दैनिक भास्कर हिंदी: सड़क हादसा : ट्रक ने मैजिक वाहन को रौंदा, आठ की मौत, 6 गंभीर रुप से घायल

March 15th, 2019

डिजिटल डेस्क, बकस्वाहा। बीती रात बंडा से 2 किमी दूर हरसिद्धी मंदिर ग्राम जमुनिया के पास मैजिक एवं ट्रक की भीषण टक्कर होने से मैजिक में सवार 8 लोगों की मौत हो गई। पांच घटना स्थल पर ही चल बसे थे, जबकि सागर से रेफर किए गए घायलों में दो की मौत सागर और एक की मौत भोपाल में हुई। हादसे में 6 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। हादसा इतना भीषण था कि मैजिक वाहन के परखच्चे उड़ गए और घटना स्थल पर चीख पुकार मच गई थी। सभी घायलों को उपचार पश्चात गंभीर अवस्था में सागर जिला अस्पताल रेफर किया गया।

जन्मोत्सव समारोह में भाग लेने जा रहे थे सभी
प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम मुडिया बम्होरी जिला छतरपुर से बांदरी क्षेत्र के उमावड़ा गांव का एक परिवार अपनी बहिन के जन्मोत्सव में जा रहे थे। बंडा से 2 किमी दूर अज्ञात ट्रक ने मैजिक को जोरदार टक्कर मार दी, जिससे सवार दूर जा गिरे। ट्रक चालक मौके से भाग निकला। ट्रक बंडा से शाहगढ़ की ओर जा रहा था। घायलों को बंडा स्वास्थ्य केन्द्र लाते समय मथुराप्रसाद लोधी 60 वर्ष केशरी सिहं लोधी 17 वर्ष तीसरी संजना लोधी 14 वर्ष और देवेन्द्र ठाकुर चालक 25 वर्ष घनश्याम लोधी 38 वर्ष की मौत हो गई। गंभीर घायलों को प्राथमिक उपचार पश्चात् सागर रेफर किया गया। जिनमें बलवंत प्रतिपाल अजय सिंह शिवम  सिंह कृपाराम हरिसिंह राजाराम छुट्टू राजा आकाष लोधी को सागर रिफर किया गया। इसमें से कृपा लोधी 55 वर्ष राजाराम लौधी 35 वर्ष की सागर में और राजू लोधी 45 वर्ष की भोपाल अस्पताल में मौत हो गई।

मैजिक चालक देवेन्द्र ठाकुर को ग्रामीणों के सहयोग से पुलिस अमले ने वाहन को काटकर बाहर निकाला। प्रत्यक्षदर्षियों ने बताया कि हादसा इतना भीषण था कि मैजिक वाहन के परखच्चे उड़ गए। सूचना मिलते ही एसडीएम विनय द्विवेदी तहसीलदार विनीता जैन शाहगढ़ सीईओ सुनीता शर्मा  टीआई सतीष सिंह आरआई पटवारी  दुर्घटना स्थल पर पहुंचे। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर लाने में सभी ने घायलों का सहयोग किया।

पूरे क्षेत्र में दुख का वातावरण
जैसे ही परिजन और गांव के लोगो को हादसा की सूचना लगी तो गांवों मे हाहाकार मच गया। आज सुबह ही प्रशासनिक अगले सहित आसपास के लोग जनप्रतिनिधि सहित मीडिया और गाँव के लोगों का हुजूम एकत्रित हो गया। एक साथ पांच चिताओं की लपटों से उपस्थित जन समुदाय भी अपनी आंखो से आंसू नहीं  रोक पा रहा था।