comScore

सवारियों से भरी बस पेड़ से टकराई, 10 घायल - पुरूषवानी वैढऩ से जा रही थी सतना

सवारियों से भरी बस पेड़ से टकराई, 10 घायल - पुरूषवानी वैढऩ से जा रही थी सतना

डिजिटल डेस्क सिंगरौली (वैढऩ)।  तडक़े एक यात्री बस अनियंत्रित होकर पेड़ से टकरा गई। जिससे बस के चालक समेत उसमें बैठे कुल 10 लोगों को गंभीर चोटे आ गई हैं। हादसा सुबह करीब 7 बजे के दौरान का बताया जाता है, जब पुरूषवानी बस क्रमांक एमपी 19 पी 2500 यात्रियों को वैढऩ से लेकर सतना जिले के लिये जा रही थी। बस के दुर्घटनाग्रस्त होने का कारण फिलहाल स्टेयरिंग फेल होना बताया जा रहा है, लेकिन एक यह वजह भी सामने आयी है कि जिस दौरान हादसा हुआ, तो बारिश हो रही थी और कोहरे की भी हल्की धुंध बनी हुई थी। जानकारी के अनुसार हादसे दौरान मौके पर सबसे पहले वहां से गुजरने वाले राहगीर बस के घायल यात्रियों की मदद करने रूके थे। कुछ तो घायलों को लेकर वैढऩ में जिला अस्पताल ले गये। बाकी इसके बाद सूचना पर डायल 100 और 108 एम्बुलेंस जब मौके पर पहुंची, तो इन दोनों की सहायता से भी अन्य घायलों को जिला अस्पताल लेकर जाकर भर्ती कराया गया। अस्पताल के इमरजेंसी ड्यूटी चिकित्सक डॉक्टर बालेन्दु ने सभी घायलों को प्राथमिक उपचार कराया। जिसमें एक घायल जो बस का चालक बताया जाता है उसके पैर की स्थिति देखकर वह फ्रैक्चर होना बता रहे हैं। जबकि अन्य सभी को ज्यादातर आंख, मुंह, सिर व सीने में ज्यादा चोटें आयी हैं, इसलिये आवश्यकता अनुसार कुल 3 घायलों को जिला अस्पताल और एक अन्य घायल महिला को उसके परिजन शहर के निजी अस्पताल में भर्ती कराये हैं। दूसरी ओर हादसे की सूचना पर जिला अस्पताल में घायलों का हाल जानने के लिये जिला प्रशासन से अधिकारियों की टीम भी पहुंची थी।
ऐसे हुआ हादसा
घायल यात्रियों के अनुसार बस वैढऩ से तो सामान्य रूप से चली थी और नौगई के आगे ग्राम हर्रईया क्षेत्र में जैसे ही पहुंची, तो बस अनियंत्रित होकर सडक़ के किनारे की ओर जाने लगी। उस दौरान जब चालक ने बस को संभालकर सडक़ पर लाने का प्रयास किया तो, इसे ज्यादातर सवारियों ने महसूस किया, लेकिन पलक झपकते ही बस सडक़ के किनारे एक पेड़ से टकरा गई। घायल के यात्री शिवपूजन देव उपाध्याय बस में कंडक्टर की सीट के पीछे 9 नंबर की सीट पर बैठे थे। हादसे के मंजर को याद करके अभी भी वह सहम उठते हैं। यात्रियों का यह भी कहना है कि गनीमत यह भी रही कि हादसे के दौरान बूंदाबादी होने से कोहरे की धुंध का असर ज्यादा नहीं थी वर्ना स्थिति इससे भी ज्यादा गंभीर हो सकती थी।
ये हैं घायल
घायलों में मिथिलेश कुमार दुबे पिता रामकुमार 42 वर्ष निवासी सतना, अन्नपूर्णा सिंह पति राजेश 45 वर्ष निवासी दुधीचुआ, प्रदीप कुमार पिता लाल मिश्रा 35 वर्ष, प्रेमलाल साकेत 42 वर्ष निवासी सतना, संजीव सिंह 41 वर्ष निवासी वैढऩ, शिवपूजन देव उपाध्याय 33 वर्ष निवासी जयंत, सुशीला साकेत पिता प्रेमलाल 40 वर्ष निवासी सतना, निवेदिता सिंह पिता राजेश सिंह 16 वर्ष निवासी दुधीचुआ, आशा सिंह पति संतोष सिंह बघेल 42 वर्ष निवासी विंध्यनगर, राहुल यादव पिता सियाम्बर प्रसाद 25 वर्ष निवासी हनुमना शामिल हैं। 
 

कमेंट करें
ndOlp