चंद्रकांत पाटील की मांग: केंद्रीय गृह मंत्री शाह पर आशंका जताने वाले पटोले के खिलाफ दर्ज हो मामला

January 8th, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पंजाब के दौरे के दौरान सुरक्षा में हुई चूक की घटना को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर  आशंका जताने वाले प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष नाना पटोले के खिलाफ भाजपा आक्रामक हो गई है। शुक्रवार को प्रदेश भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील ने शाह को लेकर दिए गए बयान पर पटोले के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग की है। इसके पहले गुरुवार को पटोले ने कहा था कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक के पीछे कहीं शाह का हाथ तो नहीं है? क्योंकि प्रधानमंत्री की सुरक्षा व्यवस्था देखने वाली एसपीजी शाह के मंत्रालय के अधीन आती है। इस पर शुक्रवार को पाटील ने कहा कि देश की सुरक्षा के मुद्दे पर पटोले जानबूझकर लोगों को भ्रमित कर रहे हैं। इसलिए भाजपा के कार्यकर्ता हर गांव में अपने पास के पुलिस स्टेशन में पटोले के खिलाफ शिकायत दर्ज कराएंगे। पाटील ने कहा कि मोदी की सुरक्षा में चूक की घटना की जांच शुरू है। ऐसी स्थिति में पटोले इस घटना को नौटंकी करार दे रहे हैं। वह इस घटना के पीछे शाह का हाथ होने की आशंका व्यक्त कर रहे हैं। उनकी कोशिश जांच की दिशा को भटकाने वाली है। 

मैं भाजपा के खिलाफ बोलता रहूंगा- पटोले 

पाटील के बयान पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पटोले ने जवाबी हमला बोला है। पटोले ने कहा कि यदि मेरे खिलाफ पुलिस में शिकायत होती है तो भी मैं प्रधानमंत्री पद की गरिमा के स्तर को कम करने वाली भाजपा के खिलाफ बोलता रहूंगा। पटोले ने दावा किया कि पंजाब की घटना के लिए के लिए केंद्रीय सुरक्षा एजेंसी जिम्मेदार है। प्रधानमंत्री जिस सड़क से जाने वाले हैं वहां पर भाजपा के कार्यकर्ता कैसे पहुंच गए थे? इसका जवाब भाजपा को देना चाहिए। 

राबड़ी देवी राक्षस का नाम नहीं- पाटील

भाजपा नेता चंद्रकांत पाटील ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की पत्नी रश्मी ठाकरे के खिलाफ ट्वीट करने वाले भाजपा के सोशल मीडिया कोआर्डिनेटर जितने गजरिया को मुंबई पुलिस की साइबर सेल द्वारा जांच के लिए बुलाए जाने पर सवाल खड़े किए हैं। पाटील ने कहा कि गजरिया ने रश्मी की तुलना बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी से की है। राबड़ी देवी कोई राक्षस का नाम नहीं है। वह बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री तथा आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की पत्नी हैं। पाटील ने कहा कि गजरिया के खिलाफ हुई कार्रवाई से हम सीख गए हैं कि भाजपा जब सत्ता में लौटेगी तब विपक्ष के कार्यकर्ताओं को कैसे जलील करना है। 
 

खबरें और भी हैं...