comScore

अवैध रेत से भरे 28 ट्रक जब्त, मार्ग पर रेत खाली कर यूपी सीमा में भागे कई 

अवैध रेत से भरे 28 ट्रक जब्त, मार्ग पर रेत खाली कर यूपी सीमा में भागे कई 

डिजिटल डेस्क छतरपुर । गौरिहार तहसील क्षेत्र के चंद्रपुरा गांव में रेत से भरे खड़े 150 ट्रकों के खिलाफ आखिरकार प्रशासन ने मंगलवार को कार्रवाई की। मंगलवार को दैनिक भास्कर में खबर प्रकाशित होने के बाद कलेक्टर मोहित बुंदस ने खनिज अधिकारी को बुलाकर कड़ी फटकार लगाते हुए कार्रवाई के निर्देश दिए। इस पर सुबह से ही खनिज अधिकारी, राजस्व और पुलिस की टीम के साथ चंद्रपुरा पहुंच गए, लेकिन ट्रक चालकों को इसकी भनक लग गई। इस पर बड़ी संख्या में ट्रक भागने में सफल हो गए। वहीं 35 ट्रक चालकों ने गौरिहार-मटौंध मार्ग में बीच सड़क पर रेत खाली कर दी। इससे दो किमी लंबा रास्ता जाम हो गया और करीब 30 ट्रक नहीं निकल पाए। मौके पर पहुंचे खनिज अधिकारी ने 28 ट्रकों के खिलाफ कार्रवाई की। इनमें से दो ट्रक गौरिहार थाना भेजते समय रास्ते में ही खराब हो गए। चंद्रपुरा से भागकर उप्र की सीमा में पहुंचे ट्रकोंं के खिलाफ भी गिरवां थाना पुलिस ने कार्रवाई की। यहां 7-8 ट्रक पकड़े जाने की सूचना है।
गिरवां थाना पुलिस ने भी कार्रवाई 
 चंद्रपुरा से भागकर यूपी सीमा में पहुंचे कुछ ट्रक गिरमा थाना क्षेत्र में पहुंच गए। यहां पर गिरवां थाना पुलिस ने 8 ट्रकों को जब्त किया। थाना प्रभारी ने बताया कि किसी भी ट्रक चालक के पास रेत परिवहन का पिटपास नहीं था। सभी ट्रक ओवरलोड थे। इस पर कार्रवाई की गई है। थाना प्रभारी ने बताया कि उन्हें सूचना मिली है कि एमपी से रेत लेकर भागकर आए ट्रक उनके थाना क्षेत्र के गांवों में छिपे हुए हैं। उन्होंने मुखबिर तंत्र सक्रिय किया है। इन ट्रकों के खिलाफ भी कार्रवाई होगी।
यूपी सीमा मेंं खड़े 15 ट्रक 
 मंगलवार को चंद्रपुरा में हुई कार्रवाई के बाद रेेत से भरे ट्रक भागकर उप्र की सीमा में जाकर खड़े हो गए। चंद्रपुरा गांव के लोगों ने बताया कि रेत से भरे 15 ट्रक भागकर उप्र की सीमा में खड़े हुए हैं। उधर गिरवां थाना पुलिस और इधर गौरिहार थाना पुलिस इन पर निगरानी रखे हुए है। चंद्रपुरा में रेत से भरे जिन ट्रकों के खिलाफ कार्रवाई की गई है इनमें से अधिकांश ट्रक रेवना, बरूआ, फत्तेपुर-रामपुर, परेई में लगे रेत के डंप से रेत लेकर आए थे।
ट्रक चालकों को कार्रवाई के पहले मिल गई सूचना 
मंगलवार को मौके पर पहुंची टीम की सूचना ट्रक चालकों को पहले से मिल चुकी थी। इसी के चलते कुछ ट्रक आनन-फानन में यूपी की सीमा में जाकर खड़े हो गए। लगभग 35 ट्रक चालकों ने गौरिहार-मटौंध रोड में बीच सड़क पर रेत खाली कर दी। बीच सड़क पर रेत डाले जाने से चंद्रपुरा गांव की ओर खड़े ट्रक नहीं भाग पाए क्योंकि यह मार्ग बंद हो गया। ऐसे में 28 ट्रकों को खनिज अधिकारी की टीम ने जब्त कर लिया। सवाल उठता है कि आखिर वे कौन से अधिकारी-कर्मचारी हैं, जो प्रशासन की अपेक्षा रेेत माफियाों के प्रति अधिक वफादारी दिखा रहे हैं। उन्हें आने से पहले सचेत कर दिया गया। वहीं 15 ट्रक अभी भी चंद्रपुरा से लगी उप्र की सीमा में खड़े हुए हैं। गिरवां पुलिस का कहना है कि मप्र से भागे ट्रक रेत लेकर गांवों में छिपे हुए हैं, उन्हें खोजा जा रहा है।
इनका कहना है
मीडिया के माध्यम से जानकारी प्राप्त होने पर कलेक्टर ने कार्रवाई के निर्देश दिए। उनके निर्देश पर खनिज, राजस्व और पुलिस की संयुक्त टीम गठित की गई। चंद्रपुरा में रेत से भरे 28 ट्रक जब्त किए गए हैं। इनमें से 9 को गौरिहार थाने भिजवाया गया है। कार्रवाई अभी भी जारी है। 
-अमित मिश्रा, खनिज अधिकारी
 

कमेंट करें
JXELl