दैनिक भास्कर हिंदी: आयशा के सुसाइड पर फूटा ओवैसी का गुस्सा, बोले- अगर तुम मर्द हो तो बीवी पर जुल्म करना मर्दानगी नहीं है

March 3rd, 2021

डिजिटल डेस्क, हैदराबाद। सोशल मीडिया पर कुछ दिनों से एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में एक 23 साल की लड़की आयशा अपने दर्द को बयां कर रही है। वीडियो में अपनी बात कहने के बाद आयशा अहमदाबाद की साबरमती नदी में कूदकर जान दे देती है। दरअसल, ये पूरा मामला पति द्वारा पत्नी को प्रताड़ित करने का है। आयशा ने अपने पति की प्रताड़ना से तंग आकर सुसाइड किया। आयशा की मौत के बाद ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएएम) चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने भी कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। 

ओवैसी ने लगाई फटकार
असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, अहमदाबाद में जो मुसलमान बच्ची का दर्दनाक वीडियो आया है जिसने खुदकुशी कर ली। मैं आप तमाम से अपील कर रहा हूं चाहे आप कोई भी मजहब से हों दहेज की लालच को खत्म करो। अगर तुम मर्द हो तो बीवी पर जुल्म करना मर्दानगी नहीं है। बीवी को मारना मर्दानगी नहीं है। बीवी से पैसों मुतालबा (मांग) करना मर्दानगी नहीं है। तुम मर्द कहलाने के लायक नहीं हो अगर ऐसी हरकत करोगे।

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, मैं आप तमाम से अपील कर रहा हूं चाहे आप कोई भी मजहब से हों दहेज की लालच को खत्म करो। इस दौरान उन्होंने कहा कि मैं उन तमाम मुसलमानों से अपील कर रहा हूं अल्लाह के रसूल सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम (पैगंबर मोहम्मद) ने इरशाद फरमाया था कि तुममे सबसे बेहतरीन वो है जो अपने घरवालों से अच्छा व्यवहार करे। 

उन्होंने कहा, वो (आयशा का पति) मासूम बच्ची पर जुल्म किया गया। वो तंग आ गई। उस व्यक्ति के मारने और पीटने पर इतना बड़ा इकदाम (कदम) उठा लिया। शर्म आना चाहिए उन लोगों को जिसने इस बेटी के साथ ऐसा किया। मैं अल्लाह से दुआ करूंगा कि अल्लाह तुमको गा़ारत (बर्बाद) करे। 

ओवैसी ने कहा, हर बाप की तकलीफ तुम नहीं समझ सकते। मैं कई ऐसे बाप को जानता हूं जो जिंदगी के आखिरी वक्त में मेरा हाथ पकड़कर कहते हैं असद साहब बच्ची की शादी है कुछ इंतजाम करवा दो।मरने से पहले कुछ हो जाए। उन्होंने कहा, ''क्या हो रहा है इन लोगों को, कितनी औरतों को तुम मारोगे।कैसे तुम मर्द हो जो तुम बच्चियों को मार रहे हो, उनकी जानें ले रहे हो।

क्या तुम में इंसानियत मर चुकी है। ऐसे कितने लोग हैं जो अपनी बीवियों पर जुल्म करते हैं, थप्पड़ मारते हैं।दहेज का मुतालबा करते हैं।हामेला (गर्भवति) बीवियों को ढ़केलते हैं और बाहर निकल कर अपने आप को बड़ा फरिश्ता कहलाते हैं।तुम याद रखो दुनिया को धोखा दे सकते हो अल्लाह को नहीं।अल्लाह देख रहा है, अल्लाह समझ रहा है और अल्लाह जरूर मजलूम (जुल्म सहने वाला) का साथ देगा।

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, मैं उन तमाम मुसलमानों से अपील कर रहा हूं अल्लाह के रसूल सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम (पैगंबर मोहम्मद) ने इरशाद फरमाया था कि तुममे सबसे बेहतरीन वो है जो अपने घरवालों से अच्छा व्यवहार करे।बेहतरीन अखलाक (चरित्र) वो है जो अपनी बीवियों से अच्छा बर्ताव कर रहा है। 
 

खबरें और भी हैं...