महाराष्ट्र: एनआईए को सौंपी जाए कर्जत के युवक प्रतीक पर जानलेवा हमले का मामलाः नितेश राणे

August 6th, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। भाजपा विधायक नितेश राणे ने सोशल मीडिया पर भारतीय जनता पार्टी की निलंबित प्रवक्ता नुपूर शर्मा का समर्थन करनेवाले अहमद नगर के कर्जत तहसील के निवासी प्रतीक पवार पर किए गए हमले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी को सौपने की मांग की हैं। नुपूर शर्मा ने मोहम्मद पैगंबर साहब को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। जिसका पवार ने सोशल मीडिया पर समर्थन किया था।    शनिवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत के दौरान विधायक राणे ने कहा कि अहमदनगर के कर्जत निवासी पवार पर मुस्लिम युवकों ने 4 अगस्त को धारदार हथियार से हमला किया था और उसे जान से मारने की धमकी दी थी। इस हमले में पवार बुरी तरह घायल हो गया था। इसलिए जरुरी है कि प्रकरण से जुड़े फरार आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी की जाए और जांच एनआईए को सौपी जाए। 

विधायक राणे ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि भविष्य में इस तरह के हमले स्वीकार नहीं किए जाएंगे। नुपूर शर्मा का समर्थन करने के चलते उदयपुर व अमरावती के बाद कर्जत की यह तीसरी घटना है। हिंदुओं पर बार-बार हमले किए जा रहे है। भविष्य में इस तरह के हमले बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि धार्मिक भावनाएं आहत होने पर उसका विरोध होना चाहिए लेकिन यह विरोध लोकतांत्रिक तरीके से किया जाना चाहिए। नितेश ने कहा कि शरीयत के हिसाब से कानून हाथ में लेकर किए जानेवाले हमले बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे।   विधायक राणे ने कहा कि भाजपा ने भी नुपूर शर्मा के बयान का समर्थन नहीं किया है। शर्मा को पार्टी से निलंबित कर दिया गया। इस मामले के खत्म हो जाने के बावजूद हिंदुओं पर हमले किए जा रहे हैं। हिंदु देवी-देवताओं का अपमान करने की भी कई घटनाए घटी हैं, लेकिन हमने लोकतांत्रिक तरीके से अपना विरोध जताया है। नितेश ने कहा कि इस बात का ध्यान रखा जाए कि अब महाराष्ट्र में महाविकास आघाड़ी सरकार नहीं है। मौजूदा सरकार इस तरह के हमलों को स्वीकार नहीं करेगी।  

खबरें और भी हैं...