नागपुर: ऑनलाइन ठगी का मामला, 9 माह बाद प्रकरण दर्ज

August 6th, 2022

डिजिटल डेस्क, नागपुर। ठगी के 9 माह बाद शुक्रवार को अजनी थाने में प्रकरण दर्ज किया गया। इस प्रकरण में साइबर अपराधी ने झांसा देकर महिला के खाते से रकम निकाल ली। साइबर टीम की मदद से मामले की जांच-पड़ताल की जा रही है, लेकिन घटना के इतने दिन बाद भी आरोपी का कोई सुराग नहीं िमला है। जिससे पुलिस की लापरवाही उजागर हुई।

ओटीपी बताते ही रकम निकाली : विश्वकर्मा नगर निवासी शीतल धनराज सावरकर (30) को ऑनलाइन डायनिंग टेबल बिक्री के िलए उपलब्ध होने के विज्ञापन में  दिए गए मोबाइल पर संपर्क िकया और आठ हजार रुपए डायनिंग टेबल खरीदने का सौदा िकया। आरोपी ने ऑनलाइन पेमेंट भेजने के लिए शीतल को एक लिंक भेजी। शीतल ने जैसे ही आटोपी नंबर उसे बताया, उसके खाते से 96 हजार रुपए निकाल लिए गए। यह बात 18 नवंबर 2021 की है। घटना के तत्काल बाद मामले की शिकायत संबंधित बैंक, साइबर टीम और पुलिस से की गई, लेकिन जांच-पड़ताल का हवाला देकर मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया था। घटना के लगभग 9 माह बाद शुक्रवार को प्रकरण दर्ज िकया गया है, लेकिन इतने माह बीतने के बाद भी आरोपी का कोई सुराग नहीं िमला है।