दैनिक भास्कर हिंदी: भोपाल गैंगरेप : हरकत में MP सरकार, तीन टीआई सस्पेंड, एक सीएसपी को हटाया

June 30th, 2018

डिजिटल डेस्क, भोपाल। भोपाल में यूपीएससी स्टूडेंट से गैंगरेप और उसके बाद पुलिस के लापरवाह रवैए पर सियासत गर्मा गई है। शुक्रवार को जहां कांग्रेस ने सड़कों पर उतरकर हल्ला बोला, वहीं सीएम शिवराज सिंह चौहान मामले में संज्ञान लेते हुए फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई के निर्देश दिए हैं। शिवराज ने लापरवाह पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई के निर्देश भी दिए हैं। सीएम ने छात्रा को मदद का भी भरोसा दिलाया है। दोपहर में इस मामले में लापरवाही बरतने पर एमपी नगर सीएसपी कुलवंत सिंह को हटा दिया गया है। एमपी नगर टीआई संजय सिंह बैस, हबीबगंज टीआई रवींद्र यादव और जीआरपी हबीबगंज के टीआई मोहित सक्सेना को सस्पेंड कर दिया गया है। मामले की जांच कर रहे आईजी रेल डीपी गुप्ता ने भोपाल एसआरपी अनिता मालवीय के खिलाफ भी जांच शुरू कर दी है।

4 लोगों ने किया था स्टूडेंट से गैंगरेप

भोपाल में गुरुवार को गैंगरेप का सनसनीखेज मामला सामने आया था, हबीबगंज रेलवे स्टेशन के पास से यूपीएससी की छात्रा कोचिंग से लौट रही थी। इसी दौरान 4 लोगों ने उसका अपहरण कर रेलवे ट्रैक के पास ले जाकर गैंगरेप किया। इसके बाद उसे गला दबाकर मारने की कोशिश की। लड़की के बेहोश हो जाने पर आरोपियों ने उसे मरा हुआ समझ कर वहीं छोड़ दिया और वहां से भाग खड़े हुए। बताया जा रहा है कि आरोपी कबाड़ का काम करते हैं।

शिकायत के लिए भटकती रही छात्रा

पीड़िता के होश में आने पर छात्रा अपने परिजनों के साथ जब एमपी नगर थाने पहुंची तो वहां उसे काफी देर तक बिठाए रखा। सीमा विवाद में उलझी एमपी नगर पुलिस ने बाद में मामला हबीबगंज थाना भेज दिया। वहां भी कुछ इसी तरह का वाकया सामने आया। करीब 3 घंटे की रस्साकशी के बाद जीआरपी ने मामला दर्ज किया। पीड़िता के माता-पिता भी पुलिस में हैं। छात्रा की मां ने ही आरोपियों को पकड़कर पुलिस के हवाले किया है। इस मामले में लापरवाही बरतने वाले एमपी नगर थाने के सब इंस्पेक्टर रामनाथ टेकाम को सस्पेंड कर दिया गया है। पुलिस ने  चारों आरोपियों को भोपाल कोर्ट में पेश किया, जहां से आरोपियों को 2 दिनों की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया।

ये भी पढ़ें- भोपाल में यूपीएससी स्टूडेंट के साथ गैंगरेप, पीड़िता को पुलिस ने थाने-थाने घुमाया

कांग्रेस ने किया प्रदर्शन

 

छात्रा के साथ हुए गैंगरेप मामले में कांग्रेस ने आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है। मध्य प्रदेश कांग्रेस ने हबीबगंज थाने के सामने एकत्रिक होकर जमकर प्रदर्शन किया। सड़कों पर उतरे कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग की। इसके साथ ही प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

राज्य महिला आयोग ने लिया संज्ञान

वहीं इस मामले में राज्य महिला आयोग ने भी संज्ञान लिया है। राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष लता वानखेड़े ने भोपाल SP से मामले की जानकारी ली है। उन्होंने कहा कि ये बहुत ही गंभीर और दुर्भाग्यपूर्ण मामला है। उन्होंने कहा कि मामले में लापरवाही के लिए जो भी जिम्मेदार है उसके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने पीड़िता को हर संभव मदद का भरोसा दिलाया है।