comScore

 दुष्कर्म का शिकार युवती ने खेत के कुएं में दे दी जान

 दुष्कर्म का शिकार युवती ने खेत के कुएं में दे दी जान

डिजिटल डेस्क, नागभीड(चंद्रपुर)। तहसील मुख्यालय से महज 7  किमी दूरी पर स्थित ग्राम कसर्ला में शनिवार को एक सनसनीखेज मामला सामने आया। 2 लोगों की हवस का शिकार हुई युवती ने खेत के कुएं में कूद कर जान दे दी। परंतु उसके पहले उसने  सुसाइड नोट में आरोपियों के नाम भी लिख छोड़े। इस घटना से परिसर में खलबली मच गयी है। पुलिस ने बताया कि पीड़ित युवती ने शुक्रवार की रात खुदकुशी की।  

जानकारी के अनुसार पीड़ित युवती रोपाई के लिए गांव से 2 किमी दूरी पर स्थित अपने खेत में काम पर गयी थी। उस समय गांव के ही दो लोगों ने उससे दुष्कर्म किया। यह बात उसके सुसाइड नोट में दर्ज की गयी है। मृतक युवती ने खुदकूशी के पूर्व अपने खेत में एक पॉलिथीन बैग में यह चिठ्ठी छोड़ी  थी। मृतक शुक्रवार की दोपहर से ही लापता थी। उस समय उसकी मां रोपाई के लिए दूसरे खेत में गयी थी। वह शाम को घर लौटी। तब बेटी को न पाने से वह अपने खेत गयी। परंतु वहां भी बेटी  का पता नहीं चला। निराश होकर वह गांव लौटी। कुछ लोगों को लेकर फिर से खेत पर तलाशने गयी। उस समय खेत में एक फावडे के नीचे एक पन्नी मिली। उसमें एक चिठ्ठी मिली। इस चिठ्ठी को देख कर कुछ गलत होने का संदेह हुआ। चिठ्ठी में  अजय नन्नावरे व मंगेश मगरे  नामक युवक का जिक्र युवती ने किया है।  मृतक की मां ने इस चिठ्ठी के आधार पर नागभीड पुलिस से शिकायत की। पुलिस ने दोनों आरोपियों को हिरासत में लिया है।  मामले की जांच जारी है

पुलगांव में  7 साल की बालिका से दुराचार
 
वर्धा जिले के पुलगांव पुलिस थाना अंतर्गत इंझाला गांव में एक बालिका के साथ दुराचार करने की घटना  उजागर हुई। इस मामले में पुलिस ने संदेह के आधार पर एक व्यक्ति को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।  प्राप्त जानकारी मुताबिक 6 अगस्त की देर रात इंझाला के पारधी बेड़ा निवासी  7 वर्षीय बालिका अपनी मां के साथ खाट पर सोई हुई थी। देर रात तीन अज्ञात आरोपियों की ओर से पीडि़ता को खाट समेत समीप की नर्सरी में ले जाकर दुराचार किया गया। दुराचार के बाद बालिका के रोने की आवाज सुनकर मां को घटना की जानकारी मिली। इस बीच सभी आरोपी भाग खड़े हुए। वहीं पीडि़ता की मां ने भी मामले की कोई शिकायत पुलिस में नहीं कराई। पीड़िता  से दुराचार की जानकारी सामाजिक संस्था की संचालक मंगेशी मून को लगी। इसके बाद मंगेशी मून ने  पीडिता की माता का समुपदेशन कर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।  पुलगांव पुलिस की उपविभागीय अधिकरी तृप्ति जाधव के निर्देश पर विशेष दल ने घटना स्थल का पंचनामा और जांच किया। संदेह के आधार पर पुलिस ने आरोपी विनोद वरभे को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की है। इस मामले में पुलिस को दो आरोपियों की तलाश है।  

कमेंट करें
a3NKL