दैनिक भास्कर हिंदी: लुटेरों ने बनाया साधुओं का भेष, मॉर्निंग वाक पर निकले वकील को लूटा

January 28th, 2019

डिजिटल डेस्क, छतरपुर। मॉर्निंग वॉक पर निकले वकील को कलेक्ट्रेट के सामने साधु वेशधारी लुटेरों ने लूट लिया। इस घटना को कलेक्ट्रेट के सामने अंजाम दिया गया। घटना स्थल के पास ही एडीशनल एसपी का निवास होने के कारण लूट का शिकार हुए वकील उनके निवास पर पहुंचे, इस पर एडीशनल एसपी ने तत्काल पुलिस को सक्रिय किया और लुटेरों को सामान के साथ गिरफ्तार कर लिया।

कार में सवार थे लुटेरे
बिजावर नाका पर निवासरत एडवोकेट जेपी बसेड़िया सुबह रोजाना की तरह मॉर्निंग वाक पर निकले। जब वह मॉर्निंग वाक से वापिस अपने घर जा रहे थे तो एक कार पर सवार होकर पहुंचे साधुओं ने उन्हें घेर लिया। जबरन उनका हाथ देखना शुरू कर दिया, जब तक एडवोकेट बसेड़िया कुछ समझ पाते साधु वेशधारी लुटेरे उनकी अंगुली से सोने की अंगूठी, जिसमें पुखराज लगा हुआ था निकालकर भागने लगे। पहले तो बसेड़िया द्वारा शोर मचाना शुरू किया, लेकिन वहां आसपास कोई नजर न आने पर वे पास में ही स्थित एडीशनल एसपी जयराज कुबेर के बंगले पर पहुंच गए। इधर लुटेरे कार पार सवार होकर भाग निकले।

एडीशनल एसपी को  दी जानकारी
एडवोकेट जेपी बसेड़िया ने पूरी घटना एडीशनल एसपी को बताई। इस पर एडीशनल एसपी ने वायरलेस पर मैसेज किया। पुलिस को अलर्ट किया। दो स्थानों पर पुलिस ने इस कार को रोकने का प्रयास किया लेकिन वे नाकाबंदी तोड़कर भाग निकले। करीब डेढ़ घंटे तक पुलिस ने इन लुटेरों को पकड़ लिया। घटना सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र की होने के कारण इन लुटेरों को सिटी कोतवाली पुलिस के हवाले कर दिया गया। इनके खिलाफ लूट का मामला दर्ज किया गया।

अवकाश पर गए मुख्य निर्देशक से छीना प्रभार
नौगांव संचालित आंगनबाड़ी कार्यकर्ता प्रशिक्षण केंद्र के मुख्य निर्देशक को अवकाश पर जाना महंगा पड़ गया है। उनके अवकाश पर जाने के दौरान जिला कार्यक्रम अधिकारी द्वारा प्रभार पोषण विकास अधिकारी को सौंप दिया। अब वे इन्हें दोबारा प्रभार नहीं देना चाहते हैं। उनके प्रभार को अवैधानिक रूप से छीनने के मामले को विधानसभा चुनाव के दौरान आचार संहिता के उल्लंघन पर जिला कार्यक्रम अधिकारी और पोषण विकास अधिकारी को सागर अटैच किए जाने से जोड़कर देखा जा रहा है। इस मामले में प्रभारी मंत्री का कहना है कि वे मामले में कलेक्टर से चर्चा करेंगे।

 

खबरें और भी हैं...