दैनिक भास्कर हिंदी:  टोल फ्री नंबर से शिकायत करने के बाद भी खाते से निकल गए 75 हजार, पुलिस में की शिकायत

September 18th, 2019

डिजिटल डेस्क छतरपुर । नौगांव थाना अंतर्गत बिलहरी निवासी नारायण दास खटीक ने पुलिस अधीक्षक को शिकायती आवेदन देकर आरोप लगाया है कि एसबीआई स्टाफ की संदिग्ध भूमिका के कारण उसके साथ ऑनलाइन 75 हजार रुपए की ठगी हुई है। आवेेदक ने बताया कि 9 सितम्बर 2019 को एसबीआई की शाखा में वह एटीएम से पैसे कट जाने लेकिन बाहर नहीं निकलने की शिकायत करने बैंक गया था, जहां शाखा प्रबंधन ने टोल फ्री नंबर 1800112211 देकर शिकायत करने के लिए कहा था। तब मैंने इसी दिन फोन कर ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराई। जिस पर मुझे बताया गया कि आपके पास कुछ देर बाद एक फोन आएगा। उन्हें आप पूरी समस्या बता दीजिए। इसके बाद उसके मोबाइल पर फोन आया और एटीएम की जानकारी ली गई और फिर ऑनलाइन मेरे खाते से 50 हजार और 25 हजार की राशि निकल गई। कुल मिलाकर 75 हजार रुपए की राशि नारायण के खाते से 9 सितम्बर को गायब कर दी गई। नारायण वापस शाखा प्रबंधक के पास गया। मगर उन्होंने संतोषजनक जबाव नहीं दिया। नारायण का आरोप है कि उसके साथ ठगी एसबीआई के स्टाफ द्वारा मिलकर की गई। क्योंकि उसने टोल फ्री नंबर पर ही शिकायत दर्ज कराई थी। वहीं से ठगने वालों को नारायण का नंबर मिला है।
मामले में टोल फ्री नंबर के स्टाफ की भूमिका 
जिले में लगातार ऑनलाइन ठगी के मामले सामने आ  रहे हंै। ऐसा संदेह है कि आजकल ठगों नेे बैंकिंग स्टाफ से मिलकर ठगी करना प्रारंभ करना कर दिया है। जिले का यह पहला मामला होगा कि जिसमें आवेदक ने बैंकिंग स्टाफ पर ही एफआईआर दर्ज कराने के लिए आवेदन दिया है। वहीं इस बारे में पुलिस अधीक्षक ने मामले की पूरी जांच करके आवेदक को कार्रवाई का भरोसा दिया है।
 

खबरें और भी हैं...