comScore

बाजार में दिनदहाड़े सराफा व्यवसायी को दुकान में घुसकर मारी गोली

बाजार में दिनदहाड़े सराफा व्यवसायी को दुकान में घुसकर मारी गोली

डिजिटल डेस्क  खजुराहो । राजनगर के मुख्य बाजार स्थित सोनी मुहल्ला में दिनदहाड़े तीन बदमाशों ने एक सराफा व्यापारी को उसकी दुकान में घुसकर गोली मार दी। सीने में गोली लगने के बाद गंभीर हालत में व्यापारी को पहले जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां से ग्वालियर रैफर कर दिया गया है। जिला अस्पताल में फरियादी व्यापारी के नायब तहसीलदार अंजु लोधी ने मृत्यु पूर्व बयान लिए हैं। 
 जानकारी के अनुसार सोमवार को दोपहर लगभग 11.30 बजे हीरो कंपनी की बिना नंबर की मोटर साइकिल पर सवार होकर तीन युवक सराफा व्यवसायी महेन्द्र सोनी पिता स्व. ग्यासी सोनी (उम्र 41 वर्ष) की दुकान में आए और उन्होंने महेंद्र को 315 बोर के देशी कट्टे से गोली मार दी। गोली महेन्द्र के बाएं कंधे के नीचे लगी। गोली चलाकर हमलावर मोटर साइकिल से भागने लगे तो घायल महेंद्र जोर से चिल्लाए। महेंद्र की दुकान से लगभग 35 से 40 मीटर की दूरी पर उनके भाई राजेन्द्र की दुकान थी। महेंद्र के चिल्लाने पर राजेन्द्र अपनी दुकान से बाहर निकलकर आए तो उन्हें पूरा माजरा समझ में आ गया। राजेंद्र ने भाग रहे हमलावरों पर छलांग लगा दी। इस कारण हमलावर बाइक सहित गिर पड़े। इसमें से मौके का फायदा उठाकर दो हमलावर आकाश पटेल निवासी कर्री तथा रिक्की रैकवार निवासी देरी रोड छतरपुर मोटर साइकिल छोड़कर भाग गए, जबकि एक हमलावर केशव सिंह धंधेरे पिता राजेंद्र सिंह (18 वर्ष) निवासी विक्रमपुर को राजेन्द्र ने पकड़ लिया। इस दौरान हमलावर ने राजेन्द्र की पकड़ से छूटने के लिए कट्टे की बट से उनके माथे पर चोट भी पहुंचाई, लेकिन राजेन्द्र ने घायल होकर भी आरोपी को पकड़े रखा। इस बीच स्थानीय लोग जुट गए और हमलावर की धुनाई करते हुए कट्टे सहित पुलिस के हवाले कर दिया। 
व्यापारी का भाई बोला-दो बाइक पर 6 आरोपी आए थे
इस घटना को लेकर घायल व्यापारी के भाई दीपक सोनी ने जिला अस्पताल में बताया कि वारदात में शामिल आरोपियों की संख्या 6 थी। वे दो मोटर साइकिलों पर नकाब पहनकर आए थे। दीपक का कहना है कि उनके भाई महेंद्र, राजेंद्र का आरोपी राघवेंद्र सिंह से वर्ष 2002 में विवाद हुआ था। दीपक ने कहा कि घटना में केशव सिंह, राजेंद्र सिंह, राघवेंद्र सिंह, हर्षराज रैकवार देरी रोड, आकाश पटेल कर्री सहित एक अन्य शामिल हैं। टीआई ने आरोपियों की संख्या ज्यादा होने को लेकर जांच करने की बात कही है। 
ये है घटना की वजह
पुलिस सूत्रों के अनुसार गोली लगने से घायल महेन्द्र सोनी पूर्व के सालों में विक्रमपुर में सोने-चांदी की दुकान चलाते थे। उस समय गोली चलाने वाले आरोपी के पिता से विवाद हो गया था। इसमें महेन्द्र सोनी द्वारा आरोपी के पिता पर तेजाब फेंकने की घटना हुई थी। इस कारण कयास लगाए जा रहे हैं कि हमलावर ने उस घटना का बदला लेने के लिए इस घटना को अंजाम दिया है। हालांकि घटना की वास्तविक वजह पुलिस की पूछताछ में ही स्पष्ट होगी।
आरोपी केशव सिंह को गिरफ्तार किया गया

इनका कहना है
इस घटना में गोली चलाने वाले आरोपी केशव सिंह धंधेरे उम्र लगभग 18 वर्ष निवासी विक्रमपुर को पुलिस ने कट्टे सहित गिरफ्तार कर लिया है। घटना में प्रयुक्त मोटर साइकिल जब्त कर ली गई है। घटना में शामिल उसके साथी आकाश पटेल निवासी कर्री तथा रिक्की रैकवार निवासी देरी रोड छतरपुर की तलाश की जा रही है।
-अभिलाष भलावी, थाना प्रभारी, राजनगर

कमेंट करें
IHDPg