comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

स्वयं सहायता समूह की महिलाएं कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए बना रही मास्क (कहानी सच्ची है)!

स्वयं सहायता समूह की महिलाएं कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए बना रही मास्क (कहानी सच्ची है)!

डिजिटल डेस्क | सीधी कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए स्वयं सहायता समूह की दीदियों ने मास्क निर्मित कर कोरोना संक्रमण की चौन को तोड़ने में अहम भूमिका निभा रही है। स्व सहायता समूह की महिलाएं ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए जागरूक कर रही हैं तथा उन्हें सस्ते दर पर मास्क भी उपलब्ध करा रही हैं । सीधी जिले के ग्राम टिकटकला में आजीविका मिशन के 10 समूह सदस्यों के द्वारा गांव में ही कोरोना से बचाव हेतु मास्क बनाना शुरू कर दिया गया है तथा ग्राम पंचायत एवं जनपद पंचायत को 10 रुपए की दर से मास्क उपलब्ध कराया जा रहा है।

गांव में गरीब परिवारों को निःशुल्क मास्क का वितरण भी किया जा रहा है। पवन स्व सहायता समूह की सचिव शोभा सिंह द्वारा जानकारी दी गई कि ग्राम पंचायत टिकट कला जनपद पंचायत सीधी के द्वारा हमे मास्क बनाए जाने का ऑर्डर भी मिला है। समूह की दीदियां अब तक कुल 5 हजार मास्क बना कर वितरण किया जा चुका है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए स्वयं सहायता समूह को शासन की तरफ से चक्रीय निधि 15 हजार रुपये तथा बैंक से ऋण लिमिट एक लाख रुपये तक का उपलब्ध कराया गया है।

जिसका उपयोग करके हम सभी लोग स्थानीय स्तर पर छोटे-छोटे आर्थिक गतिविधियां कर रहे हैं। कोरोना संक्रमण को देखते हुए गांव में समूह की महिलाओं के द्वारा लोगों को घर-घर जाकर के मास्क लगाने , निरंतर हाथ धोने तथा सामाजिक दूरी बनाए रखने की जानकारी दी जा रही है तथा जागरूक भी किया जा रहा है ।

समूह के अध्यक्ष ने बताया कि कोरोना बीमारी के संक्रमण को रोकने में मास्क बनाकर हम लोग योगदान दे रहे हैं, जिससे गांव के नागरिकों, परिवार की सुरक्षा भी हो रही है तथा हम लोगों को घर पर ही रोजगार के अवसर भी मिले हैं। संकुल नोडल मनोज मिश्रा के द्वारा हम लोगों को निरंतर प्रशिक्षण एवं मार्गदर्शन दिया जा रहा है जो हम सभी के लिए प्रेरणास्रोत है।

कमेंट करें
fZQgk