दैनिक भास्कर हिंदी:  B'Day: एआर रहमान ने इस्लाम अपनाया है, अब इसे किसी पर थोपना नहीं चाहेंगे, पहले नाम था दिलीप कुमार

January 6th, 2021

डिजिटल डेस्क ( भोपाल)।  आस्कर से सम्मानित म्यूजिक कम्पोजर एआर रहमान का आज  54वां बर्थ-डे है। 6 जनवरी 1967 को चेन्नई में जन्म लेने वाले ऐ.एस. दिलीप कुमार ने अपनी सुपरहिट फिल्म 'रोजा' के रिलीज से पहले धर्म बदल लिया था और इस्लाम अपनाने के बाद वह दिलीप कुमार से एआर रहमान हो गए। आइए, एक नजर डालते हैं उनकी पर्सनल लाइफ पर... 

 रहमान ने म्यूजिक की दुनिया में भारत का नाम मशहूर किया है।  एआर रहमान भी ऐसे कलाकारों में से एक हैं, जिनके पास संघर्ष की दर्दनाक कहानी है। उन्होंने सफलता की सीढ़ी पर एक-एक कमद बड़ी सावधानी से चढ़ा हैं। हालांकि, उनके संगीत के अलावा, उनका इस्लाम को अपनाना आज भी चर्चा का विषय बना हुआ है। उनकी बेटी खतीजा के बुर्के पहनने की तस्वीरें सामने आने के बाद काफी आलोचना हुई थी, जिसके बाद उन्होंने कहा था कि वह लड़की है, इसलिए उसने बुर्का पहना, अगर इस्लाम में लड़के बुर्का पहनते होते तो वह खुद भी बुर्का पहनना पसंद करते। 

रहमान के पिता आर के शेखर भी म्यूजिक कंपोजर थे और उनकी मौत के बाद मां के कहने पर उन्होंने इस्लाम अपनाया था। रहमान की मां का नाम करीमा बेगम था। रहमान के दोस्त त्रिलोक नायर ने कृष्णा त्रिलोक को उनकी अधिकृत जीवनी, 'नोट्स ऑफ ए ड्रीम' में बताया था कि कैसे रहमान की मां के कहने पर फिल्म  'रोजा' के रिलीज से पहले रहमान का नाम बदला गया था।   

रहमान अपनी धार्मिक मान्यताओं को दूसरों पर थोपने में विश्वास नहीं रखते। उन्होंने एक बार एक इंटरव्यू में बताया था कि 'आप किसी पर कुछ भी थोप नहीं सकते। आप अपने बेटे या बेटी से  यह नहीं कह सकते कि तुम इतिहास के बारे में नहीं पढ़ो यह उबाऊ सब्जेक्ट और इसके बजाय अर्थशास्त्र या विज्ञान में रूचि लेनी चाहिए है। यह एक व्यक्तिगत पसंद है'। 

खबरें और भी हैं...