आय अर्जन के साथ साथ लोगों को बीमारियों से बचाना है। वाटर फिल्टर प्लांट का उद्घाटन मोहला-मानपुर क्षेत्र के विधायक एवं संसदीय सचिव श्री इन्दरशाह मंडावी के द्वारा किया गया। वाटर फिल्टर प्लांट स्थापना में रायपुर की संस्था गंगा फाउंडेशन का महत्वपूर्ण योगदार रहा है। संस्था द्वारा 4.50 लाख रूपए लागत की मशीन को मात्र 1.50 लाख रूपए के डिपोजिट में आपूर्ति कर स्थापित किया है। प्राप्त लाभांश में 60 प्रतिशत समूह का तथा 40 प्रतिशत संस्था का होगा। 3.4 वर्षों बाद करार के अनुसार संस्था द्वारा डिपोजिट की राशि समूह को वापस लौटा दी जाएगी संस्था द्वारा मशीन के साथ 300 प्लास्टिक के 20 लीटर के जार भी दिए गए हैं। मशीन की क्षमता प्रतिदिन 500 जार पानी शुद्धिकरण की है। शुरुवाती दौर में प्रतिदिन अनुमानित 100 जार पानी की सप्लाई होगी, आगे मांग बढऩे पर 200-300 जार पानी की सप्लाई संभावित है प्रति जार 10-20 रूपए में आपूर्ति की जानी है तथा वहां से आपूर्ति 30-40 रूपए हों सकती है इस तरह से औसत 20 रूपए प्रति जार की बिक्री होगी 20 रूपए प्रति जार के हिसाब से 100 जार प्रति दिन 2 हजार रूपए की राशी विक्रय से प्राप्त होगी। माह में लगभग 60 हजार रूपए की बिक्री की जाएगी। फिल्टर प्लांट में समूह की महिलाएं स्वयं कार्य करेंगी इस तरह से मजदूरी खर्चा भी बचेगा 2-3 महिलाएं अलग-अलग दिन शिफ्ट में कार्य करेंगी, इस तरह से प्रति माह 43 हजार रूपए की बचत होगी। समूह का संस्था से अनुबंध अनुसार प्रति जार 4 रूपए के मान से लाभांश देना होगा। इस तरह प्रति दिन 100 लीटर की बिक्री पर 400 रूपए एवं माह में 12 हजार रूपए देय होगा। इसे घटाने पर 31 हजार रूपए प्रति माह शुद्ध लाभ होगा, यह तो प्रारंभिक लाभ है बिक्री बढऩे पर लाभ भी बढ़ता जाएगा। इस तरह से सुदूर वनांचल क्षेत्र मानपुर में स्वावलंबन के साथ लोगों को शुद्ध जल प्राप्त होगा। जो लोगों को बीमारी से बचने में भी कारगर होगा साथ ही लोगों में स्वच्छ पानी पीने की आदत बढ़ेगी। वाटर फिल्टर गतिविधि से समूह की महिलाओं को जोडऩे में एनआरएलएम योजना ब्लाक मानपुर के बीपीएम श्री राम कुमार विश्वकर्मा का प्रयास सराहनीय रहा जिन्होंने समूह की महिलाओं को संस्था के साथ समन्वय कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई साथ ही सीईओ जनपद पंचायत मानपुर का मार्गदर्शन सराहनीय रहा। क्रमांक 107-उषा किरण

कमेंट करें
UNwMn